Posts

Showing posts from October, 2021

**दीपावली**

दीपावली का त्यौहार आया          खुशियों का बहार लाया  अपनों का साथ और प्यार लाया   सुख समृद्धि का बहार लाया दीपावली का त्यौहार आया हर चेहरे पर मुस्कान लाया घर आंगन को दीपों से सजाया दीए जलाकर रोशनी फैलाया दीपावली का त्यौहार आया मिठाई,पटाखों से  हर्षोल्लास के साथ दीपावली पर्व मनाया दीपावली का त्यौहार आया          प्रस्तुति       कृष्णा चौहान   अमेरी,तह.-बरमकेला

# दावत #

हमारे गाँव में एक बुड्ढे थे जिनका नाम बनी सिंह था ।जब मैंने उन्हें पहली बार देखा तब में सिर्फ दस साल का हूँगा । लोग उनकें बारे में बहुत भला बुरा कहते थे और वास्तव में वे थे भी बहुत बूरे ।उनके बारे में एक बात तो प्रचलित थीं कि जब उनका परिवार साजे में रहता था तो वही अपने सभी भाईयों में मुखिया थे और उनके भाई उनपर आंख बंद कर के विश्वास करते थे ।एक दिन सभी भाईयों ने मिलकर छ बिघा जमीन खरीदी और बेनामा कराने सभी भाईयों ने बनीं सिंह जो मुखिया थे उन्हें तहसील भेज दिया और कोई भी भाई उनके साथ नहीं गया|बनी सिंह ने बिना किसी को बताए तीन बिघा जमीन अपने नाम करा ली और घर आकर कह दिया कि मैं पिता जी के नाम बेनामा करा आया ।सभी ने कहा चलो अच्छा है, आखिर छ बिघा जमीन खरीद ली चलो बच्चों के काम आएगी|दिन धीरे धीरे बितते चले गए।ये तीन भाई थे|एक दिन बीच वाला जिसका नाम राज सिंह था कही गया और फिर कभी लौटकर नहीं आया।उसके तीन लडके और दो लडकियाँ थी।एक लड़का पन्द्रहा साल जिसका नाम मुकेश था, दूसरा धर्मेश जो बारहा साल और तीसरा टिन्नू जो लगभग दस साल का था और दोनों लडकियाँ लता और रेखा और भी छोटी थी। अब बच्चे तो सभी लगभग छो

नए आविष्कारों और नवाचार परिस्थितिकी तंत्र को मज़बूत करने उद्योग, विश्वविद्यालयों और सरकार को सार्वजनिक निजी भागीदारी में एक साथ काम करना ज़रूरी

भारत को तात्कालिक आत्मनिर्भर बनाने अनेकता में एकता, एक और एक ग्यारह कहावतें धरातल पर उतारने उद्योग, विश्वविद्यालयों और सरकार में सार्वजनिक निजी भागीदारी ज़रूरी - एड किशन भावनानी गोंदिया - भारत में वर्तमान समय में कोविड महामारी के मौजूद रहने के बीच अति सावधानी, प्रोटोकाल का पालन करते हुए और ज़ज़बे जांबाज़ी के साथ दीपावली का पर्व मनाने की तैयारियां, खरेदी, बाजारों ने भीड़ भाड़ देखने को मिल रही है, जिसके लिए भारतीय नागरिक पिछले साल से तरस रहे थे। इस माहौल के बीच आत्मनिर्भर भारत बनाने की भी बार-बार हर मौके पर गूंज होती है। हमारे माननीय पीएम महोदय भी करीब-करीब हर संबोधन में वोकल फॉर लोकल के लिए अपील करते हुए देखे गए हैं। आत्मनिर्भर भारत हो भी क्यों ना!!! यह हमारे हर भारतीय के लिए एक गर्व, सीना चौड़ा करने वाली बात है !!! परंतु साथियों इसको कामयाब बनाने के लिए, भारत में प्रचलित कहावतें है, अनेकता में एकता, एक और एक ग्यारह को वास्तविक धरातल पर लाकर क्रियान्वयन करना होगा!! साथियों बाद अगर हम, एक और एक ग्यारह, कहावत की करें तो हम इसमें उद्योग, विश्वविद्यालयों और सरकार को शामिल कर तीनों की ताकत क

तेज़ी से फ़लफूल रहा झोलाझाप डॉक्टर का गोरख धंधा

Image
अलीगंज/एटा। आज हमारे देश प्रदेश में झोलाछाप डॉक्टरों की बाढ़ सी आ गयी है ऐसे में एथिकल व अच्छे डॉक्टरों को स्वास्थ्य सेवा देने का मौका ही नही मिल पा रहा है। ऐसा ही एक मामला थाना क्षेत्र के अंर्तगत देखने को मिला है जहां एक झोलाछाप डॉक्टर अबैध व मानक विहीन क्लीनिक बनाकर अपना गोरख धंधा बहुत ही तेजी से चला रहा है। सूत्रों से मिली जानकारी के  मुताबिक़ थाना क्षेत्र के मोहल्ला गही अलीगंज कस्बा में एल एस मेमोरियल क्लीनिक के नाम से मानक विहीन व अबैध रूप से एक क्लीनिक चलाया जा रहा है जहां पर क्लीनिक के मालिक झोलाछाप डॉ मानवेन्द्र सिंह का दावा है कि हर मरीज की पुरानी से पुरानी बीमारी की दवा गारंटी से दी जाती है और ऑनलाइन भी मरीज ठीक किये जाते हैं। सही मायने में देखें तो भोले भाले गरीब लोगों की जेब काटी जाती है। आपको बता दें इस क्लीनिक के मालिक झोलाछाप डॉ मानवेन्द्र सिंह बहुत ही शातिर व चालाक किस्म का व्यक्ति हैं जो कि स्वास्थ्य विभाग को चकमा दे मानक विहीन अबैध रूप से पूरा क्लीनिक बनाकर सरकार व स्वास्थ्य विभाग की आंखों में धूल झोंक रहा है और गरीब जनता को इस महामारी में दौर में लूट व पेट काट रहा है।

तेज़ी से फ़लफूल रहा झोलाझाप डॉक्टर का गोरख धंधा

Image
अलीगंज/एटा। आज हमारे देश प्रदेश में झोलाछाप डॉक्टरों की बाढ़ सी आ गयी है ऐसे में एथिकल व अच्छे डॉक्टरों को स्वास्थ्य सेवा देने का मौका ही नही मिल पा रहा है। ऐसा ही एक मामला थाना क्षेत्र के अंर्तगत देखने को मिला है जहां एक झोलाछाप डॉक्टर अबैध व मानक विहीन क्लीनिक बनाकर अपना गोरख धंधा बहुत ही तेजी से चला रहा है। सूत्रों से मिली जानकारी के  मुताबिक़ थाना क्षेत्र के मोहल्ला गही अलीगंज कस्बा में एल एस मेमोरियल क्लीनिक के नाम से मानक विहीन व अबैध रू प से एक क्लीनिक चलाया जा रहा है जहां पर क्लीनिक के मालिक झोलाछाप डॉ मानवेन्द्र सिंह का दावा है कि हर मरीज की पुरानी से पुरानी बीमारी की दवा गारंटी से दी जाती है और ऑनलाइन भी मरीज ठीक किये जाते हैं। सही मायने में देखें तो भोले भाले गरीब लोगों की जेब काटी जाती है। आपको बता दें इस क्लीनिक के मालिक झोलाछाप डॉ मानवेन्द्र सिंह बहुत ही शातिर व चालाक किस्म का व्यक्ति हैं जो कि स्वास्थ्य विभाग को चकमा दे मानक विहीन अबैध रूप से पूरा क्लीनिक बनाकर सरकार व स्वास्थ्य विभाग की आंखों में धूल झोंक रहा है और गरीब जनता को इस महामारी में दौर में लूट व पेट काट रहा है।

केस्को में लंबे समय से एक ही सीट पर डटे हैं अधिकारी

     पत्रकार राकेश डंग          दैनिक समाचार पत्रों में स्थानांतरण नीति को लेकर कई बार प्रकाशित करने के बाद 9 अधिशासी अभियंता इधर से उधर किए गए पर अभी भी कई सहायक अभियंता और अवर अभियंता अभी भी लंबे समय से एक ही सीट पर डटे हैं और कुछ अधिकारी सहायक अभियंता पद पर हैं वह वर्तमान में अधिशासी अभियंता का कार्य दिया है तो क्या केस्को की इसी तरह मनमानी होती रहेगी और स्थान तरण नीत को अनदेखा  किया जा रहा है

सीएससी केन्द्रों पर मनाया गया महात्मा गांधी जयंती : अवनीश कुमार श्रीवास्तव

ब्यूरो, अयोध्या टाइम्स महराजगंज। आज 2 अक्टूबर को पूज्य राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के ग्राम-स्वराज के विजन अन्तर्गत *जल शक्ति मंत्रालय* द्वारा प्रायोजित  *पानी समिति* के सदस्यों के साथ *प्रधानमंत्री जी* द्वारा लाईव संवाद किया गया। जिसका स्थानीय ग्राम सभा के पानी समिति के सदस्यों  समेत नागरिकों को आमंत्रित कर उपरोक्त कार्यक्रम का सीधा प्रसारण जिले के सभी कॉमन सर्विस केन्द्रों के माध्यम से किया गया।   कार्यक्रम में प्रधानमंत्री के द्वारा आम जनमानस की पानी की समस्याओं को दूर करने के लिए योजनाएं चलाई जाने की बात कही गई जिसमें  ग्रामीण क्षेत्रों में पीने के पानी को स्वच्छ बनाने हेतु चर्चा किया गया। प्रधानमंत्री जी द्वारा बताया गया कि अस्वच्छ पानी की वजह से प्रकार  की बीमारियां फैल रही हैं जिसको दूर करना हम सब का कर्तव्य है। साथ ही प्रधानमंत्री के द्वारा पानी समिति के सदस्यों से भी चर्चा की गई  एवं ऐसे स्थानीय समाजसेवियों की प्रशंसा की गई जिन्होंने कोरोना महामारी के समय जनता की सहयोग के लिए आगे आए एवं प्रत्येक घर  में पानी की टोटी लगाने का प्रयास किया।   जिला महराजगंज के जिला प्रबंधक अवनीश कुम

गांधी की शिक्षाएं व सन्देश आज भी प्रासंगिक :- बोहरा

गांधी जयंती पर विद्यालय में हुआ पौधारोपण,   एक घर एक पौधा अभियान में लगाएं 51 पौधे बाड़मेर । 02.10.2021। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जन्म शताब्दी एवं सादगी के प्रतीक पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती उपलक्ष में राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय सांसियों का तला में शनिवार को प्रधानाध्यापिका गुंजन आचार्य एवं एक घर एक पौधा अभियान के प्रेरक मुकेश बोहरा अमन के नेतृत्व में अभियान के तहत् गांधी ईको वाटिका में अलग-अलग किस्म में 51 पौधे लगाएं गए । तथा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को याद किया गया । विद्यालय प्रधानाध्यापिका गुंजन आचार्य ने कहा कि विद्यालय परिसर को हरा-भरा बनाने को लेकर बड़ी तादाद में पेड़-पौधे लगाएं गए है । जिनकी समय-समय पर उचित देखभाल की जा रही है । जिसका परिणाम है कि सांसियों का तला विद्यालय में आज हरियाली खुलकर नजर आ रही है । एक घर एक पौधा अभियान के प्रेरक मुकेश बोहरा अमन ने कहा कि महात्मा गांधी की शिक्षाएं व सन्देश आज भी सम्पूर्ण विश्व में पहले से भी अधिक प्रासंगिक साबित हो रहे है । अमन ने कहा कि महात्मा गांधी ने हमेशा सत