विज्ञापन

विज्ञापन

Saturday, May 9, 2020

माँ 

ममता की मूरत तू है 

ममता की सूरत तू है 

ममता की सागर तू है 

ममता की आंचल तू है 

ममता तेरे हृदय में है 

माँ तू है बड़ी महान. 

 

माँ तू कितनी अच्छी हो 

माँ तू कितनी भोली हो 

माँ मैं यशगान गाऊं 

तू मुझे ममता की छाँव दे 

मैं तेरे चरणों का दास 

तू मेरी मइया महान. 

 

- सूर्यदीप कुशवाहा 

No comments:

Post a Comment