विज्ञापन

विज्ञापन

Tuesday, May 12, 2020

पांच लोगों की मौजूदगी में पांचाल घाट पर युवक का किया गया अंतिम संस्कार




अहमदाबाद से मृतक युवक का शव पाली नगर पहुंचा 

 

हरदोई।(अयोध्या टाइम्स),पाली कस्बे के एक युवक की तीन दिन पूर्व अहमदाबाद में मौत हो गई । उसकी मौत को लेकर तरह तरह की बातें की जा रही हैं। हालांकि इसी बीच युवक की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट भी सोशल मीडिया में वायरल हो गई । इसको देखते हुए हरदोई का जिला प्रशासन काफी सतर्क हो गया । सोमवार की भोर पहर सरसई बॉर्डर पर तैनात पाली पुलिस ने अहमदाबाद से युवक के शव को लेकर आई एंबुलेंस को हरदोई की सीमा के अंदर नहीं आने दिया । वही जब इसकी जानकारी अल्लाहगंज पुलिस को ही तो वहां की पुलिस ने भी उसे वापस हुल्लापुर की ओर आने से रोक दिया । जिसकी वजह से एंबुलेंस और उसमें मौजूद युवक का शव 2 घंटे तक दोनों जिलों की सीमा में फंसा रहा। फिलहाल हरदोई प्रशासन की पहल पर शाहजहांपुर-फर्रुखाबाद प्रशासन ने एंबुलेंस को घटियाघाट जाने की इजाजत दे दी ।  5 लोगों की मौजूदगी में युवक के शव का घटियाघाट में अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान स्वास्थ्य,पुलिस और राजस्व टीम के अधिकारी मौजूद रहे ।

ज्ञातव्य हो कि पाली नगर के मोहल्ला रामनगर के एक युवक की अहमदाबाद में इलाज के दौरान मौत हो गई । परिजन उसकी मौत ब्रेन हेमरेज से बता रहे हैं, लेकिन युवक की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद प्रशासन सतर्क हो गया । स्थानीय लोगों की मांग को देखते हुए जिला प्रशासन के निर्देश पर पुलिस ने सरसई बॉर्डर को सील कर दिया, ताकि अहमदाबाद से एंबुलेंस से आ रहे युवक के शव को हरदोई की सीमा में प्रवेश न करने दिया जाए। सोमवार की भोर पहर जब युवक का शव लेकर एंबुलेंस अहमदाबाद से सरसई बॉर्डर पर पहुंची, तो वहां मौजूद पाली पुलिस ने एंबुलेंस को रोक दिया। उधर इसकी जानकारी शाहजहांपुर और फर्रुखाबाद जिला प्रशासन को भी हो गई । इन दोनों जिलों के अधिकारियों ने एंबुलेंस में मौजूद कथित तौर पर कोरोना पॉजिटिव युवक के शव को फर्रुखाबाद और शाहजहांपुर की ओर आने से मना कर दिया।  जिससे इन तीनों जिलों के बीच फंसी एंबुलेंस तकरीबन 2 घंटे इसी विवाद में उलझी रही । आखिरकार युवक के परिजनों की गुहार पर हरदोई जिला प्रशासन ने दोनों जिलों के प्रशासनिक अधिकारियों से वार्ता करने के बाद शव को फर्रुखाबाद के घटियाघाट जाने की इजाजत दे दी गई । घटियाघाट पहुंचकर युवक के शव का 5 लोगों की मौजूदगी में अंतिम संस्कार किया गया । हालांकि इस दौरान स्वास्थ्य, पुलिस और राजस्व टीम के लोग भी मौजूद रहे । अंतिम संस्कार के तत्काल बाद अहमदाबाद से आई एंबुलेंस को वापस कर दिया गया, और हरदोई प्रशासन की दो एंबुलेंस से पांचो लोगों को हरदोई भेज दिया गया । एसडीएम मनोज कुमार सागर ने बताया कि युवक के शव के साथ आए एक अन्य युवक के अलावा युवक के चार परिजनों को हरदोई के सीएसएन डिग्री कॉलेज में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में 14 दिनों के लिए भर्ती किया गया है।


 

 



 

No comments:

Post a Comment