विज्ञापन

विज्ञापन

Wednesday, May 13, 2020

गुरुवार तक घरों में ही कैद रहेंगे शाहाबाद के वाशिंदे






शाहाबाद (हरदोई)।(अयोध्या टाइम्स)शाहाबाद में तीन दिन के लिए मंगलवार से गुरुवार तक के लिए पूर्ण लॉक डाउन है।यह स्थिति तब उत्पन्न जब शाहाबाद में गुजरात से लौटे दो श्रमिक कोरोना पॉजिटिव निकले। दोनों ही शनिवार को आए थे, रविवार को उनका सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया था। पॉजिटिव रिपोर्ट आते ही हड़कंप मच गया। एसडीएम शाहाबाद अतुल प्रकाश श्रीवास्तव के निर्देश पर पुलिस ने पूरे मुहल्ले को सील कर दिया। जिला मुख्यालय की टीम उन्हें उपचार के लिए बख़्शी तालाब  लखनऊ ले गई। एसपी अमित कुमार ने शाहाबाद पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया।

प्राप्त विवरण के अनुसार

शाहाबाद के मुहल्ला अल्लाहपुर सैदीखेल निवासी श्रमिक गुजरात की एक स्टील फैक्ट्री में काम करते थे। शनिवार को पांच लोग पैदल, मेटाडोर आदि साधनों से किसी तरह घर आए थे, लेकिन इन लोगों ने स्वास्थ्य विभाग को सूचना नहीं दी थी। सीएचसी के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ प्रवीण दीक्षित को किसी तरह जानकारी मिली तो उन्होंने आनन-फानन में श्रमिकों के घर का पता लगाकर स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ इनके घर जाकर पड़ताल की। थर्मल स्कैनिग में फीवर की पुष्टि न होने और बुखार-खांसी के लक्षण न होने के बाद भी सभी पांचों श्रमिकों को जांच के लिए जिला अस्पताल भेजा था। जहां इन लोगों का सैंपल लेने के बाद इन्हें वापस घर भेज दिया गया था। सोमवार रात पांच श्रमिकों में से दो की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के उपरांत हड़कंप मच गया और रात में ही एसडीएम अतुल प्रकाश श्रीवास्तव, सीओ उमाशंकर सिंह, सीएचसी के प्रभारी चिकत्साधिकारी डॉ प्रवीण दीक्षित, कोतवाल महेश चंद पांडे समेत सभी अधिकारी मौके पर पहुंच गए और दोनों श्रमिकों को पहले क्वारंटाइन सेंटर खलील लाया गया। जहां से रात में ही उन्हें लखनऊ भेज दिया गया।स्थानीय प्रशासन ने नगर में तीन दिन का पूर्ण लॉक डाउन घोषित कर सफाई निरीक्षक दीपक कुमार को नगर को सेनेटाइज करने के निर्देश दिए।

प्रशासन ने अल्लाहपुर सैदीखेल को हॉटस्पॉट घोषित कर सील कर दिया। पूरे मुहल्ले में सभी दुकानें पूर्ण रूप से बंद कर दी गई। तीन किलोमीटर क्षेत्र में जांच कराई जा रही है। पुलिस की गस्त बढ़ा दी गई है।एसडीएम ने बताया अग्रिम आदेशों तक मेडिकल स्टोर को छोड़कर नगर की सभी दुकानें पूर्ण रूप से बंद रहेंगी। बैंकों व भारतीय जीवन बीमा निगम आदि कार्यालयों को भी बंद करा दिया गया।

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी चिकत्साधिकारी डॉ. प्रवीण दीक्षित ने बताया कि श्रमिकों के संपर्क में आए उनके परिजनों और पड़ोसियों समेत 16 लोगों को जांच के लिए आइसोलेशन वार्ड भेजा गया है। जहां सभी लोगों का सैंपल लिया जाएगा।यह पता लगाया जा रहा है कि इन दोनों श्रमिकों के संपर्क में और कौन-कौन लोग आए थे। डॉ दीक्षित ने बताया कि दूसरे प्रांतों से अपने संसाधनों से घर आए लोग स्वयं सीएचसी पहुंचकर अपनी जांच कराएं। यदि ऐसा कोई व्यक्ति जो बाहर से आया है और अपनी जांच नहीं करवाता है तो उसके विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी।


 

 



 



No comments:

Post a Comment