फर्जी वसीयत मुकदमे का मामला सामने नजर आया






*उत्तर प्रदेश विशेष संवाददाता:-जितेंद्र सिंह अन्नू*

उत्तर प्रदेश बाराबंकी

 मामा शकुनी बन कर सगे भाइयों में डलवाई फुट एवं फर्जी वसीयत व मुकदमे भी अपनी साजिशों के द्वारा भाइयों में करवाई आइए देखते हैं  पूरी रिपोर्ट

जनपद बाराबंकी के देवा थाना के अंतर्गत नगर पंचायत देवा मोहल्ला हुज्जाजी पूर्वी 2 के निवासी शान वारिस पिता स्वर्गीय सुल्तान अहमद द्वारा

 फर्जी वसीयत मुकदमे का मामला सामने नजर आया जिसमें अपने

 मामा संग सगा भाई शान वारिस करीब 3 वर्ष से अपने ही सगे भाइयों को फर्जी वसीयत  एवं मुकदमों से करता है परेशान जिससे पीड़ित भाइयों को दर-दर भटकना पड़ रहा है कभी न्यायालय का दरवाजा खटखटा रहे हैं तो कभी पुलिस प्रशासन  से लगाते हैं  न्याय की गुहार 

वहीं दूसरी ओर विपक्ष अपनी दबंगई से पीड़ित परिवार को करते हैं परेशान और शासन प्रशासन का मजाक उड़ाते दिख रहे हैं विपक्ष यह साजिश पिता के मरणोपरांत  कर रहे हैं जबकि पिता सुल्तान अहमद अपने जीवन काल में ही  कोर्ट से  रजिस्टर्ड वसीयत करके  सभी भाइयों को अपने हक के बराबर  हिस्सा  बांट दिया था दिनांक  1/9/2015 को  किन्तु उसके कुछ ही दिन बाद 22/9/2015 को उनकी मृत्यु हो गई थी  वही अपने मामा के साथ मिलकर शान वारिस कर रहा है  बड़े भाई मोहम्मद उस्मान एवं दोनों भाई को परेशान और धमकी भी देता है  कि जितनी भी चल अचल संपत्ति है  उसका मालिक  अकेला  मैं ही रहूंगा   और मेरा कोई भी कुछ नहीं कर पायेगा  

  अब देखना होगा कि पीड़ित व्यक्तियों को कब मिलता है न्याय


 

 



 



Comments