विज्ञापन

विज्ञापन

Tuesday, March 31, 2020

कोरोना का कहर

कोरोना के कहर से कांप उठा संसार।

अब भी संभल जाओ दुनिया के लोगो,

वर्ना चारो और मच जाएगा हाहाकार।।

 

देशभक्ति की बाते करते - करते जो कभी नही थकते।

वही किसी के समझाने पर अपने घर क्यों नही रुकते।।

 

प्रशासन को सख्ती करने पर क्यों करते हो मजबूर।

कुछ दिन की बात है प्यारो,रह लो एक दूसरे से दूर।।

 

विकट विपदाओं के घेरे में भारत माता आज घिरी है।

संकट की घड़ी में एक - दूजे से दूरी ही आज भली है।।

 

आओ मिलकर पूरे विश्व को ऐसा कुछ कर दिखलाये।

पूरे  विश्व  मे  भारत  माता की जय जयकार हो जाये।।

 

बस  कुछ दिन घर रहकर अपने देश के काम आ जाओ।

दुनिया भर को गर्व तुम पर हो,ऐसा कुछ कर दिखलाओ।।

 

 

श्री सीताराम परिवार संस्था एवं सहायतार्थ फाउंडेशन  ने गरीब बेरोजगारों को कराया भोजन






पुष्पेंद्र सिंह ब्यूरो चीफ दैनिक अयोध्या टाइम्स लखनऊ

*मानवता की मिसाल,गरीबों का सहारा बना श्री सीताराम परिवार  संस्था एवं सहायतार्थ फाउंडेशन लॉक डाउन के दौरान श्री सीता राम परिवार के अध्यक्ष सनी साहू एवं सहायतार्थ फाउंडेशन के अध्यक्ष गौरव गुप्ता के साथ शिवम गुप्ता,सुगम पूरी,ईशान अवस्थी, रत्नेश सिंह,आशीष कश्यप, रविन्द्र गुप्ता,राहुल पांडेय, धीरज गुप्ता, हिमांशु गर्ग, नरेंद्र चौरसिया अर्पित, जीतप्रकाश गुप्ता रजनीश अवस्थी ने जरूरतमंदों को पहुंचाया खाना व राशन भूखे बेरोजगारों बेसहारा लोगों को लगातार बांट रहे हैं नौजवान  युवक खाना व राशन, बढ़-चढ़कर जरूरतमंदों की जरूरतों को पूरा कर रहे हैं और घर घर जाकर पहुँचाया राशन बालागंज, ठाकुरगंज,चौक ऐशबाग, राजाजीपुरम, सहादत गंज,सहित कई क्षेत्रों में पहुंच कर भूखे व ज़रूरतमंदों को बांट रहे हैं नौजवान युवक खाना।।


 

 



 



मसकनवा गोंडा।कोरोना संकट के दौरान गरीब व जरूरतमंद लोगों की सहायता के लिए समाजसेवी आगे आए






विकासखंड छपिया क्षेत्र के ग्राम पंचायत हथिनी के मजरा भोपतपुर, बनवारपुर,में आर्थिक संकट से जूझ रहे परिवारों के बीच राशन एवं खाने पीने की सामग्री का वितरण समाजसेवियों द्वारा किया गया। खाद्य सामाग्री वितरण करने वालों में मुख्य रूप से शामिल माँ दुर्गा इण्टर कॉलेज के प्रबंधक शिव प्रसाद वर्मा, समाजसेवी धीरेंद्र प्रताप सिंह उर्फ रिंकू सिंह,रामसुख वर्मा,विनोद,आशीष तिवारी, घनश्याम यादव, पत्रकार सतीश वर्मा ने गरीबों के बीच राशन का वितरण किया।क्षेत्र के लोगों ने बताया कि जो कार्य ग्राम प्रधान ने नही किया वह कार्य समाजसेवियों ने कर दिखाया है राशन वितरण कर गरीबों के आशीर्वाद लेने का काम समाजसेवियों ने ही किया है जो एक बड़ा कदम है। समाजसेवी धीरेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि जो परिवार मेहनत मजदूरी पर ही निर्भर था वो 21 दिन के लॉकडाउन पर परेशान हो चुका है। सरकार ने ऐसे स्थित में बड़ा कदम उठाकर राहत पैकेज की भी शुरुआत कर दी है। ऐसे में जो गरीब परिवार दाने-दाने के मोहताज हो चुके थे उन्हें खाने पीने के समाग्री उपलब्ध करा दिया गया है।

ऐसे में किसी भी गरीब परिवार को भूखे पेट नही सोने दिया जाएगा।


 

 



 



 कोरोना संदिग्ध को नहीं मिली एंबुलेंस, बाईक से ही आगरा ले गये परिजन




 पिनाहट  । मंगलवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पिनाहट पर खांसी,  सीने में तेज दर्द, गली में सांस लेने में तकलीफ की दवा लेने पहुंचा । युवक में  कोरोना वायरस जैसे लक्षण प्रतीत हो रहे थे। मामला संदिग्ध लगने पर डॉक्टरों ने युवक को आगरा रेफर कर दिया। परिजन करीब 1 घंटे तक एंबुलेंस के आने का इंतजार करते रहे ।  लेकिन 1 घंटे इंतजार बाद भी एंबुलेंस नहीं पहुंची तो परिजन युवक को बाईक से ही आगरा ले गए। 

      जानकारी के अनुसार थाना बसई अरेला क्षेत्र के गांव नगला भरी निवासी 27 वर्षीय युवक  पंजाब स्थित एक कंपनी में फाइनेंस का काम करता था ।लॉक डाउन के होने के चलते 24 मार्च  को पंजाब से अपने घर आया हुआ था। दो दिन पूर्व उसके सीने में हल्का सा दर्द , खांसी व गले में सांस लेने में तकलीफ हुई।मंगलवार सुबह  अचानक उसकी तबीयत बिगड़ गई। मंगलवार सुबह तड़के 8 बजे आशीष के परिजन उसे लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पिनाहट पहुंचे।युवक  ने डॉक्टरों को बताया कि वह पंजाब में एक प्राइवेट कंपनी में इंश्योरेंस का काम करता है। उसके सीने में तेज दर्द,  खांसी व सांस लेने में गले में तकलीफ हो रही है। मामला संदिग्ध लगने पार डॉक्टरों ने युवक को आगरा रेफर कर दिया। युवक के परिजन करीब 1 घंटे तक एंबुलेंस का इंतजार करते रहे। फोन लगाने के एक घंटे बाद भी एंबुलेंस नहीं पहुंची ।  युवक की स्थिति  बिगड़ने पार परिजन उसे बाइक पर ही आगरा ले गए। 

    वहीं इस मामले में डॉ लक्ष्मीनारायण वर्मा का कहना है कि मामला संदिग्ध है । युवक को सांस लेने में दिक्कत , खासी व सीने में तेज दर्द की शिकायत थी । उसे आगरा रेफर कर दिया है।


 

 



 

कोविड-19 महामारी के दुष्टिगत खाद्यान्न का वितरण 01 अप्रैल से किया जायेगा:-जिला पूर्ति अधिकारी





हरदोई-(अयोध्या टाइम्स) जिला पूर्ति अधिकारी संजय कुमार पाण्डेय ने अवगत कराया है कि कोविड-19 महामारी के दुष्टिगत माह अप्रैल 2020 में खाद्यान्न का वितरण 01 अप्रैल से किया जायेगा जिसमें समसत अन्त्योदय अन्न योजना के कार्डधारकों को उन्हें अनुमन्य खाद्यान्न का कोई मूल्य नही लिया जायेगा तथा उन पात्र गृहस्थी कार्डधारकों को अनुमन्य खाद्यान्न निःशुल्क दिया जायेगा जो मनरेगा जाबकार्ड धारक अथवा श्रम विभाग में पंजीकृत श्रमिक है अथवा नगर विकस विभाग में दिहाड़ी मजदूर है, के अन्तर्गत आने वाले पात्र गृहस्थी कार्डधारकों को निःशुल्क खाद्यान्न प्राप्त करने से पूर्व अपना मनरेगा जाब कार्ड नम्बर अथवा श्रम विभाग की पंजीकरण संख्या एवं नगर निकाय की पंजीकरण संख्या का प्रमाण देना होगा और निःशुल्क वितरण का विवरण उचित दर विक्रेता द्वारा निर्धारित प्रारूप पर अनुरक्षित किया जायेगा एवं ई-पास मशीनों में निःशुल्क लाभार्थियों को चिन्हांकित करने हेतु किये गये प्राविधान के अनुसार वितरण के समय फ्लैग किया जायेगा।
श्री पाण्डेय ने कहा है कि भारत सरकार द्वारा उद्घोषित समस्त लाभार्थियों को 03 माह का निःशुल्क खाद्यान्न एवं 01 किग्रा0 प्रतिकार्ड की दर से दाल का वितरण आवंटन प्राप्त होने के उपरान्त भारतीय खाद्य निगम से उठान कर अलग से वितरण किया जायेगा। कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत ई-पास से वितरण के समय अत्यन्त सजगता बरता जाना आवश्यक है और इसके लिए प्रत्येक उचित दर दुकान पर सेनिटाइजर/साबुन एवं पानी रखनें की व्यवस्था कराई जायेगी तथा प्रत्येक लाभार्थी एवं बिक्रेता के द्वारा हाथ घुलने के उपरान्त ही ई-पास मशीन का प्रयोग किया जायेगा और यथाशीघ्र अधिकतम उपभोक्ताओं को खाद्यान्न का वितरण हो जाये इसके लिए ई-पास मशीन की क्रियाशीलता के सम में वृद्वि करते हुए प्रातः 06 बजे से सायंकाल 09 बजे तक के लिए क्रियाशील किया जा रहा हैं। उन्होने कहा कि जनपद के समसत नगर क्षेत्र की उचित दर दुकानों पर होम डिलीवरी हेु प्रातः 07 बजे से 09 बजे तक कार्डधारकों/उनके परिजनों के द्वारा खाद्यान्न बुक कराये जाने हेतु अवगत करा दिया गया है और कार्ड धारक अपनी सुविधा के दृष्टिगत बुकिंग के अनुसार उचित दर विके्रताओं को डोर टू डोर खाद्यान्न पहुंचाने की व्यवस्था की गयी है तथा ग्रामीण क्षेत्र के उचित दर विक्रेतावार विवरण हेतु नोडल अधिकारी नियुक्त किये गये है जो यथा सम्भव होम डिलीवरी की व्यवस्था के अनुसार खाद्यान्न उपलब्ध कराये जाने की व्यवस्था की गयी है


 

 



 



कोरोनावायरस के बचाव के लिए अभिभावकों से अपील सरकार द्वारा निर्देशों का पूरी तरह पालन करें:जमाल फात्मा

दैनिक अयोध्या टाइम्स संवाददाता,रामपुर-राजकीय खुर्शीद कन्या इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्य जमाल फात्मा ने कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव के लिए अभिभावकों से अपील की है कि वे स्वयं तथा अपने परिवार को इस संक्रमण से बचाने के लिए सरकार द्वारा दिए जा रहे निर्देशों का पूरी तरह पालन करें। इस वैश्विक महामारी से बचाव के लिए सबसे बेहतर तरीका यही है कि हम सरकार द्वारा जारी बचाव संबंधी निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन कर सकें। उन्होंने कहा कि विद्यालय बंद कर दिए गए हैं क्योंकि विद्यालयों में बच्चे एकत्रित होंगे और इससे संक्रमण का खतरा बना रहेगा इसके अलावा सरकार ने 21 दिन का पूरे देश में लॉक डाउन लगाया है यह सारे कदम हमारे देश के नागरिकों की बेहतरी के लिए ही उठाए जा रहे हैं। यह बीमारी एक आदमी से दूसरे आदमी में पहुंचती है इसे हराने के लिए हमें सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखना होगा। भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचना होगा। जिला प्रशासन द्वारा जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति के लिए होम डिलीवरी की बेहतरीन व्यवस्था कराई गई है इसलिए अभिभावक फोन करके जरूरी सामग्री घर पर मंगा सकते हैं पर अपनी और अपने परिवार की बेहतरी के लिए घर से बाहर न निकले। यह परीक्षा की घड़ी है इसे पास कर लीजिए और सब्र से काम करिए। उन्होंने कहा कि नवरात्रि के दौरान घर में ही पूजा-अर्चना करें। नमाज भी घर पर ही पढ़ ले। ईश्वर, अल्लाह दिलों का हाल जानने वाले हैं वहीं से आपके मन की बात जान लेंगे। सच्चे दिल से उन्हें याद करें,, स्वस्थ रहें, हाथ मिलाने से बचे और बार बार हाथ धोएं। अपने आसपास साफ सफाई रखें। कोरोना वायरस के संक्रमण पर विजय प्राप्त करने के लिए यही सबसे बेहतरीन माध्यम है।

ग्रामीण क्षेत्र के पत्रकारों ने सरकार से की मांग पत्रकारों के हित में उठाए सरकार ठोस कदम





हरदोई ।(अयोध्या टाइम्स) कोरोना वायरस की महामारी में ग्रामीण क्षेत्र के पत्रकार जीवन को संकट में डाल कर अपनी समस्या के लिए पत्रकारिता कर रहे हैं। संस्था व सरकार द्वारा इन अवैतनिक पत्रकारों को कोई परिश्रमिक नहीं दिया जाता है, क्योंकि संस्थाएं इन पत्रकारों को कोई अधिकृत प्रमाण पत्र नहीं देती हैं। संस्थाएं जमकर इनका शोषण करती हैं। जहां सरकार दैनिक कर्मियों, पटरी दुकानदारों, मनरेगा, जॉब कार्ड धारकों, राजमिस्त्री, हाँकर, बढ़ई, ईट भट्ठों पर कार्य करने वाले श्रमिकों, आदि को पंजीकृत श्रमिकों को सरकार द्वारा कोई न कोई सरकार की योजना से जोड़कर मुख्यधारा से जोड़ने का कार्य कर रही हैं। वहीं प्रदेश में बड़ी संख्या में अवैतनिक पत्रकारों को संस्था व सरकार द्वारा कोई सहायता व परिश्रमिक नहीं दिया जाता है। ऐसे में यह पत्रकार जुगाड़ से रोजी-रोटी यापन करते हैं। जो जुगाड़ सिस्टम में अपने को नहीं ढाल पाते हैं, वह परिवार के लिए मुसीबत हैं। पत्रकारिता के दौरान कोई जोखिम हो जाए, तब भी इनको कोई राहत नहीं मिलती है। ऐसे में इनके परिवार के सामने घोर संकट खड़ा हो जाता है। सामाजिक कार्यकर्ता क्षेत्रीय विकास जन आंदोलन के संयोजक रामखेलावन कनौजिया ने आर्थिक सुरक्षा व जीवन बीमा मुहैया कराए जाने की मांग की है। ज्ञात हो लगभग 80% पत्रकार अपनी संस्था के लिए अवैतनिक कार्य करते हैं।


 

 



 



सपा नेताओं ने दूसरे दिन गरीब, असहाय लोगों को वितरित किया भोजन



हरदोई।(अयोध्या टाइम्स)कोशिश एक पहल कोई भी भूखा ना रहे के चलते आज सपा नेता संजय कश्यप, मुकुल सिंह, रामज्ञान गुप्ता ने आज दूसरे दिन खुद भोजन बनाने में सहयोग करते हुए शहर में कई स्थानों, रानी कटियारी हास्पिटल, नुमाइश चोराहे पर जाकर भूख से जूझ रहे लोगों को भोजन देकर उनका सहारा बनने का काम किया। सपा नेताओं ने कहा कि एक छोटी सी कोशिश कर हम समाजवादी लोग अपने उन भूखे भाइयों व परिवारों तक रोटी पहुंचाने का काम कर रहे हैं। हम समाजवादी लोग ऐसे ही लगातार कई दिनों तक भोजन के पैकेट वितरण का काम करते रहेंगे। सपा नेताओं द्वारा ज़िला प्रशासन को 200 भोजन के पैकेट सौंपे गए। इस मौके पर मुकेश सिंह , सुधीर गुप्ता मिन्ना, अंकित सिंह मौजूद रहे।


 

 



 

कपिल शर्मा ने माफी न मांगी तो उनका वहिष्कार करेगा कायस्थ जागृति मंच



शाहाबाद(हरदोई)।(अयोध्या टाइम्स)कामेडी शो में कपिल शर्मा की ओर से भगवान श्रीचित्रगुप्त का मजाक उड़ानें पर अखिल भारतीय युवा कायस्थ जागृति मंच  ने विरोध जताया है। चेतावनी दी गई कि समाज से माफी नहीं मांगी तो उनके शो का बहिष्कार किया जाएगा। लॉकडाउन खुलने पर उनके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया जाएगा।
मंगलवार को कायस्थ जागृति मंच के पदाधिकारियों ने आपस में एक दूसरे से फोन पर चर्चा की। कहा कि कपिल शर्मा ने अपने कामेडी शो में शनिवार को कायस्थों के आराध्य भगवान श्री चित्रगुप्त जी का भद्दा मजाक किया।कायस्थ जागृति मंच द्वारा सामूहिक रूप से इसकी भर्त्सना की गई कि कपिल शर्मा ने अशोभनीय एवं शर्मनाक हरकत की है। कपिल शर्मा को अपनें इस कृत्य के लिए अगले एपिसोड में समस्त देशवासियों से माफी मांगे । फोन पर अपनी कमेटी के साथ कान्फ्रेंस करके चर्चा करनें वालों में युवा कायस्थ जागृति मंच के राष्ष्ट्रीय अध्यक्ष अनुराग श्रीवास्तव,संजीव श्रीवास्तव, सत्येन्द्र श्रीवास्तव, शिव वरदानी सक्सेना, आनन्द वीर श्रीवास्तव,राजेश श्रीवास्तव, अभिषेक श्रीवास्तव, अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष ओम प्रकाश श्रीवास्तव आदि शामिल रहे।


 

 



 

सदर विधायक नितिन अग्रवाल ने वितरित करवाई राहत सामग्री



हरदोई।(अयोध्या टाइम्स)कोविड-19 की भीषण त्रासदी व लॉकडाउन के मध्य सदर विधायक नितिन अग्रवाल द्वारा शहर में ज़रूरतमंद लोगों को राहत सामग्री दी गयी। आज कृष्ण नगरिया, लखनऊ रोड, ऊँचा थोक, राधा नगर व रेलवे गंज में सामग्री का वितरण हुआ और ये राहत सामग्री लॉकडाउन रहने तक इसी तरह शहर के हर वार्ड में ज़रूरतमंदों को वितरित होती रहेगी।हरदोई सदर विधायक पूर्व मंत्री नितिन अग्रवाल ने पार्टी कार्यकर्ताओं व समर्थकों का आग्रह किया कि वह जरूरतमंद लोगों की सेवा में युद्ध स्तर पर जुटे ।यदि कोई भी व्यक्ति भूखा देखें यह भूखा होने की जानकारी मिले तो तत्काल उसको भोजन उपलब्ध कराया जाए, इस मौके पर टिंकू त्रिवेदी, संजू शर्मा, अमित त्रिवेदी सभासद, प्रदीप पाठक, प्रकाश गुप्ता, प्रियम मिश्रा, सुशील गुप्ता, अमित दीक्षित, दीपू त्रिपाठी, भगवान शरण गुप्ता, आकाश पाठक, अंकित अवस्थी, सूरज राठौर,छोटू बनिया हिमांशु गुप्ता, लंकेश कश्यप, कल्लू रस्तोगी उपस्थित रहे।


 

 



 

कथावाचक ने की अपील कहा शासन और प्रशासन के निर्देशों का सभी करें पालन



हरदोई। (अयोध्या टाइम्स)कोविड-19 करो ना वायरस महामारी को देखते हुए शासन प्रशासन के साथ-साथ अब कथावाचक भी समाज को जागरूक करने की अपील करने लगे हैं जिससे लोग घरों से ना निकले


बताते चलें कि हरदोई के असला पुर धाम के कथावाचक व्यास अनूप ठाकुर ने सभी देशवासियों से अपील करते हुए कहा की हमारा देश कोरोनावायरस महामारी से जूझ रहा है और देश बड़े ही संकट में है ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संपूर्ण भारत को लाख डाउन कर रखा है जिसमें हम सभी के जीवन का सवाल है और अपने बहुमूल्य जीवन को बचाने के लिए आप सभी लोग घरों से बाहर ना निकले जिससे कुरौना वायरस महामारी से विजय प्राप्त की जा सके


उन्होंने कहा इटली चीन यूरोप काफी सक्षम देश थे लेकिन वहां के हालात क्या हैं आप लोग देख रहें कारण वहां पर पहले लापरवाही बरती गयी जिसका परिणाम आप सभी देख रहे हैं तथा आप सभी सरकार और डाक्टरो के निर्देशो का पालन करें लापरवाही बिल्कुल ना बरतें ज्यादा से ज्यादा पूजा पाठ करें और हमारे मीडिया कर्मी पुलिस डाक्टर नर्स जो अपनी जान जोखिम में डालकर हमारी सेवा कर रहे हैं उनके स्वस्थ रहने की महामायी से प्रार्थना करें।


 

 



 

यू जे इंटरनेशनल स्कूल ने शुरू की आनलाइन कक्षाएं



कछौना / हरदोई । (अयोध्या टाइम्स)लाकडाउन की वजह से छात्रों का अध्ययन जारी रखने के लिए यू जे इंटरनेशनल स्कूल ने आनलाइन कक्षाओं की शुरुआत पिछले हफ्ते से की है
उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस की वजह से जनपद के समस्त विद्यालयों में अवकाश चल रहा है। ऐसे में छात्रों का अहित न हो, इसलिए विद्यालय के अध्यापक संचार माध्यमों का उपयोग कर छात्रों को घर पर पढ़ा रहे हैं जिसकी अभिभावकों ने सराहना की है।
विद्यालय के प्रधानाचार्य जी पी मिश्र ने बताया कि नियमत: सभी छात्रों को आगे की कक्षाओं में प्रोन्नत कर दिया गया है। विद्यालय में वार्षिक परीक्षाओं के उपरांत अवकाश हो गया था। छात्रों के परीक्षा परिणाम तैयार कर लिए गए हैं तथा अवकाश समाप्त होते ही छात्रों को उपलब्ध करा दिए जाएंगे।इस बीच छात्रों की कक्षाओं का आयोजन उनके घर पर ही किया गया है।इन कक्षाओं में शत प्रतिशत छात्र उपस्थित हो रहे हैं।
अध्ययन अध्यापन के साथ ही अध्यापक छात्रों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के उपाय भी बताए जा रहे हैं।
विद्यालय के निदेशक शिवम् गुप्ता और अध्यक्ष जगदीश गुप्त ने इन कार्यक्रमों की सराहना की है।


 

 




 


मेडिकल हेल्प डेस्क मे 1734 लोगों का किया गया परीक्षण




मौदहा हमीरपुर।इस समय जब पूरा देश कोरोना जैसी भयावह बीमारी के विरुद्ध जंग लड रहा है पूरा देश तीन सप्ताह के लिए तालाबंदी कर दिया गया है।और लोगों को अपने अपने घरों में रहने की सलाह दी जा रही है।लेकिन इस बीच दो दिन पहले ही अचानक से हुए पलायन को देखते हुए सरकार ने कठोर कदम उठाने शुरू कर दिये हैं।और सरकार अपनी ओर से लोगों को अधिक से अधिक सुविधा उपलब्ध कराने का प्रयास कर रही है।विगत तीन दिनों से कस्बे के बडे चौराहे पर देश के विभिन्न औद्योगिक शहरों से पलायन कर आये 1202 लोगों के नाम पता दर्ज कर उन्हें उनके घर पहुंचाने में कोतवाली पुलिस द्वारा सहयोग किया गया है।जबकि कस्बे के बाहर स्व. सुंदर लाल शिवहरे महाविद्यालय मंकराव मे एक आश्रय स्थल बनाया गया है जहां पर देश के औद्योगिक शहरों से पलायन कर आये लोगों को दो सप्ताह तक रहने की भी व्यवस्था की गई है।जबकि अभी तक मंकराव मे बने मेडिकल हेल्प डेस्क मे  1734 लोगों का परीक्षण किया गया है।बताते चलें कि मौदहा विकास खण्ड के मौदहा कस्बे के नेशनल इण्टर कालेज में भी एक आश्रय स्थल बनाया गया है।लेकिन अभी तक वहां पर बाहरी लोगों को रोका नहीं गया है।जबकि सरकारी स्तर पर नेशनल कालेज में पहले से ही लोगों के ठहरने की व्यवस्था कर ली गई है।वहीं तहसीलदार मौदहा रामानुज शुक्ला ने बताया कि महाविद्यालय मंकराव मे अभी तक कुल 64 लोगों को ठहराया गया है और इनके रहने, खाने, और बच्चों के लिए दूध आदि की पूरी व्यवस्था की गई है।साथ ही समय समय पर इनके स्वास्थ्य परीक्षण के लिए मेडिकल डेस्क भी बनाई गई है।हमारा प्रयास है कि किसी को भी किसी प्रकार की परेशानी न होने पाये।इसके लिए नगरपालिका, कोतवाली पुलिस सहित राजस्व विभाग के कर्मचारी बराबर लगे हुए हैं।साथ ही मौदहा सीएचसी अधीक्षक डा.अनिल कुमार सचान भी बराबर मेडिकल स्टाफ के साथ सेवाएं उपलब्ध करा रहे हैं।एसडीएम मौदहा अजीत परेश और क्षेत्राधिकारी मौदहा सौम्या पाण्डेय लगातार कस्बे सहित क्षेत्र का दौरा कर लोगों को अधिक से अधिक सुविधाओं को उपलब्ध कराने का प्रयास कर रहे हैं।


 

 



 

कोरोना से बचने के लिए गांव में लगाया बैरियर




*विनय सिंह ब्यूरो चीफ बाराबंकी*

बाराबंकी विकासखंड सिद्धौर क्षेत्र के ग्राम पंचायत मीरापुर में कोरोना वायरस महामारी से बचने के लिए गांव वाले ने एक नई पहल की आपको बताते चलें की समाजसेवी द्वारा मीरापुर गांव में कोरोना से बचने के लिए रोड पर बैरियर लगाया और एक बोर्ड लगाया जिस बोर्ड में लिखा की बैरियर इसलिए लगाया गया है कि कोरोना महामारी से बचने के लिए बाहर के लोग गांव में ना आए ना तो गांव के लोग बाहर जाएं जिससे कोरोना वायरस कहीं भी फहले ना पाए मीरापुर गांव वालों की अच्छी पहल इस पहल में समाजसेवी संतोष कुमार चौरसिया ने कहा कि बैरियर इसलिए लगाया गया है कि कोई भी व्यक्ति बाहर का गांव में प्रवेश न कर पाए ना गांव का व्यक्ति न गांव के बाहर जाए जिससे कोरोना महामारी से बचा जा सके इसलिए हम अपने तमाम ग्राम वासियों से अपील करते हैं कि घर पर रहें घर से बाहर ना निकले घर पर रहेंगे स्वच्छ रहेंगे सुरक्षित रहेंगे  हम सब मिलकर कोरोना वायरस का खात्मा करेंगे इस मौके पर मोहम्मद अजमल  देशराज यादव जाहिद अली रामचंद्र कनौजिया  मौजूद रहे


 

 



 

अपराध करने पर लाठी चलाने वाली पुलिस भूख से मर रही जनता को खिला रही खाना

पुष्पेंद्र सिंह ब्यूरो चीफ दैनिक अयोध्या टाइम्स लखनऊ

 लखनऊ :- पूरे विश्व में कोरोना का कहर देख जनता में दहशत बैठ गई देश की जनता को बचाने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आगामी 14अप्रैल तक पूरे भारत में लाँकडाउन घोषित कर दिया जिसका अनुपालन पूरे भारत में किया जा रहा है बताता चलू कि राजधानी लखनऊ की पुलिस छवि  पर  जहां एक तरफ लगातार तरह-तरह के आरोपों के घेरे में रही पर आज जब आमजनता भूख और परेशानियों के विभिन्न घेरों में तो उसी लखनऊ पुलिस के हाथ लाठी की जगह खाने की थाली नजर आ रही गाली देने में मशहूर पुलिस घर पर खाने की खाली ही नही दवा सहित हर सम्भव मदद कर जनता के दिलों में अतुल्यनीय जगह बनाई है बेहद अफशोस के साथ लिखना पड़ रहा है कि जनता के वोट पर राज करने और बड़ी -बड़ी डींगें वाला एक भी नेता किसी भूखे मर रहे परिवार को खाना खिलाने,दवा देने और बुरे वक्त में साथ खड़ा होना तो दूर की बात हालचाल पूछने तक न पहुंचे पुलिस मशीहा है जिसकी ताजी बानगी इस तरह है कि थाना ठाकुरगंज क्षेत्र स्थित रिंगरोड और लालाबाग पुलिस चौकी क्षेत्र में जिन घरों में राशन नही है उन घरों को पुलिस  खाने का सामान और  राशन मुहैया करा रही है हमारे संवाददाता से बातचीत में चौकी इंचार्ज रिंगरोड  जगदीश पाण्डेय  ने  बताया कि हम खाकी वाले भी इंसान है और हम इंसान की परेशानियों और दर्द की समझते है इसलिए हम पुलिस वाले जनता की मदद कर रहे हैं उन्होंने बताया कि मानव का पहला धर्म है मानवता और हम सब पुलिस कर्मी उसी का पालन कर रहे हैं।वहीं भूहर चौकी इंचार्ज आर.सी.वरुण ने बताया कि भूख से परेशान जनता की जो मदद क्षेत्रीय सक्षम लोगों और पुलिस की मदद से की जा रही है जब हमारे संवाददाता ने पूछा कि लाठी वाले हाथ में खाने की थाली पर श्री वरुण ने कहा कि अपराधियों से पुलिस का सख्ती से निपटना और पीड़ित  लोगों की मदद करना हमारा फर्ज है।

 

एसपी द्वारा पुलिस विभाग से सेवा निवृत्त होने वाले पुलिस कर्मियों को स्मृति चिन्ह भेंट किया 

दैनिक अयोध्या टाइम्स संवाददाता,रामपुर-पुलिस अधीक्षक शगुन गौतम द्वारा पुलिस विभाग से सेवा निवृत्त होने वाले पुलिस कर्मियों के विदाई समारोह का आयोजन पुलिस कार्यालय,रामपुर में किया गया, जिसमें पुलिस विभाग से 04 पुलिस कर्मी अपनी अधिवर्षता आयु पूर्ण कर सेवानिवृत्त हुए हैं। सेवानिवृत्त होेने वाले पुलिस कर्मियों में उप निरीक्षक ललित सिंह पुलिस लाइन, उपनिरीक्षक इशरतुल्ला खां एलआईयू, हेड कांस्टेबल तेजपाल सिंह थाना खजुरिया तथा महिला हेड कांस्टेबल श्रीमती सुखराज कौर थाना मिलक खानम हैं। उक्त पुलिस कर्मियों द्वारा उत्तर प्रदेश पुलिस के लिए अपना महत्वपूर्ण सराहनीय योगदान दिया गया है। पुलिस अधीक्षक, रामपुर द्वारा सेवा निवृत्त होेने वाले पुलिस कर्मियों को स्मृति चिन्ह भेंट कर उनके स्वस्थ एवं उज्जवल भविष्य की कामना की गयी।

 लखनऊ के ई रिक्शा चालक ने पेश की मानवता की मिशाल

पुष्पेंद्र सिंह ब्यूरो चीफ दैनिक अयोध्या टाइम्स लखनऊ

लॉक डाउन में मरीजों की मदद करता दिखा ई रिक्शा चालक

ई रिक्शे चालक निःशुल्क लोगों की मदद कर रहा है जरूरत मन्द लोगों को अस्पताल तक पहुंचा कर की मदद। लखनऊ के अमीनाबाद निवासी मो.गुफरान लोगों की मदद करते नजर आ रहे है। लॉक डाउन की वजह से साधन चलना पूरी तरह प्रतिबंद जिससे गम्भीर मरीजों को अस्पताल जाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जिससे देख ई रिक्शा चालक द्वारा गम्भीर मरीजों को अस्पताल तक पहुँचाने का कार्य कर रहे है। मरीजों को अस्पताल छोड़ने का कोई भी किराया नहीं लेकर सिर्फ मदद कर रहा है। कई दिनों से लोगों की मदद में लगा ई रिक्शा चालक। मददगार बने ई रिक्शा चालक की बेसहारा मरीजों द्वारा भूरी-भूरी प्रशंसा की जा रही है।

 

नगर निगम लखनऊ जोन - 6 के द्वारा वार्ड बालागंज मोहहल्ला पुराना तोप खाने में करवाया गया सेनिटाइजर का छिड़काव




पुष्पेंद्र सिंह ब्यूरो चीफ दैनिक अयोध्या टाइम्स लखनऊ*

लखनऊ :- बालागंज के मोहहल्ला पुराना तोप खाने में नगर निगम के अधिकारी  कटियार व सुपरवाइजर अमित कुमार के द्वारा कराया गया।  कोरोना के चलते नगर निगम जोन 6 के सुपरवाइजर अमित कुमार  काफी मुस्तैदी से काम कर रहे है।  सभी जगह और मोहहल्ले में खुद जा कर के सफाई व सेनिटाइजेसन करवाया।  और अमित कुमार ने कहा कि कोई भी दिक्कत आती है। तो हम जनता के साथ है।  इसके साथ मोहहल्ले में छिड़काव करवाया अमित सुपरवाइजर ने अपनी टीम  के साथ अपनी ड्यूटी बहुत ही ईमानदारी से काम करते हुए  जनता की सेवा कर रहे ।


 

 



 

लखनऊ में एक बार फिर मानवता को शर्मसार करने वाली है घटना सामने आई है




*पुष्पेंद्र सिंह ब्यूरो चीफ दैनिक अयोध्या टाइम्स लखनऊ*

लखनऊ के जुबली इंटर कॉलेज के पास नाली में मिला नवजात शिशु का शव बाल्टी के अंदर मृत अवस्था में नवजात शिशु का मिला शव, नवजात शिशु का शव मिलने से मोहल्ले में मचा हड़कं सुबह सफाई कर्मचारी सफाई कर रहा था तभी उसकी नजर ली में पड़ी बाल्टी पर गई वही कर्मचारी ने बाल्टी को पलटा तो उसमें से मृत्यु शिशु मिला,  नवजात की शिनाख्त नही हुई पुलिस जांच में जुटी, थाना वजीरगंज क्षेत्र के जुबली इंटर कॉलेज के पास का मामला।।


 

 




 


कोविड-19 के दृष्टिगत कोेटे के राशन का वितरण 01 अप्रैल से







जिला पूर्ति अधिकारी वी0के0 महान ने बताया है कि वर्तमान समय में कोविड-19 के दृष्टिगत उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पात्र गृहस्थी एवं अन्त्योदय कार्डधारकों में खाद्यान्न का 01 अप्रैल से वितरण कराये जाने हेतु निर्देश दिये गये है जिसके तहत अप्रैल से नगरीय/ग्रामीण क्षेत्र के समस्त अन्त्योदय कार्डधारको को प्रति परिवार की दर से 35 कि0ग्रा0 निःशुल्क खाद्यान्न वितरित किया जायेगा तथा श्रम विभाग में पंजीकृत श्रमिक, मनरेगा में पंजीकृत जाब कार्ड धारक जिनका अन्त्योदय कार्ड बना है, को 35 कि0ग्रा0 प्रति परिवार की दर से निःशुल्क खाद्यान्न वितरित किया जायेगा।

जिला पूर्ति अधिकारी ने बताया कि जिन श्रमिकों/मनरेगा में पंजीकृत मजदूरोे का पात्र गृहस्थी में राशन कार्ड बना है, उन्हें प्रति यूनिट 05 कि0ग्रा0 खाद्यान्न निःशुल्क वितरण किया जायेगा व जिन जाॅब कार्ड होल्डर्स/श्रमिकों/दिहाडी मजदूरों के पास पात्र गृहस्थी का राशन कार्ड जारी नहीं है, उनके राशन कार्ड जारी करते हुए खाद्यान्न निःशुल्क वितरित कराया जायेगा। जिला पूर्ति अधिकारी ने स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि समस्त उचित दर विक्रेता माह की 01 तारीख को समस्त अन्त्योदय कार्डधारकों तथा माह की 02 तारीख को जाॅब कार्ड होल्डर्स, श्रमिक, मजदूरों आदि को निःशुल्क खाद्यान्न का वितरण करना सुनिश्चित करेंगे। तत्पश्चात् पात्र गृहस्थी योजना के कार्डधारकों को खाद्यान्न का वितरण प्रति यूनिट निर्धारित मात्रा/मूल्य पर किया जायेगा।

उन्होंने यह भी निर्देश दिए हें कि कार्डधारक अपने सम्बन्धित उचित दर विक्रेता के यहाॅ यदि राशन प्राप्त करने जाते हैं, तो सामूहिक रूप से न जाये, तथा उचित दर विक्रेता के यहाॅ भीड इकट्ठा न करे। दूरी बनाकर बारी-बारी से अपने को सुरक्षित रखते हुए खाद्यान्न प्राप्त करें। जनपद के समस्त उचित दर विक्रेता भी यह ध्यान देंगें कि दुकान पर अनावश्यक भीड़ इकट्ठा न हो। कार्डधारक दूरी बनाकर रहे। यदि कार्डधारकों द्वारा उचित दर विक्रेता की दुकान पर अनावश्यक भीड किया जाता है तो उनके विरूद्ध भी दण्डात्मक कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। समस्त उचित दर विक्रेता अपने उचित दर दुकान पर वितरण से पूर्व 01 मीटर की दूरी का सर्किल बना दें, जिसमंे कार्डधारक खडा होकर अपने बारी की प्रतीक्षा करते हुए खाद्यान्न प्राप्त कर सके। उचित दर विक्रेता वितरण से पूर्व इसका ग्राम पंचायत में व्यापक प्रचार-प्रसार कर सबको सूचित कर दें। प्रत्येक उचित दर विक्रेता अपने यहाॅ सेनेटाइजर, हाथ धोने का साबुन एवं बाल्टी में पानी अवश्य रखें। यदि विक्रेता इस कार्य में किसी भी प्रकार की शिथिलता या लापरवाही करता है, तो उसके विरूद्ध नियमानुसार आवश्यक दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी।



 

 



 



तेज रफ्तार कार खाई मैं गिरी 1 की मौत 6 गंभीर लोग से घायल




 छपिया( गोण्डा )  = तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर खाई में गिरी, एक  की मौत, छ: गंभीर*---छपिया थाना क्षेत्र में एक बार फिर तेज रफ्तार का कहर देखने को मिला है। छपिया- मडरिया रोड पर एक तेज रफ्तार मारुति स्विफ्ट dzire की तरफ आ रही थी। कार अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे खेत में जा गिरी। ग्रामीणों के बताने के अनुसार चालक कार से नियंत्रण खो बैठा जिसके कारण ये घटना घटी है। बताया जा रहा है कि कार में सात लोग मौजूद थे, जिसमें एक कि मौके पर ही मौत हो गई जबकि छ: गंभीर रूप से घायल हो गए। सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष संजय तोमर अपने पुलिस टीम के साथ घटना स्थल पर पहुँचे जहाँ उन्होंने ग्रामीणों की मदद से गंभीर रूप से घायल लोगो को हॉस्पिटल भेजा, जहां उनका उपचार चल रहा है।


 

 



 

बाजार से भी  सस्ते रेट में बेच रहे हैं सब्जियां




कानपुर- जहां पूरे देश में करोना वायरस का हाहाकार मचा है  चारों तरफ लॉकडाउन है वही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना है कि कोई भी कालाबाजारी नहीं करेगा उचित रेट पर सामान बेचा जाएगा उसी को देखते हुए ,दबौली में मैं युवक कई दिनों से बाजार से भी सस्ते रेट में सब्जियां बेच रहे हैं जिससे कि लोगों को किसी प्रकार की दिक्कत ना हो सके और उन्हें आसानी से उचित मूल्य पर सब्जी मिल सके यह संदेश दे रहे हैं कि कालाबाजारी नहीं करनी चाहिए, रोजाना सुबह 6:00 बजे से 11:00 बजे तक सब्जी सब्जियां उचित मूल्य पर बेचते हैं जैसे कि वह भी गोभी 7 रुपए ,बंद गोभी 7 रुपए, टमाटर 18 रुपए ,कद्दू वा  बैगन 10 रुपए ,और लौकी 10 रुपए, किलो आलू 20 रुपए किलो के रेट में और भी सब्जियां बेच रहे हैं जिसका फायदा आम जनता को हो रहा है शिवम गुप्ता ने बताया कि जब तक  लॉकडाउन रहेगा तब तक हम लोग उचित मूल्य पर सब्जियां बेचेंगे, कमेटी में उपस्थित रहे मनोज पचोरी, शिवम गुप्ता ,महेंदर सविता, किशन सैनी, आदि लोग उपस्थित रहे कानपुर से विजय कुमार की रिपोर्ट


 

 



 

घातक कोरोना के पीछे कौन

आज-तक के इतिहास में इंसान इतना विवश कभी नही था।इस वायरस की घातिकी इसी से साबित होती है कि आज दुनिया के 195 देश इसके प्रकोप से प्रभावित हैं।दुनिया की तकरीबन दो अरब आबादी आज लाॅक डाउन होने को विवश है तकरीबन 30 हजार मौत और लगभग पाँच लाख संक्रमित हो चुके हैं।यह भीषण आपदा से त्रस्त दुनिया के वैज्ञानिक डाक्टर लोग इसकी दवा खोजने में दिन रात लगे हुए है पर अभी तक कामयाबी नहीं मिल पा रही है। यह सोचने वाली बात है और खतरे का संकेत भी क्योंकि यह न दिखने वाला वायरस किसी दुश्मन की साजिश तो नही इस दिशा में भी रिसर्च की जा रही है शायद कुछ निष्कर्ष जरूर निकले।

इसकी उत्पत्ति चीन की बुहान शहर से हुई है क्योंकि पहला मरीज वही नवम्बर 19 में मिला फिर देखते ही देखते पूरे वुहान शहर को अपनी चपेट में ले लिया गौर करने वाली बात यह है कि चीन के दूसरे शहर के बजाय यह पूरी दुनिया में फैल गयी जो शक पैदा करता है कि यह मानव निर्मित चायनीज वायरस है।

दूसरे इसके नाम को लेकर है कोविद 19 को नोवेल कोविद 19 नाम दिया गया जो इशारा करता है कि इस वायरस के साथ छेड छाड़ कर एक हथियार के तौर पर दुनिया पर इस्तमाल की गयी हो ताकि दुनिया में दहशत पैदा कर वह अपना सारा मैडिकल सामान बेच सके।

शायद यह एक विकृत मानव रूप है जो चीनीयों के दिमाग में चल रहा हो ऐसी आशंका जतायी जा रही है।

मीडिया में आयी खबरो के मुताबिक वहाँ के दो डाक्टर जिनकी असमय मृत्यु और उनके स्टेटमेंट भी इसी ओर इशारा करते हैं कि यह लैब के द्वारा निर्मित हुआ है जो लगातार जिन्दगीयाँ निगल रही है।

भारत एक घनी आबादी वाला देश जहाँ विविधता है आज सप्ताह दिन से पूर्ण बंद है ।सभी घरो में कैद है ।लगातार लोग अनेक परेशानिया झेल रहे हैं।इस तरह की परेशानी वो तमाम देश झेल रहे जहा यह वायरस है ।दरअसल इसी परेशानीयों का फायदा चीन उठाना चाहता है ।भारत सरकार तथा दुनिया को चाहिये की वह इस देश का पूर्ण वाहिष्कार करें ताकि वह खुद आर्थिक लाँकडाउन हो ।

भारत के लोग कमर कस चुके है अब दुनिया भी स्थिति को समझ रही है यही कारण है कि अमेरिका और दुनिया के प्रभावित मुल्क ने चीन के प्रति कडा रूख अपनाया है इसे बरकरार रखना होगा और इस जैविक युद्ध के साथ चीन से आर्थिक युद्ध भी दुनिया को लड़ना ही होगा।

आज जीतने भी लोग मर रहे है उसका जिम्मेदार अगर कोई है तो वो है चीन क्योंकि जिस समय दुनिया को अगाह करना चाहिए उस समय वह सारी सूचनाएँ छिपा रहा था और दुनिया के देशो में कैसे फैले इसका प्लान कर रहा था।अगर ऐसा नहीं था तो सभी तरह के यातायात पर रोक लगे और इन्टरनेशनल उड़ान जारी रहा ऐसा क्यूँ?

यह वायरस सभी तरह की जलवायु झेल लेता है और जिन्दा रहता है जबकि जो प्राकृतिक होते तो ऐसा कतई संभव नही था।इन सारी तर्क संगत बातो पर आंकलन जारी है और रिपोर्टो का इंतजार फिर यह यकीन में तब्दील हो जाए यही चांसेज ज्यादा दिख रहे हैं।क्योंकि वुहान ही वो शहर है जहाँ जैविकीय लैब भी है तो आशंकाए प्रबल हो जाती है।

 

सावधानी हटी दुर्घटना घटी अनूप ठाकुर महाराज





हरदोई ।(अयोध्या टाइम्स)असलापुर धाम से कथा व्यास अनूप ठाकुर महाराज ने सभी देशवासियों से अपील की इस समय हमारा देश कोरोना नामक बीमारी से ग्रसित हैं हमारे आदरणीय पी.एम. नरेंद्र मोदी जी ने सम्पूर्ण भारत को लाक डाउन कर रखा क्योंकि यह बीमारी एक दूसरे से दूरी बनाकर रहने से नहीं फैलती इटली चीन यूरोप अमेरिका काफी सक्षम देश लेकिन वहां के हालात क्या हैं आप लोग देख रहें कारण वहां पर पहले लापरवाही बरती गयी सरकार और डाक्टरो के निर्देशो का पालन करें अपने घरों में रहें बाहर ना निकलें बराबर हाथों को धोते रहें मास्क लगाकर रहे जब भी खासी या छींक करें कपड़ा या टीशू पेपर का इस्तेमाल करें कोई सार्वजनिक आयोजन ना करें मैंने भी अपने सब भागवत आयोजन स्थगित कर दियें हैंजो लोग लाकडाउन को नहीं मान रहें हैं वो अपनी जिंदगी और अपने परिवार की जिदंगी के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं मैंने टीवी के माध्यम से कई जगहें पर भीड़ भाड़ देखी आनन्द बिहार बस अड्डे पर हजारों की संख्या में भीड़ एकत्र थी इसलिए सभी से निवेदन हैं जिनकी विशेष मजबूरी अलग बात बाद बाकी एक दूसरे की देखा-देखी शौक से बाहर से अपनों घरों को पलायन ना करें जो जिस जगह हैं उसी जगह पर रहें ये मत समझिए घूम कर आप किसी और को बीमार कर रहें हैं खुद नहीं हो रहें सबसे पहले भीड़ वाली जगहों पर आप संक्रमित होंगे आपसे आपके परिवार वालें जो आपके खास हैं फिर आपके पड़ोसी जो आपके मित्र हैं शासन प्रशासन आपका पूरा सहयोग कर रहा आपको कोई समस्या उसके लिए हेल्प लाइन न.जारी किये गये वैसे तो कामकाज की वजह से नवरात्रि में पूजा पाठ कम हो पाता था इस बार आपके पास पर्याप्त समय है आप सब ज्यादा से ज्यादा पूजा पाठ करें और हमारे मीडिया कर्मी पुलिस डाक्टर नर्स जो अपनी जान जोखिम में डालकर हमारी सेवा कर रहे हैं उनके स्वस्थ रहने की माहामायी से प्रार्थना करें हनुमान चालीसा इत्यादि का पाठ करें नाशै रोग हैं सब पीरा,जपत निरंतर हनुमत वीरा, जानि बूझि नर संग्रह करई, काहुऊ उमा वो काहें न मरई जब आप जान बूझकर कर घूमकर ऐसा कर रहें फिर किसी का क्या दोष


 

 



 



लखनऊ में कल से होगी और सख्ती, पुलिस कमिश्नर ने दिए आदेश लाॅकडाउन‌ का मजाक बनाकर गलियों में दिन भर टहला करतें हैं युवक






पुष्पेंद्र सिंह ब्यूरो चीफ दैनिक अयोध्या टाइम्स लखनऊ

 लखनऊ। लखनऊ की सड़कों पर पुलिस अब होगी कल से ज्यादा सख्त। पैदल चलने पर भी लखनऊ की सड़कों पर होगी मनाही। विशेष मेडिकल परिस्थितियों में ही लखनऊ की सड़कों पर निकलने की मिलेगी अनुमति। पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने दिए सख्त निर्देश। सामान लेकर पैदल जा रहे लोगों को भी रोका जाएगा। पलायन कर रहे लोगों को बैरियर पर रोककर भेजा जाएगा शेल्टर होम। बताते चलें कि लखनऊ में आज कोरोना का नया मरीज मिलने से लखनऊ में कोरोना पाॅजिटिव मरीजों की संख्या 9 हो गई है।

      लखनऊ के कुछ क्षेत्रों खासकर पुराने लखनऊ के दरगाह, काजमैन, चौपटियां, एवं अकबरी गेट, चौक, बाजारखाला, मेंहदीगंज, भवानीगंज, टिकैतगंज, ऐशबाग, नक्खास, कश्मीरी मोहल्ला, राजाबाजार आदि मोहल्लों की अंदरूनी गलियों में लाॅकडाउन को लोगों ने मजाक बना रखा है। यहां दिन भर गलियों में लोगों का हुजूम टहला करता है, कहीं-कहीं पर दरोगा सिपाही के गली में निकलने पर थोड़ी देर के लिए लोग हट जाते हैं फिर मजमा लगा लेते हैं। सहादतगंज के बुनियाद‌बाग में तो शाम को युवक क्रिकेट खेलते नजर आते हैं। बाजारखाला के भवानीगंज एवं मेंहदीगंज मोहल्ले में पुलिस के लगभग न के बराबर आने का फायदा उठाकर दिनभर लोग सड़क पर टहला करतें हैं।

लखनऊ की सड़कों पर पुलिस होगी ज्यादा सख्त  पैदल चलने पर भी लखनऊ की सड़कों पर होगी मनाही  विशेष मेडिकल परिस्थितियों में ही लखनऊ की सड़कों पर निकला जा सकेगा   सामान लेकर पैदल जा रहे लोगों को रोका जाएगा   पला यन कर हे लोगों को बैरियर पर रोककर भेजा जाएगा शेल्टर होम  पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे ने सभी अफसरों और थाना प्रभारी को दिए आदेश


 

 



 



कम्युनिटी हेल्थ वर्कर एसोसिएशन अगेंस्ट कोरोना वायरस एकअभियान




*पुष्पेंद्र सिंह ब्यूरो चीफ दैनिक अयोध्या  टाइम्स लखनऊ*

लखनऊ  :-   कोरोना वायरस की वैश्विक महामारी के बीच पूर्ववर्ती जनस्वास्थ्य रक्षक एवं स्वैच्छिक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के संगठन "कम्युनिटी हेल्थ वर्कर एसोसिएशन" उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल इकाई ने "कम्युनिटी हेल्थ वर्कर एसोसिएशन अगेंस्ट कोरोना वायरस अभियान" छेड़ दिया है।एसोसिएशन के हजारों कार्यकर्ता ग्रामीण स्तर पर काम कर रहे हैं ।ग्रामीण स्तर पर कार्य करने वाली इस संस्था के पूर्वांचल प्रभारी श्री धीरेन्द्र कुमार  ने कमान संभाली है ।अभियान का आरम्भ माननीय प्रधानमंत्री जी द्वारा गोद लिए गए गांव जयापुर, वाराणसी से किया गया तदोपरांत वाराणसी के विभिन्न गांवों में जिला अध्यक्ष श्री राजकुमार जी के सहयोग से सैकड़ों घरों में मास्क ,साबुन व सैनीटाइजर का मुफ्त वितरण किया गया ।साथ ही संगठन के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष श्री प्रदीप कुमार सिंह ने मीडिया को संबोधित करते हुए जानकारी दी कि पूर्वांचल के अन्य जनपदों में भी प्रदेश कोषाध्यक्ष श्री केशव प्रसाद जी के निर्देशन में प्रदेश महासचिव श्री विनीत कोल जी द्वारा    गोंडा ,बहराइच ,बस्ती ,  गोरखपुर ,देवरिया  आजमगढ़ मऊ  बलिया आदि जनपदों में भी फ्री मास्क सैनिटाइजर व साबुन का वितरण किया गया एवं जागरूकता अभियान को संचालित किया जा रहा है  ।

 

उत्तर प्रदेश प्रभारी श्री दिलीप कुमार ,उत्तर प्रदेश प्रवक्ता श्री राम जी भाई एवं प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य श्री संदीप पाल जी का सहयोग अविस्मरणीय है ।

 

 अभियान का प्रदेश स्तरीय संचालन राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अरुण कुमार पाण्डेय जी ,राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री आनन्द शर्मा जी व राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री राम बहादुर सिंह जी द्वारा कराया गया ।राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री आर बी सिंह ने इस अभियान को सफलतम बनाने का सबसे बड़ा श्रेय जिन योद्धाओं को दिया उनमें आजमगढ़ मंडल अध्यक्ष श्री संत कुमार तिवारी  ,आजमगढ़ जिला अध्यक्ष -श्री सतीश यादव , अंबेडकर नगर के जिला अध्यक्ष श्री रणविजय यादव , मऊ जनपद के जिलाध्यक्ष श्री शैलेन्द्र सिंह  व बलिया के जिलाध्यक्ष श्री भीम सिंह  एवं वाराणसी मंडल के समस्त टीम एंव जिले की समस्त कमेटी शामिल हैं ।

 

अभियान के दौरान पत्रकारों से बात करते हुए श्री आर बी सिंह ने कहा कि कम्युनिटी हेल्थ वर्कर एसोसिएशन ग्रामीण स्तर पर  शासन के साथ मिलकर कोरोना वायरस से इस जंग में निश्चित रूप से विजय हासिल करेगी ।हम प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंच बनाने की प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रहे हैं ।निश्चित रूप से सफलता हमें मिलेगी ।


 

 



 

विजय नारायण श्रीवास्तव व अन्ना यादव की अगुवाई में राहगीरों को राशन  वितरण




*ब्यूरो रिपोर्ट:-जितेंद्र सिंह अन्नू*

उत्तर प्रदेश बाराबंकी के रामसनेहीघाट में युवाओं ने राहगीरों को खाना खिलाया व उनकी आर्थिक मदद भी की भोजन स्थल पर मौजूद युवा नेता अखिलेश तिवारी ने सभी राहगीरों से अपील किया की सरकार द्वारा दिये गए सुझाव का हम सभी पूर्णतयः पालन करें जिसे हम आप और अपना सुरछित व खुशहाल रहे कोरॉना जैसी बीमारी से पूरा देश जहा परेशान है , सरकार और प्रशासन द्वारा तरह तरह के नियम और निर्देश लागू किए जा रहे हैं , वही इस महामारी में गरीब त्राहि त्राहि कर रहा है , और अपने वतन पर दूर दूर से पैदल , एवम् साईकिल से आने पर विवश हो रहा है , पैदल आने वाले यात्रियों , एवम् गरीबों को मुफ्त भोजन एवम् सेनेटाइजर की व्यवस्था करने के लिए समाजसेवियों के साथ साथ ग्रामीणों एवम् युवाओं ने भी सहयोग किया है, इसमें रामसनेही घाट के प्रभात श्रीवास्तव, सोनू यादव , कल्लू यादव ड्राइवर, अन्ना यादव, अंकित ,शिवम , मुख्य रूप से आगे आए , इस वितरण में पूर्व ब्लॉक प्रमुख संतोष वर्मा भी मौजूद रहे ।।


 

 



 

पुलिसकर्मियों के स्वास्थ्य का ध्यान रखने हेतु पुलिस अधीक्षक रामपुर द्वारा किया गया, टीम का गठन

दैनिक अयोध्या टाइम्स संवाददाता,रामपुर-लाकडाउन होने के कारण ड्यूटी पर नियुक्त पुलिस कर्मियों के स्वास्थ्य, भोजन एवं उनके मनोबल पर निरंतर ध्यान दिए जाने एवं ड्यूटी के दौरान उनके समक्ष आने वाली समस्याओं के निराकरण हेतु पुलिस अधीक्षक रामपुर शगुन गौतम द्वारा एक टीम गठित की गई, जिसके प्रभारी क्षेत्राधिकारी मिलक श्री धर्म सिंह मार्छाल को बनाया गया।  टीम मैं रकम सिंह प्रतिसार निरीक्षक पुलिस लाइन, प्रवेज कुमार निरीक्षक पुलिस लाइन, सुमित कुमार उप निरीक्षक/प्रभारी यातायात  नियुक्त किया गया है।उक्त टीम से पुलिसकर्मियों से वार्ता कर  उनके स्वास्थ्य, मनोबल एवं उनकी समस्याओं, भोजन,  नाश्ता आदि तथा कोरोना वायरस से बचाव हेतु प्रत्येक कर्मी के पास मास्क,  सैनिटाइजर, हैंडवाश, लिक्विड आदि की जानकारी करेंगे। यदि कोई भी कर्मी अस्वस्थ पाया जाता है तो उक्त टीम स्वास्थ्य विभाग से तत्काल समन्वय स्थापित कर समुचित उपचार उपलब्ध कराएगी।

लॉक डाउन के चलते थाना ठाकुरगंज के ताहेसीनगंज चौराहे पर एस आई मनोज यादव अपनी टीम के साथ पूरी तरह मुस्तैद






*प्रदुम दीक्षित जिला सवांददाता लखनऊ*

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के थाना ठाकुरगंज के तहसीनगंज  चौराहे पर कोरोना वायरस जैसी महामारी से लोगों को बचाने के लिए और सभी लोगों को लॉक डाउन का पालन करने के लिए लोगों को जागरूक करते ठाकुरगंज थाने के एस आई मनोज कुमार सिंह और अन्य पुलिसकर्मी। सभी पुलिसकर्मियों ने अपनी ड्यूटी को पूरी निष्ठा से निभाया और सड़कों पर आने-जाने वाले लोगों को  जागरूक किया और लोगों से लॉक डाउन का पालन करने के लिए कहा।


 

 



 



सभासद ताहिर अपने मानदेय भत्ता को गरीबों पर खर्च करने  की नगर पंचायत  अधिशासी अधिकारी से की अपील




*विनय सिंह ब्यूरो चीफ बाराबंकी*

जैदपुर बाराबंकी नगर पंचायत जैदपुर के एक सभसाद ने एक अच्छी पहल की हैं जहाँ देश भर में कोरोना महामारी की वजह से लॉक डाउन है ऐसे में बहुत से लोग अपनी रोज़ी रोटी नही जुटा पा रहे है ऐसे में जैदपुर कस्बे के वार्ड संख्या 9 राईस कटरा द्वितीय के सभसाद ताहिर अंसारी ने नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी योगेश मिश्रा से निवेदन किया है कि नगर पंचायत से मिलने वाला मानदेय ओर भत्ता जो करीब एक साल से सभसाद ताहिर अंसारी ने नही लिया है उसने नगर पंचायत में प्रार्थना पत्र देकर यह अपील की है कि उसका पूरे साल का मानदेय और भत्ता उन गरीबो के खाने पीने एव दवाओं पर खर्च किया जाय जो लोग अपने खाने पीने का इंतिज़ाम नही कर पा रहे है सभसाद ताहिर अंसारी की तरह ओर भी पदाधिकारियो को भी इस भयावह स्थिति में आगे आकर लोगो की मदद करनी चाहिए


 

 



 

लावणी छन्द गीत














है हावी कोरोना जग पर,निपटेंगे हुशियारी से ।

जनहित के नियमों का पालन ,करलें जिम्मेदारी से ।

 

रोग भयंकर अरु निदान के ,कहीं लगे आसार नहीं ।

दूरी सबसे हुई जरूरी ,दूजा कुछ उपचार नहीं ।

इस संकट से हमें उबारो ,विनती है गिरधारी से ।।1।।

जनहित के नियमों का पालन .........।

 

भली-भांति हाथों को धोएं ,मूहँ मास्क से ढकना हैं ।

बाहर से कोई आये तो ,सेनिटाइज करना है।

खतरा टल जाए मत डरना ,मनुज किसी दुश्वारी से ।।2।।

जनहित के नियमों का पालन  .........।

 

द्रवित हृदय है,ख़ौफ़ बढ़ा है ,फिर नर क्या मगरूरी है ।

लॉकडाउन का पूर्ण रूप से ,पालन हुआ जरूरी है।

अब घर में रह तनिक कटो तुम,दुनियां, दुनियादारी से ।।3।।

जनहित के नियमों का पालन .........।

 

 

श्री मोदी  आग्रह का पालन,करलो इक्किस दिवस सभी ।

हर इक जरुरत की व्यवस्था है ,पाँव बांध लो जरा अभी ।

धीर धरो संयम मत खोना ,क्या हो मारामारी से ।।4।।

जनहित के नियमों का पालन  .........।

 














Monday, March 30, 2020

बिल्हौर थानाध्यक्ष व प्रधानपति ने  बांटा राशन वभोजन




बिल्हौर पुलिस और उत्तरीपुरा ग्रामप्रधान द्वारा गरीबों, असहाय मजदूरों को भोजन का वितरण किया एवं जरूरत मंद लोगों को राशन वितरण कराया। थाना अध्यक्ष द्वारा उत्तरीपुरा में दूसरी बार भोजन  व राशन वितरण करा रहे हैं ।

लॉक डाउन की वजह से दैनिक मजदूरों को  ज्यादा परेशानी उठानी पड़ रही इस परेशानी को देखते हुए उत्तरीपुरा ग्राम प्रधान पति रमेश चंद्र शुक्ला और बिल्हौर थानाध्यक्ष संतोष अवस्थी उत्तरीपुरा चौकी इंचार्ज अजय पाल सचिव सजीव कैथवार ने अपनी उपस्थिति में राशन और भोजन का वितरण  कराकर पुण्य का कार्य कर रहें


 

 



 

लॉकडाउन में जरूरतमंदों को खाने की व्यवस्था कराई गई 

दैनिक अयोध्या टाइम्स संवाददाता,रामपुर-अखिल भारतीय सर्व वैश्य एकता महासभा शाखा रामपुर द्वारा हमारी सेवा में लगे हुए पुलिसकर्मियों एवं बाहर जिलों से आ रहे लोगों को खाने की व्यवस्था कराई गई इसके अतिरिक्त रात्रि में जगह -जगह लगे पुलिस पिकेट को चाय एवं रस की व्यवस्था भी कराई गई अखिल भारतीय सर्व वैश्य एकता महासभा के , जिलाध्यक्ष गौरव अग्रवाल ने बताया मुख्य विकास अधिकारी शिवेंद्र सिंह के निर्देशानुसार एवं अपर पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में अखिल भारतीय सर्व वैश्य एकता महासभा खाना एवं चाय की व्यवस्था की जा रही है जोकि 14 अप्रैल 2020 तक चलेगी उन्होंने बताया कि हमारे साथ, हमारे संस्था के सभी पदाधिकारी जी जान से इस वैश्विक माहवारी से लड़ने के लिए जो योद्धा लगाए गए हैं हम उन सभी को नमन करते हैं और ईश्वर से प्रार्थना करते हैं, किस वैश्विक महामारी को शीघ्र अति शीघ्र ठीक करें, इसमें सहयोगी के रूप में, गौरव अग्रवाल पुराना गंज, नगर अध्यक्ष कुशल गुप्ता, वरिष्ठ नगर उपाध्यक्ष, आलोक अग्रवाल, जिला उपाध्यक्ष रोहित गुप्ता, के अतिरिक्त समय-समय पर सभी का सहयोग प्राप्त हो रहा है।

कोरोना:भूखे लोगों के लिए हुआ तहड़ी भोज




*पुष्पेंद्र सिंह ब्यूरो चीफ दैनिक अयोध्या टाइम्स लखनऊ*

कोरोना के भयंकर दहशत में सरकार और जनता दोनों ही है जिसके चलते प्रधानमंत्री ने आगामी14अप्रैल तक पूरे भारतवर्ष में लाँकडाउन घोषित किया गया कि जिससे कोरोना पर काबू पाया जा सके और  आम जनमानस सुरक्षित रह सके यह सब तो ठीक है पर रोज काम करके जीवन यापन करने वाले लोगों के घर लाँकडाउन के चलते भुखमरी ने पांव पसार दिया है वहीं सरकार और  तमाम एनजीओ समेत सक्षम लोग मैदान में उतर लोगों की मदद में जुट गए ताकि भूख से जूझने वालों को भूख से निजात दिलाई जा सके इसी क्रम में कासगंज में सक्षम लोग मैदान में उतर भूखे लोगों को तहड़ी भोज कर

लोगों की मदद की इस समूह में असद हुसैन, नक़ी हैदर, कामरान रिज़वी, अलमदार, यावर हुसैन, जौन अब्बास, हाजी नईम, ज़ुल्फ़िकार अली, साजिद हुसैन, काशिफ़ सभी शामिल थे।


 

 



 

सौ नंबर के जवानों ने गरीब परिवार की  किया मदद




 *विनय सिंह ब्यूरो चीफ बाराबंकी*

बाराबंकी की कोठी थाना की पीआरबी 1709 ने गरीब परिवार को राशन वितरित करते हुए मदद करने का काम किया है बताया जाता है कि पी आर बी भी के जवान अपने पास के पैसों से राहत सामग्री खरीद कर परिवार वालों को राहत सामग्री दिया इस दौरान सुधीर विक्रम सिंह समेत चालक अन्य लोग मौजूद रहे


 

 



 

ग्राम प्रधान ने गाँव में किया दवाइयों का छिड़काव, ग्रामीणों को स्वच्छता के प्रति जागरूक




*विनय सिंह ब्यूरो चीफ बाराबंकी*

सिद्धौर - ब्लाक के अंतर्गत ग्राम पंचायत उसमानपुर में  प्रधान कुंवर रामवीर सिंह ने आज -गांव में दवाइयों का छिड़काव कराया। जिस प्रकार आज पूरे देश ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में कोरोना वायरस  की चपेट में हैं। तो वही जनपद बाराबंकी में अभी तक कोई भी कोरोना से पीड़ित मरीज नही मिले है। जनपद के जिलाधिकारी डॉ आदर्श सिंह के लगातार प्रयासों व संदिग्ध की सूचना पर संबंधित कार्यवाही कर रहें है। जिनका अथक प्रयास से कोरोना वायरस से दूर रखकर बाराबंकी को स्वच्छ व सुंदर बनाने में लगे है तो वही जनपद के सभी अधिकारी , कर्मचारी व ग्राम प्रधान भी अपने अपने स्तर पर पीछे नही हट रहे है। ब्लाक सिद्धौर के अंतर्गत ग्राम पंचायत उस्मान पुर में ग्राम प्रधान ने पूरे गाँव मे साफ सफाई व दवाइयों का छिड़काव किया। साथ ही समस्त ग्रामवासियों से स्वच्छता के प्रति जागरूक भी किया। इस मौके पर ग्राम वासियों ने भी प्रधान का बढ़-चढ़कर सहयोग किया जैसे सभाजीत सिंह राण कपूर,सिंह आनंद कुमार विनोद कुमार परशुराम आदि लोग मौजूद रहे।


 

 



 

कल दोपहर से जिले में थम जाएंगे 102, 108 एम्बुलेंस के पहिये





एम्बुलेंस कर्मचारियों को नही मिली है 03 माह की पगार


हरदोई। (अयोध्या टाइम्स)कोरोना महामारी के बीच सरकार की 108 व 102 एम्बुलेंस के पहिये कल से थम जाएंगे। वजह है एम्बुलेंस कर्मियों की पगार न मिलना। हालांकि पगार के लिए लंबे समय से एम्बुलेंस कर्मचारी संघर्षरत हैं, किंतु एम्बुलेंस को संचालित करने वाले एजेंसी ने हमेशा ही इन कर्मचारियों का शोषण किया। नतीजन इस महामारी के बीच फिर से ये कमर्चारी बेबस हो गए हैं, उन्हें अपने परिवार का भरण पोषण कर पाना मुश्किल हो रहा है। इस कारण कल दोपहर बाद से 108 व 102 की आकस्मिक सेवाएं बंद हो जाएंगी।


एम्बुलेन्स कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष सलिल अवस्थी के नेतृत्व में कर्मचारियों के रुके हुए तीन माह के वेतन दिये जाने व कम्पनी द्वारा कर्मचारियों के 07 माह के पी0एफ0 की धनराशि खाते में जमा किये जाने और कोरोना महामारी के कारण कर्मचारियों का 50 लाख रुपये का बीमा कराये जाने। कोरोना वायरस से बचाव हेतु सुरक्षा किट दिये जाने की माँग को लेकर कल दोपहर 12 बजे से जनपद की 108.102 व एएलएस एम्बुलेन्स, बघौली, कछौना, कोथावाँ, बेहन्दर, भरावन में संचालित एम्बुलेंस को सीएचसी सण्डीला।


हरपालपुर ,बिलग्राम, मल्लावाँ में संचालित एम्बुलेंस को सीएचसी माधौगंज। हरियावाँ जहानीखेड़ा, गोपामऊ में संचालित एम्बुलेंस को सीएचसी पिहानी। पाली अनकपुर, टोडरपुर में संचालित एम्बुलेंस को सीएचसी शाहाबाद। हरपालपुर, सवायजपुर, साण्डी टड़ियावाँ, सुरसा, अहिरोरी, बावन, बम्हनखेड़ा में संचालित एम्बुलेंस को जिला महिला चिकित्सालय नगर हरदोई की लोकेशन पर खड़ी कर अनिश्चितकालीन हड़ताल किया जाना प्रस्तावित है।  


जिलाध्यक्ष द्वारा कहा गया कि जीवीके कम्पनी द्वारा दिये गये किसी भी इमरजेंसी काॅल का अनुपालन नहीं किया जायेगा। जबकि विशेष परिस्थितियों में जिला प्रशासन द्वारा दिये गये निर्देशानुसार एक या दो गाड़ियों को सेवा हेतु भेजा जायेगा।   अतः प्रस्तावित हड़ताल के दौरान वर्तमान में कोरोना महामारी को लेकर जारी लाॅकडाउन के दृष्टिगत उक्त हड़ताल के कारण एम्बुलेंस 102, 108 व एएलएस सेवाओं का संचालन न होने पर जनपद की स्वास्थ्य संबंधी आकस्मिक सेवाओं पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ने की पूर्ण संभावना है।


 

 



 



गांव की गलियों में एलाउंसमेंट के जरिए घर से ना निकलने की कर रही अपील बघौली पुलिस





बघौली /हरदोई। (अयोध्या टाइम्स)कोविड-19 कोरोना वायरस महामारी को रोकने के लिए भारत सरकार तथा उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा किया गया लाक डाउन को जिला प्रशासन पूरी तरह से प्रभावी करने में रात-दिन एक किए हुए हैं


बताते चलें की आज सुबह से बघौली पुलिस के द्वारा गांव गांव तथा गलियों में मैं फोर्स अनाउंसमेंट किया जा रहा है तथा थानाध्यक्ष फूलचंद सरोज के द्वारा लोगों से अपील कर रहे हैं कि अपने जीवन की रक्षा के लिए घरों से बाहर अनावश्यक रूप से ना निकले तथा कोरोना वायरस से देश को बचाएं जिसमें आपका घर से निकलना ही सबसे बड़ा सहयोग और कोरोना वायरस पर विजय पाने का एहतियात है जबकि बघौली क्षेत्र की जनता का अब तक लाख डाउन में बड़ा सहयोग हो रहा है लोग अनावश्यक रूप से घर से बाहर नहीं निकल रहे हैं फिर भी कुछ लोग निकल भी रहे हैं तो उनके भी समझ में आ जाएगा और वह नहीं निकलेंगे।


 

 



 



समाजवादी पार्टी के युवा नेता ने दिया राहत सामग्री




*विनय सिंह ब्यूरो चीफ बाराबंकी*

बाराबंकी के हैदरगढ़ के के रहने वाले समाजवादी पार्टी के युवा नेता पंकज यादव ने दर्जनों लोगों को राहत सामग्री देते हुए मदद करने का काम किया है आपको बता दें कि इस लॉकडाउन की स्थित में सैकड़ों परिवार ऐसे थे जो दिहाड़ी मजदूरी करते हुए अपने परिवार का भरण-पोषण करने का काम कर रहे थे  लॉकडाउन के चलते उनका काम ठप था   जिस को ध्यान में रखते हुए  पंकज यादव ने उनको राहत सामग्री देते हुए मानवता की मिसाल पेश की है तो वहीं इस कार्य की प्रशंसा क्षेत्र के लोग जमकर कर रहे हैं उनका कहना है कि ऐसी बुरी स्थिति में अगर उनकी मदद नहीं की जाए तो मानव शरीर का कोई मतलब नहीं


 

 



 

कोविड-19:लॉक डाउन में सामाजिक दूरी के साथ-साथ समाजसेवा भी



हरदोई।(अयोध्या टाइम्स)कोरोना के संक्रमण रोकने के लिए किए गए लॉक डाउन के छः दिनों में ही कई ऐसी खबरें आ रही हैं जो कि तसल्ली देने वाली है। एक तरफ लोग सोशल डिस्टेंसिंग कर रहे दूसरी तरफ सोशल सर्विस को भी बढ़ावा दे रहे हैं।
उपजिलाधिकारी अतुल प्रकाश श्रीवास्तव के पर्यवेक्षण में नगरपालिका परिषद के अधिशाषी अधिकारी विमला पति ने नेहरू म्यु. कन्या इण्टर कॉलेज शाहाबाद में सामुदायिक रसोई की शुरुआत शनिवार 29 मार्च से कर दी।जिसमें कोई भी गरीब महिलाएं, पुरुष,बच्चे दोपहर एवं सायंकाल बैठकर भोजन कर सकते हैं।इसके अलावा दिव्यांगों के घर पर भी भोजन भेजने के लिए बाइकर्स लगाए गए हैं।
सरकारी मशीनरी के इतर लोगों के यह प्रयास वाकई काबिलेतारीफ है।जिले में लॉक डाउन के छः दिनों में ही समाज के कई ऐसे लोग, संगठन व परिवार सामने आए जिन्होंने सामने आकर खुद लोगों की मदद की।
ब्लॉक प्रमुख रोली गुप्ता की पहल पर बेसहारा राहगीरों,ट्रक ड्राइवरों,एवं ड्यूटी पर तैनात होमगार्ड्स, पुलिसमैन को खाने के पैकेट उपलब्ध कराए।उनके इस कार्य मे उद्योग व्यापार संगठन के अध्यक्ष नलिन गुप्ता,अस्मित बाथम,प्रतिनिधि नवनीत गुप्ता समेत भोजन पैकेट बांटने के लिए शाहाबाद से सिरदार नगर तक लोगों ने सहयोग किया।
साथ ही ब्लॉक प्रमुख रोली गुप्ता ने समस्त ग्राम प्रधानों/क्षेत्र पंचायत सदस्यों/ग्राम विकास अधिकारियों/ग्राम पंचायत अधिकारियों व विकासखंड शाहाबाद से संबंधित अन्य अधिकारियों व कर्मचारियों से अपील की कि दुनियाभर में चल रहे कोरोना वायरस के संकट के चलते बड़ी संख्या में विभिन्न शहरों में कार्य करने वाले लोग अपने गांवों की ओर लौट रहे हैं।
कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए उन्हें गांव के बाहर ही ठहराएं और उनके उचित खानपान व ठहरने की व्यवस्था करें।अस्वस्थ प्रतीत होने पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र,शाहाबाद के चिकित्सकों की सेवाएं अवश्य लें।आपस में यथोचित दूरी बनाए रखें।एक दूसरे से बातचीत करने में भी सामाजिक दूरी जरूर बनाये रखें।सभी लोग घर पर रहें,स्वस्थ और सुरक्षित रहें।
कोरोना संकट के चलते लॉक डाउन की स्थिति में जरूरमंद गरीबो को अपनी सहायता देने की चैंपियन एसोसिएशन फॉर आइडियल मूवमेंट्स की पहल की हर कोई सराहना कर रहा है।समाजसेवियों ने सोशल डिस्टेंडिंग को ध्यान में रखकर अपने अभियान के दूसरे दिन दो दर्जन से अधिक जरूरतमंदों को मदद पहुचाई।संस्था के लोगो का कहना है कि ऐसे समय मे देश बिषम परिस्थितियों का सामना कर रहा है ऐसे में भूखा न रहे कोई,ये हम सब की नैतिक जिम्मेदारी है।इसी को ध्यान में रखकर संस्था ने यथासंभव उन जरूरतमंदों को अति आवश्यक खादय सामग्री (आटा,आलू आदि) के पैकेट पहुँचाने का प्रयास शुरू किया है।अध्यक्ष डॉ शारिक परवेज ने बताया कि केवल चैम्पियन एसोसिएशन फॉर आइडियल मूवमेंट्स के सदस्यों द्वारा आर्थिक सहयोग करके जरूरतमंदों की मदद पहुचाने का छोटा सा अभियान जारी है।वही संस्था के समाजसेवियों ने अपील की है कि सक्षम व्यक्ति अपने पास  पड़ोस के जरूरतमंदों का लॉक डाउन के समय मे ख्याल रखे।हम सबका सहयोग किसी गरीब की भूख मिटा दे यही सबसे पूण्य कर्म है।बताया गया कि संस्था अपना राहत सामग्री पैकेट वितरण का अभियान निरंतर जारी रखेगी।


सरकारी व्यवस्था का इंतजार किये बगैर होप सोसाइटी ऑफ इंडिया के सदस्य मोबाइल वैन से घरों तक आवश्यक समान की आपूर्ति कर रहे हैं। रात आठ बजे  फ़ोन आता है उधर से बोलने वाला व्यक्ति मुझसे  कहता है कि तुम्हारे हिस्से के  दो पैकेट है (जिसमें खाने का ज़रुरी सामान जैसे आटा दाल आलू शकर इत्यादि   है) जो जरूरतमंद हो उस तक पहुँचा दो। अब यहीं से मेरी टेन्शन शुरू होती है कि ये सामान असली ज़रूरतमंद तक पहुँच सके। क्युकी इस वक़्त तो सब ही जरूरतमंद निकल आएंगे। एक घंटे माथापच्ची करके  लोगों से मशविरा करने के बाद दो सबसे ज़्यादा  जरूरतमंद लोग नज़र में आते हैं। जिन्हें इस वक़्त  सबसे ज़्यादा ज़रूरत है। लगभग 9.30 बजे मुझे फ़ोन करने वाला नसीर खां उर्फ़ सनी और साथ में  अनवार खां द होप सोसायटी ऑफ़ इंडिया के जानिब से पैकेटो  से भरा डाला लेकर पहुँच जाते हैं और खाने के सामान को पात्र व्यक्तियों तक पहुँचा दिया जाता है।                                  इनकी सोसायटी  इस मानवीय  कार्य के लिये बधाई की पात्र है। और इस सोसायटी के लोगों का मक़सद सिर्फ़ और सिर्फ़ ज़रूरतमंद लोगों की मदद करना है ना कि समाजसेवा के नाम पर राजनैतिक दुकान चलाना।                                                                  


इस तरह के कई ऐसे प्रयास लोगों के बीच से स्वयं हो रहे है, इनको न तो सरकारी मशीनरी का इंतजार है और न किसी की मदद का।आपात स्तिथी में सोशल डिस्टेंसिंग के समय इस तरह के सोशल ह्यूमैनिटी के प्रयास सभी के लिए प्रेणादायक हैं।


 

 



 

हरदोई जनपद की सभी सीमाएं पूर्णतया सील जनपद के ही लोग केवल आएंगे जिले में



हरदोई। (अयोध्या टाइम्स)कोविड-19 कोरोनावायरस महामारी को लेकर अब तक चल रहा लाक डाउन को और प्रभावी करने के लिए हरदोई जनपद की सभी सीमाएं पूर्णतया सील कर दी गई जिसमें उन्नाव, सीतापुर, लखनऊ, शाहजहांपुर, आदि जिलों को आने जाने वाली सीमाएं सील की गई इसके बाद प्रशासन अब और लाख डाउन को लेकर सख्त हुआ है कछौना चौराहा पर ग्यारह बजकर बीस मिनट पर कछौना कोतवाली का फोर्स तैनात है और चारों तरफ सन्नाटा पसरा हुआ है हरदोई जनपद में केवल हरदोई जनपद का ही व्यक्ति प्रवेश कर सकेगा।


 

 



 

लाॅकडाउन से सम्बन्धित दिशा निर्देशो का पालन किया जाना प्रत्येक नागरिक से अपेक्षित हैः-पुलकित खरे



हरदोई।(अयोध्या टाइम्स)लाॅकडाउन का पालन न करने वालो पर प्रभावी कार्यवाही अमल में लायी जायेगीः-अमित कुमार
हरदोई। कोरोना वायरस के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए जिलाधिकारी पुलकित खरे एवं पुलिस अधीक्षक अमित कुमार ने संयुक्तरूप से लाॅकडाउन का कड़ाई से पालन करने के उद्देश्य से आज जनपद के नुमाईश चैराहा, साण्डी रोड, बावन चुंगी, रामदत्त चैराहा, बड़ा चैराहा, मेन मार्केट, सिनेमा चैराहा सहित अनेक स्थलो का भ्रमण कर आने जाने वाले लोगो से बात करते हुए लाॅकडाउन का पूर्ण रूपेण पालन करने के लिए कहा। उन्होने यह भी कहा कि समस्त जनपदवासी अपने अपने घरों में रहे जोकि पूर्ण रूप से सुरक्षित है। अति आवश्यक कार्य होने पर ही घरों से सीमित मात्रा में लोग निकले तथा लाॅकडाउन से सम्बन्धित दिशा निर्देशो का पालन किया जाना प्रत्येक नागरिक से अपेक्षित है। उन्होने जनता से अपील करते हुए कहा कि आप सब अपना अपना ध्यान रखे तथा बाहर से आने वालो की सूचना जिला प्रशासन एवं कोरोना से सम्बन्धित कन्ट्रोलरूम में तत्काल दे। पुलिस अधीक्षक ने जनपद वासियो से कहा कि लाॅकडाउन का पालन न करने वाले लोगो के विरूद्ध आई0पी0सी0 एक्ट एवं एपिडमिक एक्ट की सुसंगत धाराओं में कड़ी कार्यवाही की जायेगी।
इस अवसर पर सड़को पर यदा कदा निकल रहे वाहनों को कड़ी हिदायत देते हुए कहा कि लाॅक डाउन का पूरी तरह से पालन करे अन्यथा की स्थिति में कड़ी कार्यवाही की जायेगी। रोज मर्रा की जरूरतो को पूरा करने के लिए घर घर सुविधा कार्यक्रम के तहत आपके घर तक सामान पहुॅचाया जा रहा है। इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा प्रत्येक क्षेत्र की सूची सम्बन्धित वार्ड को उपलब्ध करा दी गयी है। घरो के अन्दर रहते हुए फोन करके अपना सामान ले सकते है। घर घर सुविधा नियन्त्रण कार्यक्रम कक्ष के कन्ट्रोल रूम का नम्बर 9454416606, 9454416607 एवं 9454416611 पर काल करके अपनी समस्या नोट करा सकते है जिसका निराकरण तत्काल किया जायेगा। इसके उपरान्त जिला कारागार में जिला न्यायाधीश एवं पुलिस अधीक्षक सहित आवश्यक बैठक में भी सम्मिलित हुए।
कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए कलेक्टेªट सभागार में जिलाधिकारी पुलकित खरे की अध्यक्षता में बैठक आहूत की गई जिसमें पुलिस अधीक्षक, मुख्य विकास अधिकारी, अपर जिलाधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी सहित जनपद के समस्त उप जिलाधिकारी एवं क्षेत्राधिकारियों के साथ बैठक में कोरोना वायरस को रोकने के सम्बन्ध में चर्चा की गई। बैठक में उन्होने बताया कि 25 मार्च 2020 के बाद देश के विभिन्न शहरों से आये हुए लोगो को क्वैरेनटाइन सेन्टर पर 14 दिनो के लिए रखने एवं चिन्हित स्थलो मेे से स्कूल, सरकारी भवन, होटेल आदि में क्वैरेनटाइन सेन्टर बनाये जाने पर चर्चा की गई। उन्होने कहा कि इन सेन्टरो पर सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करायी जायेगी। इस सम्बन्ध में समस्त अधिकारियो को निर्देशित किया गया कि टीम भावना से अपने अपने दायित्वों का निवर्हन करे। इस अवसर पर सामुदायिक रसोई में आने वाले लोगो के खाना खिलाने के सम्बन्ध में भी चर्चा की गई। 
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी निधि गुप्ता वत्स, मुख्य चिकित्सा अधिकारी एस0के0 रावत,  अपर जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक ज्ञानन्जय सिंह, नगर मजिस्टेªट जंग बहादुर यादव, समस्त उप जिलाधिकारी, एवं क्षेत्राधिकारी सहित अपर जिला सूचना अधिकारी दिव्या निगम, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद हरदोई रविशंकर शुक्ला उपस्थित रहे।


 

 



 

ज़िले की सीमा सील और सतर्कता बढ़ाई 

दैनिक अयोध्या टाइम्स संवाददाता,रामपुर-कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने को लेकर केंद्र की सख्ती के बाद प्रशासन ने जिले की सीमाओं पर सतर्कता और बढ़ा दी है। अफसरों ने मुआयना कर दूसरे शहरों से आने वाली लोगों पर निगाह रखने आदेश दिए हैं। इसके साथ ही रामपुर में बाहरियों का प्रवेश पूरी तरह से प्रतिबंधित होने के साथ ही यहां के लोगों के बाहर जाने पर भी रोक लग गई है।कोरोना वायरस को लेकर देशभर में लॉक डाउन लागू है मगर इसका सख्ती से पालन नहीं हो रहा है। इस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को नाराजगी जाहिर करते हुए राज्य सरकारों को लॉक डाउन का सख्ती से पालन कराने के आदेश दिए थे। पीएम की नाराजगी के बाद यूपी सरकार एक्टिव हो गई है। सरकार के आदेश के बाद जिले की सीमा पर सतर्कता और बढ़ा दी गई है।रामपुर की उत्तराखंड से लगने वाली सीमा पर मुस्तैदी बढ़ाई गई है। सीमा को सील कर दिया गया है। यहां से केवल जरूरी सामानों की आपूर्ति के लिए वाहनों की एंट्री देने को कहा गया है। उत्तराखंड से लगने वाली रुद्र बिलास सीमा के साथी स्वार और बाजपुर, मसवासी काशीपुर की सीमा पर चौकसी बढ़ाई गई है। इसके अलावा रामपुर मुरादाबाद, और रामपुर बरेली, शाहबाद, बदायूं और मुरादाबाद की सीमा को भी पूरी तरह सील कर दिया गया।जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने ड्यूटी पर तैनात सभी मजिस्ट्रेट एवं पुलिस अधिकारियों आदेश दिए हैं। किसी भी कीमत पर रामपुर की सीमा में न तो कोई बाहरी आ सके और न ही कोई रामपुर से बाहर जा सके इसका सख्ती से पालन कराया जाए। डीएम ने इसको लेकर अफसरों को लॉक डाउन का सख्ती से पालन करने के आदेश दिए हैं।

 सेनिटाइज किया गया थाना परिसर पिनाहट 




दैनिक अयोध्या टाइम्स संवादाता हिमांशु गुप्ता 

पिनाहट। दिनों दिन बढ़ रही कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए थानाध्यक्ष पिनाहट ने नगर पंचायत कर्मियों के सहयोग से थाना परिसर पिनाहट को सेनीटाइज किया। तथा कीटनाशक दवाओं का छिड़काव भी कराया गया। 

   सोमवार को नगर पंचायत पिनाहट से नगर पंचायत कर्मियों की एक टीम थाना परिसर पिनाहट पहुंची। नगर पंचायत कर्मियों की टीम ने थाना परिसर पिनाहट का सैनिटाइज किया। और कोने कोने में कीटनाशक दवाओं का छिड़काव किया गया। वहीं थाना प्रभारी अंजीश  कुमार का कहना है कि थाना परिसर में रोजाना बाहरी  लोगों का आना-जाना बना रहता है।  जिससे कोरोना जैसी महामारी का खतरा बना रहता है। इसीलिए थाना परिसर पिनाहट  को सैनिटाइज किया गया है । तथा कीटनाशक दवाओं का भी छिड़काव कराया गया है।


 

 



 

कोरोना जैसी महामारी से बचाव के लिए ब्लॉक प्रमुख पिनाहट ने दी पांच लाख रुपये की मदद 




दैनिक अयोध्या टाइम्स संवादाता हिमांशु गुप्ता 

पिनाहट। देश के अंदर कोरोना वायरस जैसी महामारी ने अपने पैर पसारना शुरू कर दिया है। जैसे-जैसे कोरोना वायरस जैसी महामारी देश में अपने पैर पसारना शुरू कर रही है। वैसे वैसे लोगों के आगे खाने पीने की चीजो , दवा , मास्क , सैनेटाइज  की समस्याएं खड़ी हो रही हैं। और देश भर में लोक डाउन होने से देश की आर्थिक स्थिति दिनो दिन बिगड़ती जा रही है। देश की बिगड़ती आर्थिक स्थिति व दिनो दिन बढ़ रही कोरोना जैसी महामारी से बचाव के लिऐ ब्लाक प्रमुख पिनाहट सुग्रीव सिंह चौहान ने स्वास्थ्य विभाग के सीएमओ आगरा  मुकेश कुमार वत्स को जिलाअधिकारी आगरा प्रभु नारायण के नाम 5 लाख रुपये की राशि की मदद बीमारी से बचाव के लिए दी गई है। वही ब्लॉक प्रमुख सुग्रीव चौहान ने सभी से अपील करते हुए कहा है कि सभी देश के प्रधानमंत्री मोदी जी के आदेशों का पालन करते हुए घर से बाहर न निकले हैं । और लोक डाउन का पालन करें।घर पर रहे सुरक्षित रहे । जागरूकता ही बचाव है।


 

 



 

 पिनाहट में जान जोखिम में डाल नदी पार कर रहे ग्रामीण




पिनाहट। लॉक डाउन के चलते बाह पिनाहट क्षेत्र में आलू खुदाई के लिए मध्य प्रदेश के करीब 500 मजदूर बाह क्षेत्र में फंस गए । लॉक डाउन के बाद इन मजदूरों के सामने 2 वक्त की रोटी का संकट खड़ा हो गया है। इन मजदूरों के पास खाने के लिए भी कुछ नहीं है। जिसके चलते भूख और प्यास से बिलख रहे हैं। सरकार द्वारा राहत मिलने के बाद पिनाहट से रविवार को करीब सैकड़ों मजदूर जान जोखिम में रस्सी व स्लीपर के सहारे चंबल नदी पार करते हुए नजर आए।

        रविवार सुबह करीब 10 बजे मध्य प्रदेश के शिवपुरी निवासी लेबर इटावा और बाह से आलू खुदाई का काम खत्म करने के बाद पैदल ही अपने गांव वापस लौट रही थी । लेबर ने पिछले दो दिन से कुछ नहीं खाया था ।  रविवार सुबह करीब 10 बजे थाना प्रभारी पिनाहट अंजीश कुमार ने सभी मजदूरों को पिनाहट की मशहूर गुझिया, चाय व बिस्किट का नाश्ता कराया । फिर पैदल ही 80 मजदूर पिनाहट घाट होते हुए चंबल नदी पर पहुंच गये । जब मजदूर पिनाहट घाट पर पहुंचे तो वहां पर चंबल नदी पार करने की कोई व्यवस्था नहीं थी। कुछ लोग जान जोखिम में डाल रस्सी के सहारे चंबल नदी पार कर रहे थे। लेकिन कुछ लोग रस्सी के सहारे चंबल नदी पार करने की हिम्मत नहीं जुटा सके । इस पर कुछ लोगों ने पास में पड़े स्लीपर को पीपों के बीच रख दिया । इस प्रकार अपनी जान जोखिम में डालते हुए सभी मजदूर चंबल नदी पार करते हुए पैदल ही मध्य प्रदेश की सीमा में चले गये । और शिवपुरी मध्य प्रदेश निवासी मजदूर अमित आदिवासी ने बताया कि हम पैदल ही 233 किलो मीटर की दूरी तय करेंगे । दिल्ली ,  अहमदाबाद,  गुजरात , नोएडा व गाजियाबाद से आने वाले यात्रियों ने भी जान जोखिम में डाल चंबल नदी पार की। पिनाहट घाट पर बना पैंटून पुल मध्य प्रदेश के यात्रियों के लिए है एक मात्र साधन। पिनाहट घाट पर बना पैंटून पुल यूपी के  रास्ते मध्य प्रदेश की सीमा में पहुंचने एक मात्र साधन है। इससे पूर्व इस पैंटून पुल से रोजाना करीब बीस हजार लोगों का आना-जाना बना रहता है। और करीब दो से तीन  वाहनों का भी आवागमन होता है।

साहब तीन दिन से कुछ नहीं खाया , और दौड़ पड़ी पुलिस 

पिनाहट । थाना मनसुख पुरा क्षेत्र के गांव करकौली , कुरकियन पुरा मे आलू खुदाई के लिऐ करीब 50 लोगों की लेबर मध्य प्रदेश से आयी थी । लोक डाउन के चलते अपने गांव नहीं पहुंच सके । पिछले तीन दिनो से खाने पीने की सामग्री न होने के चलते चूल्हे नहीं सुलगे । जिसकी सूचना कूद मजदूरो ने ग्रामीणों के सहयोग से थाना प्रभारी मनसुखपुरा अशोक कुमार को दी । सूचना मिलते ही सीओ पिनाहट हरीश चंद टमटा व समाज सेवी लाल सिंह परिहार गांव पहुँचे । मजदूर रोते बिलखते बोले साहब तीन दिन से कुछ नहीं खाया । समाज सेवियों के सहयोग से पुलिस ने सभी मजदूरो को खाना खिलाया । और सभी मजदूरो को कैंटर से धौलपुर के रास्ते मध्य प्रदेश  भिजवाया ।


 

 



 

क्या ऐसे ही आधी अधूरी तैयारियों से कोरोना से जंग लड़ेगा स्वास्थ्य विभाग 




 -पिनाहट में अस्त-व्यस्त पड़ा समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पिनाहट

पिनाहट । एक तरह पूरा देश कोरोना वायरस जैसी महामारी से लड़ रहा है। कोरोना  जैसी महामारी से लड़ने के लिए केंद्र व प्रदेश सरकार स्वास्थ्य विभाग पर पानी की तरह पैसा बहा रही है। वही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पिनाहट पर किसी भी प्रकार की कोई व्यवस्था नजर नहीं आ रही है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर खड़ी दो एंबुलेंस भी पिछले एक सप्ताह से पंचर खड़ी हुई है। पंचर खड़ी एम्बुलेंस की भी सुध लेने वाला कोई नहीं है।जब की रविवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पिनाहट एम्बुलेंस के अभाव में एक किशोरी ने तड़प तडप कर दम तोड़ दिया था । सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पिनाहट पर गंदगी  के ढेर लगे हुए हैं। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पिनाहट पर इमजेंसी सेवाएं होने पर रेफर के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं बचता है। इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि कोरोना जैसी महामारी से लड़ने के लिए स्वास्थ्य विभाग कहाँ तक सफल है़ । सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर गंदगी के ढेर लगे हुए हैं। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पिनहट बाद दो एंबुलेंस खराब पड़ी हुई हैं।सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर किसी भी प्रकार का आइसोलेशन वार्ड नहीं बनाया गया है। न ही इमरजेंसी में गंभीर मरीजों को उपचार हेतु कोई उचित व्यवस्था है। 

   वही इस मामले में सीएचसी अधीक्षक डॉ विनोद कुमार का कहना है कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पिनाहट को। आइसोलेशन वार्ड नहीं बनाया गया है।


 

 



 

कस्बे में दो आश्रय स्थल और बनाए गए






मौदहा हमीरपुर।देश में बढते हुए कोरोना के संकट और देश के औद्योगिक नगरों से लोगों के पलायन को देखते हुए शासन और प्रशासन ने भी मुश्तैदी दिखाना शुरू कर दिया है।और आज कस्बे से दो और आश्रय स्थल बनाए गए हैं।बताते चलें कि बाहर से पैदल और अन्य साधनों से कस्बे सहित क्षेत्र पहुंचे लोगों को आम लोगों के सम्पर्क से बचाने के लिए आज सुंदर लाल शिवहरे डिग्री कालेज मंकराव और नेशनल इण्टर कालेज मौदहा मे दो आश्रय स्थल बनाए गए हैं।जिनमें बाहर से आने वाले लोगों के लिए रहने खाने के साथ ही स्वास्थ परीक्षण की सुविधा भी उपलब्ध कराई गई है।आज सुबह जिलाधिकारी हमीरपुर ज्ञानेश्वर त्रिपाठी और पुलिस अधीक्षक हमीरपुर श्लोक कुमार ने मंकराव स्थित आश्रय स्थल का निरीक्षण किया और व्यसथा देखी।हालांकि एसडीएम मौदहा अजीत परेश,क्षेत्राधिकारी सौम्या पाण्डेय, नगरपालिका अध्यक्ष रामकिशोर और अधिशासी अधिकारी नगर पालिका बराबर आश्रय स्थल की व्यवस्था देखते रहे।बताते चलें कि मंकराव मे बाहर से आने वालों को स्वास्थ्य परीक्षण के बाद चौदह दिनों तक रखा जायेगा।इसके लिए पूरे महाविद्यालय को अधिग्रहित किया गया है और स्वास्थ्य विभाग की टीम सीएचसी अधीक्षक डा.अनिल सचान के नेतृत्व में लगी हुई है।जबकि कस्बे के बीआरसी प्रांगण और रैन बसेरा मे भी लोगों के ठहरने का इंतजाम किया गया है।समाचार लिखे जाने तक एक सैकडा से अधिक लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण करने के बाद ठहरने का इंतजाम किया गया था।हालांकि अगर इसी रफ्तार से देश के औद्योगिक शहरों से लोग पलायन कर आते रहे तो अगले दो दिन बाद नेशनल इण्टर कालेज में ठहराया जा सकता है।


 

 



 



बैंकों द्वारा किया जा रहा तालाबंदी का उल्लंघन राष्ट्र हित में है या नहीं......






मौदहा हमीरपुर।जहां पूरा देश कोरोना जैसी भीषण महामारी से जंग लड़ रहा है।पूरे देश में तीन सप्ताह के लिए तालाबंदी कर दी गई है।और जनता से लगातार घरों में रहने की अपील की जा रही है।जिसे जनता ने स्वीकार भी किया है।इंसानों के जरूरत की सभी चींजे डोर टू डोर सेलिंग के माध्यम से बेची जा रही है।जिनका उद्देश्य है कि अधिक से अधिक समय लोग अपने घरों पर रहे और अति आवश्यक हो तभी घर से बाहर निकले।और अगर विशेष परिस्थितियों में घर से बाहर निकलना पड रहा है तो सामाजिक दूरी बनाएं रखें।लेकिन इन सब के बीच कस्बे के इलाहाबाद बैंक में राष्ट्र व्यापी तालाबंदी का खुलेआम उल्लंघन किया जा रहा है।कस्बे के इलाहाबाद बैंक में सुबह से लम्बी लाईनें लगी रही।इतना ही नहीं सुबह ग्यारह बजे तक बैंक के मुख्य द्वार के चैनल पर एक तख्ती टांग दी गई थी।जिसमें लिखा हुआ है कि नेट नहीं आने के कारण बैंक बंद है।जबकि उसी से दस कदम दूर सडक के उसपार इलाहाबाद बैंक की मिनी शाखा में भी लम्बी लाईनें लगी हुई थी और वहां पर लेन देन किया जा रहा था।अब यह बात समझ से परे है कि जब मुख्य शाखा में नेट नहीं चल रहा है तो मिनी शाखा यानी ग्राहक सेवा केंद्र में नेट कैसे चल रहा था।क्या यह इलाहाबाद बैंक के कर्मचारियों की अपने कार्य के प्रति उदासीनता है।इतना ही नहीं कस्बे के बैंक आफ बडौदा और भारतीय स्टेट बैंक में भी कमोबेश यही स्थिति रही है।हालांकि पंजाब नेशनल बैंक और एचडीएफसी बैंक में लाकडाऊन का पूरी तरह से पालन किया जा रहा था।अब सोचने वाली बात यह है कि जब कस्बे के सरकारी प्रतिष्ठानों मे ही लाकडाऊन का उल्लंघन किया जा रहा है तो आप आम जनता से लाकडाऊन का पालन करने की आशा कैसे कर सकते हैं।और यह जो भी इलाहाबाद बैंक, भारतीय स्टेट बैंक और बैंक आफ बडौदा मे हो रहा है वह कहीं न कहीं राष्ट्र हित में नहीं है।लेकिन लोगों ने दबी जुबान से बताया कि अगर आम जनता उल्लंघन करें तो उसके लिए पुलिस की लाठी और कानूनी कार्यवाही है।और सरकारी प्रतिष्ठान उल्लंघन करें तो क्या उनके विरुद्ध कानूनी कार्यवाही नहीं होना चाहिए।अब देखना यह है कि क्या इनके विरुद्ध कानूनी कार्यवाही होगी।


 

 



 



"एक टाइम था"

एक टाइम था जब हम भी खुश हुआ करते थे
बिना किसी मास्क के सड़को पर घूमा करते थे
ज़िन्दगी मानो हसीन सी थी हमारी
कोरोना ने कर दी ज़िन्दगी झंड सारी
ये विपत्ति हमारी ही देन है
जानवरो को खाना ये कहा कि केन है
मानो प्रकृति का चाटा है ये
वृक्षो को बहुत काटा है
इंसान ही इंसान से दूर हो चुका है
अब तो डरो यारोंं कुछ नहीं बचा है
समझदारी तुम्हारी तुमपे ही पड़ेगी भारी
निकले जो घर से बाहर तो नसीब न होगी ये दुनियाँ सारी
कुछ तो देश के लिए करके दिखाओ यारोंं
Stayathome का मतलब अब तो मान जाओ यारों
कोरोना ने दिया है अवसर आज
रहो परिवार के साथ
सदियों बाद ये अवसर आया है
घर में पूरा परिवार एकसाथ नज़र आया है
पापा से लेकर भैया तक को आज सुकून मिल पाया है
कोरोना ही सही पूरे परिवार में खुशियों का माहौल छाया है
अन्ताक्षरी से लेकर टीवी के रिमोट में आज अपनापन पाया है
कोरोना ने बहुत कुछ सिखाया है
विदेश छोड़ आज हर कोई गावं में नज़र आया है
देश की मिट्टी ने सबको बुलाया है
तुम भी देश की नागरिकता निभाओ
प्रशासन का पालन करना सबको सिखाओ
तेरी ज़िन्दगी तेरे हाथ है इंसान
खुद भी बच और दूसरों को भी बचाओ
जान हे तो जहान हे वरना यहाँ तो हर कोई महान है
कोरोना से डरो मत घर पर रहना ही असली सम्मान है


बंद आज सारा बाज़ार है
सबको अपना ख्याल है.
खुद को सम्भालो यारों
ये देश का सवाल है


बसों से जा रहे लोगो से पुलिस प्रशासन द्वारा की गयी पूंछतांछ

कानपुर नगर, कोरोना वायरस के चलते पूरे देश में लाॅकडाउन होने के बाद बडी संख्या में दिल्ली आदि स्थानो में काम करने वाले रोजमर्रा के लोग खाली हो गये। ऐसे में भारी संख्या में यह लोग वापस अपने घरों को लौट रहे है। दिल्ली-उत्तर प्रदेश बार्डर पर लाखों लोग मौजूद है जो उत्तर प्रदेश के विभिन्न  जनपदों में रहते है।
                 ऐसे लोग वापस अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिए पैदल भी चल रहे है, वहीं बसों से भी लोग जा रहे है। ऐसे में पुलिस प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद है और शहर में होने वाली हर गतिविधियों पर ध्यान रखे हुए है। जाजमऊ चैकी पुलिस तथा सीओ सिटी उन्नाव यदुवेन्द्र यादव की उपस्थित में सभी  यात्री बसों को रूकवाकर जानकारी ली गयी साथ ही यात्रियांे से खाने के बारे में पूंछा गया। इस दौरान दूसरे गुजरते हुए वाहनो, दुपहिया वाहनो को रोकर जानकारी  ली गयी। जिनके पास रोड पर चलने का पास या कारण था उन्हे जाने दिया गया, बांकी लोगो को वापस भेज दिया गया। इस दौरान यदुवेन्द्र यादव, सीओ सीटी ने कहा कि हम और कानपुर का पुलिस बल यहां मौजूद है। शहर की सीमायें सील है ऐसे में जब लाॅकडाउन जारी है और सडकों पर वाहनो का निकलना मना है हमारी पुलिस खासतौर पर सर्तक है और हर गुजरते वाहनो को रोकर जानकारी ले रही है।





HARI OM GUPTA




सडकों पर उतर कर अपना सामाजिक दायित्व निभा रहे लोग

कानपुर नगर, कोरोना वायरस के कारण शहर में लाॅकडाउन के 6 दिन बीत चुके है लेकिन शहर में मौजूर सामाजिक संस्थाओं और शहरवासियों में परेशान लोगों की मदद का जज्बा लगातार कायम है। सोमवार को हाइवे और जीटी रोड पर अपने-अपने गंतव्य तक जा रहे हजारो लोगों को लोगो ने जगहजगह खाना-पानी, बिस्किट बांटा। इसी प्रकार शहर भर में लोग इस बात का ध्यान रखते रहे कि कोई उनके आस-पास भूखा न रह जाये। स्थानीय थाना पुलिस द्वारा भी क्षेत्र में भ्रमण कर कहा जाता रहा कि जो भूखा रह गया हो वह खाना ले सकता है।
     कोरोना वायरस के कारण चल रहे शहर में लाॅकडाउन के 6वें दिन सडकों पर रह रहे लोगो की मदद करने के लिए शहर की सामाजिक संस्थाये, समाजेसवी तथा आमलोग भी उतर पडे। जिससे जो पडा वह उस प्रकार मदद कर रहा थां। नयी पहल परिवार समिति द्वारा मालरोड, एक्सप्रेस रोड, नयागंज आदि स्थानों परे भोजन बांटा गया। इस संस्था के लोग रोज लोगो को खाना बांट रहे है और प्रतिदिन कहीं न कहीं यह दिखायी दे ही जाते है। जानकारी लेने पर संस्थान के संस्थापक विमल शाह ने बताया कि संस्था के रोहित मिश्रा, विजय मिश्रा, शुभम गुप्ता,  आरिफ, शिवम, कासिम ने बताया कि लोगो की सेवा करने पर उन्हे शांति मिलती है और वह लोग रोज भूखों तक ज्यादा से ज्यादा भोजन पहुंचाने के   प्रयास में रहते है। भोजन के साथ ही हमारी संस्था इस बात का भी ध्यान रख रही है कि लोगों को और क्या जरूरत है। हम बस्तियों में भी जा रहे है, गलियों में भी पहुंच रहे है साथ ही यह भी ध्यानरख रहे है कि कोई व्यक्ति अस्वस्थ तो नही है। 


जिलाधिकारी ने लगायी गंगा में डुबकी, नगर वासियों के स्वस्थ्य रहने की मां गंगा से की प्रार्थना

कानपुर नगर, कानपुर के जिलाधिकारी डा0 ब्रम्हदेव राम तिवारी ने जनपद कानपुर वासियों को कोरोना वायरस से बचाव के लिए गंगा स्नान किया। जिलाधिकारी सोमवार को गंगा तट पर पहुंचे और गंगा में डुबकी लगाते हुए मां गंगा से जनपद  वासियों के स्वस्थ रहने की मांग गंगा से प्रार्थना की। उन्होने सभी जनपद वासियों से अपील करते हुए कहा कि इस वायरस के प्रति  सावधानी बरतें, सोशल डिस्टेंस का पालन करे और अपने घरों में रहे। सडक पर कानपुर प्रशासन आपके लिए मौजूद है आप जागरूक रहिये और लोगों को जागरूक करते रहिये।


असन्द्रा थाने में कांस्टेबल के पद पर तैनात बृजेश सिंह की एक और महानता की झलक




*ब्यूरो रिपोर्ट:-जितेंद्र सिंह अन्नू*

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले के असन्द्रा पुलिस की सराहना आये दिन समाज मे बनी रहती है लगातार बढ़ती दिखाई देती है आज एक तरफ देश का हर ब्यक्ति इस महामारी से सहमा हुआ है वही आज असन्द्रा थाने में तैनात कांस्टेबल बृजेश कुमार सिंह की ड्यूटी देवीगंज चौराहे पर लगाई है सरकार के आदेशानुसार देवीगंज चौराहे पर सन्नाटा दिखाई दे रहा है नियम से दुकाने खुलने से आस पास के लोगो को परेशानिया उठानी पड़ रही है लेकिन हर ब्यक्ति केंद्र सरकार की पहल से सन्तुष्ट भी दिखाई देता है जहाँ एक तरफ देश के कई जिलों से गरीब लोग अपने छोटे छोटे बच्चो के साथ अपने घरों के पलायन कर रहे है वहीं आज देवीगंज चौराहे पर एक मानवता की तस्वीर भी दिखाई दी कुछ राहगीर जो राजस्थान से अपने परिवार के साथ अपने घर को निकले थे आज ओ देवीगंज चौराहे पर से गुजर रहे थे चौराहे पर मौजूद असन्द्रा पुलिसकर्मी कांस्टेबल बृजेश सिंह ने सभी राहगीरों को  बिस्किट व अन्य खाद्य सामग्री दे कर  जलपान कराया और शालीनता दिखाते हुए सभी राहगीरों से अपील किया आप सभी लोग अपने घर पहुँचने से पहले सरकारी अस्पताल जा के जाँच जरूर कराये और 15 दिन घर से बाहर नही निकलना हम सभी को सरकार के साथ मिलकर इस मुहिम का पालन करना है जिससे हम आप और अपना परिवार समाज सुरछित और खुशहाल रहे ।


 

 



 

भारत एकेडमी परिवार लखनऊ की ओर से रुपए 1,00000 (एक लाख ) का अंशदान पीएम रिलीफ फंड में कोरोना वायरस की महामारी से पीड़ित लोगों की सेवा के लिए लिए किया जा रहा रहा हैं,




पुष्प्रन्द्र सिंह ब्यूरो चीफ दैनिक अयोध्या टाइम्स लखनऊ

    लखनऊ:-  भारत  एकेडमी परिवार लखनऊ की ओर से रुपए 1,00000   (एक लाख )  का अंशदान पीएम रिलीफ फंड में कोरोना वायरस की महामारी से पीड़ित  लोगों की  सेवा के लिए लिए किया जा  रहा रहा हैं,  प्रधानमंत्री जी के आव्हान पर पूरा भारत देश लोगों की सेवा में लगा है यह देख कर बहुत अच्छी अनुभूति हो रही है, हमारे डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ ,पुलिस, नगर निगम कर्मचारी, मीडिया एवं हमारे आसपास के युवा इस समय अपने देश  की सेवा में तत्परता से लगे हैं  ऐसा लग रहा है जैसे पूरा देश मानवता के एक सूत्र में  बंध गया है इन सब युवाओं का भारत एकेडमी परिवार हार्दिक नमन करता है जो अपनी जान को जोखिम में डालकर भी एक एक गरीब  परिवार को भोजन पहुंचा रहे हैं  हमारा देश इस महामारी को हराकर फिर से एक बार मजबूती से खड़ा होगा और एक नए भारत का निर्माण होगा यह विश्वास हम सबको होना चाहिए।                      

  संस्थापिका - श्रीमती सरवन सक्सेना mob 9140304749



 



 

थाना ठाकुरगंज चौराहे पर सिविल डिफेन्स के कार्यकर्ताओं ने किया दैनिक अयोध्या टाइम्स के पत्रकार से अभद्रता




*पुष्पेंद्र सिंह ब्यूरो चीफ दैनिक अयोध्या टाइम्स लखनऊ

ठाकुरगंज चौराहे पर सिविल डिफेन्स के कार्यकर्ताओं ने दैनिक अयोध्या टाइम्स दैनिक समाचार पत्र के प्रतिनिधि  से किया अभद्रता । जो लखनऊ से  ब्यूरो चीफ के पद पर है। पुलिस और सिविल डिफेन्स के लोगो  ने प्रेस आई डी कार्ड देखने के बाद भी  कर्फ्यू पास माँगा । जब पत्रकार ने कहाँ की कमिश्नर का आदेश से हम लोगो को छूट है। तब उन लोगो ने कहाँ की आप कमिश्नर से लिखवा लाइए । तब हम जाने देंगे। डीजीपी और लखनऊ कमिश्नर के आदेशो का पालन नही कर रही लखनऊ पुलिस और सिविल सिफेन्स के कार्यकर्ता ।  पत्रकार ने ये भी बताया कि हम डिग्री होल्डर पत्रकार है। पत्रकारिता की बढ़ाई किये है। उसके बाद भी वो लोग नही माने। पत्रकार को जाने से रोका और उसके पेपर के नाम पर किया अभद्र तिपड़ी। पत्रकारों के काम में बाधा डाल रहे है। सिविल डिफेंस के लोग।


 

 



 

Sunday, March 29, 2020

व्यापार मंडल ने स्टॉल लगाकर उचित रेट पर वितरित किया सामान




रतनलाल नगर,दबौली ,गुजैनी, व्यापार मंडल के द्वारा कोरोना जैसी गंभीर बीमारी में लॉकडाउन होने पर किसी भी व्यक्ति द्वारा कालाबाजारी ना हो सके , ऐसी स्थिति में प्रशासन द्वारा तय किए हुए रेट पर सब्जियां व आटा , दबौली गुजैनी टैक्सी स्टैंड चौराहा पर सभी क्षेत्रवासियों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सुबह 6:00 बजे से 11:00 बजे तक सामान वितरित किया गया,  व्यापार मंडल हर दिन सभी क्षेत्रवासियों को जब तक लॉक डाउन रहेगा तब तक सभी उपयोगी समान उपलब्ध कराता रहेगा , व्यापार मंडल के अध्यक्ष ने बताया कि  शहर के सभी जिम्मेदार नागरिकों को यह संकल्प लेना चाहिए कि हमें इस समय गरीबों की हर प्रकार से मदद करनी चाहिए, कार्यक्रम में उपस्थित रहे

 शैलेंद्र पांडे, शिवा ठाकुर, टीटू मिश्रा अनूप तिवारी, अंकुर,राघवेन्द्र गुप्ता,संजय गुप्ता , अमोल वर्मा,  बाबू सिंह चंदेल रज्जन चतुर्वेदी  , आदि पदाधिकारी गण उपस्थित रहे, कानपुर से विजय कुमार की रिपोर्ट


 

 



 

रामपुर मंडी में फुटकर बिक्री पर रोक,थोक विक्रेताओं को टोकन के आधार पर ही सामान मिलेगा

दैनिक अयोध्या टाइम्स संवाददाता,रामपुर-शहर की नई मंडी में अब भीड़ नहीं जुटेगी। यहां पर केवल थोक विक्रेताओं को टोकन के आधार पर ही सामान मिलेगा। इसको लेकर जिलाधिकारी ने आदेश जारी कर दिया है। रामपुर मंडी में हर रोज सुबह के वक्त सब्जी व फलों की खरीदारी के लिए भारी भीड़ उमड़ रही थी। जिससे कोरोनावायरस का संक्रमण बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। इसको देखते हुए प्रशासन ने पहले ही सख्ती दिखाई थी अब इस मामले में फुटकर बिक्री पर रोक लगा दी गई है।रविवार को जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह ने मंडी समिति का निरीक्षण किया। उन्होंने इस दौरान लोगों से एक दूसरे के बीच दूरी बनाए रखने पर जोड़ दिया डीएम ने मंडी समिति सचिव को आदेश दिए हैं की रामपुर मंडी से फुटकर सामान की बिक्री ना की जाए यहां पर केवल थोक विक्रेता ही आएंगे और यहां पर सामान की खरीदारी करेंगे डीएम ने इसके लिए थोक व्यापारियों को टोकन के आधार पर एंट्री देने की व्यवस्था करने के आदेश दिए हैं डीएम ने इस दौरान यहां के आढ़तियों से बातचीत की और उनकी समस्या में जानी डीएम ने व्यापारियों से सब्जी व फलों के साथी किराने के सामान की सप्लाई पूरी तरह सुनिश्चित रखने के आदेश दिए डीएम ने कहा है सप्लाई चैन को सुचारु रखा जाए ताकि आम लोगों को किसी भी तरह की दिक्कत ना हो उन्होंने लॉक डाउन उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने के आदेश दिए हैं डीएम ने इसके अलावा शहर के कई और मोहल्लों का का निरीक्षण किया साथ ही सफाई व्यवस्था का निरीक्षण किया सफाई कर्मियों को उन्होंने मोहल्लों की सफाई व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त रखने के आदेश दिए निरीक्षण के दौरान कई लो गा बाहर निकल आए जिस पर उन्होंने लोगों को घर में ही रहने की सलाह दी। साथ ही लॉक डाउन का उल्लंघन न करने के निर्देश दिए।

दिल्ली से बाइकों पर अपने गांव पहुंचे, पहले रानीखेत में अपना स्वास्थ्य परीक्षण कराया

दैनिक अयोध्या टाइम्स संवाददाता,रामपुर-कोरोना संक्रमण के खतरे के मद्देनजर लॉकडाउन के चलते प्रवासियों का पहाड़ों में अपने घरों को लौटने का क्रम जारी है। संकट के दौर में दुपहिया वाहनों, यहां तक की सैकड़ों मील पैदल चलकर भी लोग पहाड़ों को आ रहें हैं। इसी क्रम में बग्वालीपोखर क्षेत्र के 10 प्रवासी पांच बाइकों से दिल्ली से अपने गांव पहुंचे हैं।

उक्त सभी लोगों ने जागरूकता का परिचय देते हुए गांव जाने से पहले राजकीय चिकित्सालय रानीखेत में अपना स्वास्थ्य परीक्षण कराया। हालांकि सभी स्वास्थ्य मिले। चिकित्सकों ने सभी को 14 दिनों के होम क्वारंटाइन में रहने की सलाह दी है। दल में शामिल सभी लोग दिल्ली में प्राइवेट कंपनियों में काम करते हैं। उन्होंने बताया कि रानीखेत से पूर्व उनका रामपुर में भी स्वास्थ्य चेकअप हुआ था। रानीखेत चिकित्सालय के सीएमएस डॉ. डीएस नेई ने बताया कि दिल्ली से पहुंचे उक्त 10 लोगों का अस्पताल में स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। किसी में भी कोरोना के लक्षी नहीं पाए गए। सभी को होम क्वारंटीन पर रहने की सलाह दी गई है।

यात्रियों को कोरोना के प्रति जागरूकता संदेश के साथ ही लंच पैकेट वितरित कर पुलिस कर रही मदद



कछौना/हरदोई।(अयोध्या टाइम्स) लॉक डाउन के दौरान दूरदराज से आने वाले यात्रियों के लिये पुलिस मददगार बनी है। कछौना चौराहे की पिकेट पर क्षेत्राधिकारी बघौली अखिलेश राजन के नेतृत्व पर दूर-दराज से आए हुए यात्रियों को लंच पैकेट वितरित किए गए हैं जिससे उनकी थकान को दूर किया जा सके लंच पैकेट मिलने से थके हुए यात्रियों के चेहरे पर मुस्कान आई पुलिस मित्र के इस कार्य की लोगों ने खूब सराहना की एवं यात्रा में हुए कष्टों को भी पुलिस से साझा किया पुलिस ने कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए जागरूक भी किया और उन्हें ज्यादा से ज्यादा अपने घरों में रहने की अपील की चौराहे पर ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा कैंप लगाया गया है जिसमें दूर दराज से आए यात्रियों का स्वास्थ्य परीक्षण भी किया जा रहा है कोरोना को हराने के लिए प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है शासन की अपील है कि सरकार द्वारा बनाई गए गाइडलाइन को ज्यादा से ज्यादा फॉलो कर कोरोना को हराना है जिससे मानवता की जीत हो
       इस अवसर पर प्रभारी निरीक्षक रायसिंह व प्रभारी निरीक्षक मल्लावा सहित पुलिस टीम मौजूद रही। पुलिस टीम बढ़-चढ़कर लोगों की सहायता कर रही थी।


 

 



 

कछौना के तिलक नगर में मुहल्ला वासियों ने चंदा लगाकर किया छिड़काव



कछौना/ हरदोई। (अयोध्या टाइम्स)कोविड-19 करो ना वायरस महामारी के चलते कछौना कस्बा के तिलक नगर मोहल्ला में मोहल्ला वासियों के द्वारा चंदा लगाकर दवा का छिड़काव प्रतिदिन किया जा रहा है जिसमें नगर पंचायत का कोई भी सहयोग नहीं है मोहल्ला वासी सुरक्षा की दृष्टिकोण से प्रतिदिन शाम को यह छिड़काव मशीन के द्वारा करते हैं जिसमें मृगेन्द्र सिंह, लाला सिंह,टिंकू सिंह,मनीष गुप्ता,विकाश गुप्ता,दिनेश गुप्ता,
आदि लोग शामिल हैं।


 

 



 

बिल्हौर बार एसोसिएशन द्वारा निरन्तर 2 दिनों से लंच पैकेट बांटे जा रहे




पूर्व बार एसोसिएशन अध्यक्ष एवं पूर्व अध्यक्ष अजीत सिंह, हरिओम भदौरिया द्वारा राहगीर एवं दूर दराज गरीब मजदूर आदि लोगों को 2दिनों से लगातार भोजन व्यवस्था चला रहे है आपको बताते चलें कि देश में फैली  कोरोनो महामारी की वजह से देश  में लॉक डाउन रहने तक भोजन व्यवस्था अनवरत चलती रहेगी आस पास के जिन लोगों को जानकारी नही है वे लोग इन  नम्बरों पर 9794477678,9956986533,9919988988 सम्पर्क करके भोजन प्राप्त कर सकते हैं


 

 



 

गणेश पुर गांव में अभी तक नहीं हुआ सैनिटाइजर का छिड़काव





बघौली /हरदोई। (अयोध्या टाइम्स)विकासखंड अहिरोरी के ग्राम सभा उमरापुर के मजरा गणेश खेड़ा में बजबजाती गंदी नालियों में तथा गांव के अंदर ग्राम प्रधान के द्वारा अब तक किसी भी प्रकार का छिड़काव नहीं कराया गया


बताते चलें कि कोविड-19 करो ना वायरस के चलते आज सभी ब्लाकों में ग्राम प्रधानों के द्वारा अपने अपने ग्राम सभाओं सैनिटाइजर का छिड़काव या फिर अन्य बैक्टीरिया नाशक दवाओं का छिड़काव करवाया जा रहा है लेकिन उमरा पुर ग्राम सभा के मजरा गणेशपुर में अब तक इस छिड़काव के लिए कोई भी जागरूक नहीं हुआ है ग्रामीणों का कहना है कि यहां पर जल्द से जल्द छिड़काव करवाया जाए।


 

 



 



ग्राम पंचायत पायली में मरीजों की स्किनिग घर से बाहर  न निकलने की दी सलाह




सुसनेर। रविवार को ग्राम पंचायत पायली में बाहर काम करने हेतु गये वापस गांव आए लोगों को सुसनेर से आई स्वास्थ  विभाग की टीम द्वारा स्किनिग की गई। स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा राजस्थान से आए हुए लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया ग्राम पायली में सचिव रामलाल बगड़ावत दिनेश मालवीय कैलाश मालवीय द्वारा टीम को बुलाकर लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण करवाया


 

 



 

खेत में लगी अज्ञात कारणों से आग जिससे 2 बीघा गेंहू की फसल हुई खाक।




सुसनेर ।। सुसनेर समीपस्थ ग्राम गुंदलावदा के खेड़ा में एक खेत पर आग लग गई। प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम गुंदलाव दा के खेड़ा के निवासी परमानंद मेगवाल के खेत में अज्ञात कारणों के चलते आग लग गई। आग में उनके लगबग 2 बिगा के गेहूं जलकर खाक हो गए। जब वो खेत पहुंचे तो पता चला की आग लग रही है , फिर फायर बिग्रेड की सहायता से आग पर काबू पाया गया। समय रहते अगर आग नहीं बुझती तो काफी किसानों की फसलें जल जाती।


 

 



 

पंचायत द्वारा किया गया  मास्क वितरण




सुसनेर।।सुसनेर समीपस्थ ग्राम पंचायत गणेशपुरा मे हाथ धुलाकर और लोगो के घर-घर जाकर पँचायत द्वारा सेनेटाजर किया गया ओर मास्क का वितरण भी किया गया। ओर आमजन को जागरूक किया गया तथा कोरोना महामारी बीमारी के संबद्ध में विस्तृत जानकारी  जानकारी दी गई । ओर  पंचायत वासियों से घर पर रहने की अपील की ओर माननीय प्रधानमंत्री जी द्वारा घोषित लॉक डाउन का पालन करने की अपील प्रधान पंचायत प्रतिनिधि निरंजन गोस्वामी द्वारा की गई की। इस अवसर पर सचिव मोहन लाल कादरा सहायक सचिव बालचन्द पाटीदार, जिला पंचायत सदस्य प्रतिनिधि कालू सिंह, सामाजिक कार्यकर्ता अनिल गोस्वामी, अर्जुन सिंह ,राजू दादा, ईश्वर गोस्वामी, विष्णु मास्टर,  गोवर्धन माली ,रविन्द्र गोस्वामी  आदि मौजूद थे।


 

 



 

108 व 102 के कर्मचारियों के परिवार अब भुखमरी के कगार पर



सण्डीला/हरदोई:(अयोध्या टाइम्स)-सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोथावां में लगे 108 व 102 के कर्मचारियों का 2 महीने से वेतन नही मिल पाया है आज उन्ही कर्मचारियों का परिवार में भुखमरी होने का मामला सामने प्रकरण में आया है।
          ब्लॉक अध्यक्ष आदेश कुमार ने बताया कि हमारी समस्या यह है। कि  2 महीने से हम लोगो को वेतन नही मिला है। करीब 7 महीने से पी०एफ० नही कटा हुआ है। न हमारे लिए सरकार सोच रही है। कि कोई किट वगैरा मिलती है। वह भी नही मिल पा रही है। हम सब लोग परेशानीयो से जूझ रहे है। तो हमारा सरकार से यंही कहना है। कि कम्पनी  अपने अंडर से काम कराना चाहती है। तो हम सब लोग कल तक गाड़िया खड़ी कर देंगे। सरकार साफ साफ कह रही है। कि आप प्राइवेट इम्पालाई हो हम अगर हम प्राइवेट इम्पलाई है। तो कल से गाड़ी खड़ी कर देंगे।     
              सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर लगे ई एम टी रचित कुमार  से इस विषय पर पूछा गया तो उन्होंने बताया  कि सरकार हमारे साथ सौतेला व्यवहार कर रही है और बिना हथियार के लिए हम लोगो  को मरने के लिए छोड़ दिया गया है। एक तरफ सरकार कह रही है कि हमारी 4500 एम्बुलेंस चल  रही है और उन 4500 एम्बुलेंस पर जो 19 हजार 200 कर्मचारी है। उनका कोई ध्यान नही है। उनके साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। सरकारी इम्प्लाई के लिए 50 लाख का बीमा है। हमारे लिए कुछ भी नही है। इस महामारी के दौर में हम लोगो को दो महीने से कोई भी सेलरी नही मिल रही है। इन लोगो ने बताया कि इनके परिवार भुखमरी पर है। सरकार इनकी तरफ कोई ध्यान नही दे रही है।
         सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर लगे पायलट जसवीर सिंह ने बताया कि सरकार यह कहती है कि एम्बुलेंस सरकारी है वह हमारी है। लेकिन उस एम्बुलेंस पर लगे पायलट व ईएमटी कर्मचारी वह प्राइवेट है। सरकार जो 8 हजार बन्दे के लिए सरकार कुछ नही दे रही है। तो हम लोग क्या मरने के छोड़ दिये गए है। जिस तरीके से कम्पनी व सरकार इस ओर ध्यान नही दे रहे है। सरकारी कर्मचारी के लिये पच्चास पच्चास लाख के कराए जा रहे है। हम लोगो के लिए कुछ भी बीमा वीमा नही है। दो महीने से हमे वेतन नही मिला है। हम लोग क्या खाएंगे क्या पीयेंगे जितने भी कर्मचारी है। दिन रात भाग रहे है। हम लोगो के लिए सरकार इस समय सरकार सौतेला व्यवहार कर रही है।


 

 



 

दैनिक उपयोग वस्तुओं के वितरण की शिकायत पर उत्तरदायित्व ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत अधिकारी, ग्राम विकास अधिकारी एवं कोटेदार का निर्धारित किया जायेगा:- पुलकित खरे





हरदोई।(अयोध्या टाइम्स) जिलाधिकारी पुलकित खरे ने अवगत कराया कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए पूरे देश को लाॅकडाउन किया जा चुका है, ऐसी दशा में ग्रामीण क्षेत्र में जनसामान्य को दैनिक आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति हेतु विकास खण्ड बावन में स्थिति सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों से दैनिक वस्तुओं जैसे आटा, दाल, चावल, सब्जी, मशाला, तेल, नमक, हल्दी, मिर्चा, अजवाईन, साबुन, दूथपेस्ट एवं अन्य सामग्री की आपूर्ति की जायेगी।उन्होने बताया कि बावन ब्लाक के ग्राम पंचायत बेहटी में कोटेदार सत्यपाल, भिठारी में कमलेश, राजू, शिवकुमार तथा अंगबेहटा में कोटेदार विरेन्द्र कुमार द्वारा आवश्यक वस्तुओं का वितरण किया जायेगा तथा सम्बद्व वाहन सं0 यूपी 30टी-9272 द्वारा आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की जायेगी। ग्राम पंचायत अल्लीपुर में कोटेदार रमाकांत, ककवाही में दुलीचंद्र, काशापुर में सुनीता सिंह, कौढ़ा में नीलम देवी व मुन्नी देवी के कोटे से आवश्यक वस्तुओं का वितरण किया जायेगा और यहां वाहन सं0 यूपी 30एटी-3183 के माध्यम से आपूर्ति की जायेगी। ग्राम पंचायत कौढ़ा में कोटेदार शिशुपाल व सुधीर कुमार, कोर्रिया में महावीर प्रसाद व सत्यापल एवं खुमारीपुर में अनिल सिंह के कोटे से आवश्यक वस्तुओं का वितरण होगा तथा वाहन सं0 यूपी 30टी-5278 के माध्यम से आपूर्ति की जायेगी, ग्राम पंचायत गुलामऊ में कोटेदार रवीन्द्र कुमार, तत्योरा में कल्पना सिंह, कामिनी सिंह, उमादेवी, नयागांव हबीबपुर में अनतराम यादव तथा फूलबेहटा में धनीराम के कोटे से आवश्यक वस्तुओं का वितरण होगा और वाहन सं0 यूपी 74टी-4981 द्वारा आपूर्ति की जायेगी तथा ग्राम पंचायत बजेहरा में कोटेदार अखिलेश, वीरेन्द्र कुमार, चन्द्रपाल, बेहटा सधई में प्रमोद कुमार, मंनसुख लाल एवं विनय कुमार के कोटे से आवश्यक वस्तुओं का वितरण किया जायेगा तथा वाहन संख्या यूपी 30एटी-4742 के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की जायेगी।
इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने सहायक संभागीय अधिकारी परिवहन को निर्देश दिये है कि आवंटित वाहन 29 मार्च 2020 तक खण्ड विकास अधिकारी पिहानी राजेन्द्र कुमार श्रीवास को प्राप्त हो जायें तथा अधिशासी अधिकारी नगर पालिका हरदोई उक्त वाहनों पर दैनिक उपयोग की वस्तुएं जो कि संबंधित वाहनों पर खण्ड विकास अधिकारी की उपस्थित में अपलोड करवाना सुनिश्चित करें तथा प्रति कोटेदार मात्रा का आकलन व्यवहारिक दृष्टिकोण से खण्ड विकास अधिकारी से समन्वय कर निर्धारित कर लें ताकि सामग्री कम न हो। उन्होने कहा है कि खण्ड विकास अधिकारी बावन अपने स्तर से संबंधित ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत अधिकारी एवं ग्राम विकास अधिकारी की डियुटी लिखित रूप में इस निर्देश के साथ लगा दें कि दैनिक उपयोग की सामग्री संबंधित कोटेदार को 29 मार्च 2020 को ही उपलब्ध कराते हुए वांछित धनराशि कोटेदार से प्राप्त कर अधिशासी अधिकारी के माध्यम से संबंधित थोक बिक्रेा को उक्त दिनांक को ही शाम तक उपलब्ध करा दें तथा जनसामान्य को दैनिक उपयोग की वस्तुओं को आवश्यकता अनुसार तत्काल उपलब्ध करायें और इसका सामुहिक उत्तरदायित्व ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत अधिकारी एवं ग्राम विकास अधिकारी को होगा। जिलाधिकारी ने कहा है यदि उपरोक्त ग्रामों से इस आशय की शिकायत प्राप्त होती है, कि जनसामान्य को दैनिक उपयोग की वस्तुएं प्राप्त नहीं हो रही है तो यह सामूहिक उत्तरदायित्व ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत अधिकारी, ग्राम विकास अधिकारी एवं कोटेदार का निर्धारित किया जायेगा। श्री खरे ने जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देश दिये है कि संबंधित कोटेदार से व्यक्तिगत समन्वय कर उपरोक्ता अनुसार कार्यवाही सुनिश्चित करायें।


 

 



 



 लागातार गरीबो तक खाना पहुंचा रही समाजसेवी संस्थायें

कानपुर नगर, कोराना एक महामारी का रूप ले चुका है और इसके चलते पूरे देश में लाॅकडाउन चल रहा है। हालात खराब
होते जा रहे है और कोरोना संक्रमित मरीजो की संख्या भी लगातार बढती जा रही है। ऐसे में प्रशासन भी सख्त हो चला है।
सुबह सडकों पर खरीदारी के लिए निकली भीड के कारण प्रशासन ने दूसरी व्यवस्था शुरू करने का निर्णय लिया है।
          ऐसे में जब शहर में लाॅकडाउन चल रहा है और दैनिक मजदूरो, कामगारो, प्राइवेट काम करने वालो के सामने रोजी रोजी की समस्या उठ खडी हुयी है। इसी बीच राहत की खबर यह है कि प्रशासन के साथ शहर के कई सामाजिक संगठन और समाजसेवी लोगो के साथ जनता भी ऐसे लोगों तक खाना पहुंचाने का काम कर रही है। कुछ लोग अपने स्तर पर खाने का पैकेट
तैयार लोगो तक पहुंचा रहे है। इसी प्रकार नई पहल संस्था के सदस्यों द्वारा लगातार लोगों को तक खाना पहुंचाया जा रहा है। खाने के पैकेट तैयार कर उन लोगो तक पहुंचाया जा रहा है जिन्हे इसकी आवश्यकता है। इसके साथ रोजमर्रा के अन्य सामान भी बंटवाये गये जिनमें दूध के पैकेट, साबुन, बिस्किट के पैकेट भी थी। संस्था के सदस्यो ने घंटाघर से शुरूआत की तथा खपरा मोहाल, रेल बाजार, स्टेशन के आस-पास के क्षेत्रों में खाना वितरित किया। इस दौरान संस्था के रोहित मिश्रा, विजय मिश्रा, शुभम गुप्ता, आरिफ, शिवम जायसवाल, विमल शाह आदि ने कहा के यह हमारा ही नही बल्कि हर उस शहर के नागरिक का कर्तव्य है कि वह ऐसे समय में अपनी क्षमता अनुसार योगदान दे ताकि हम मिलकर इस माहामारी के खिलाफ जंग जीत सकें।





HARI OM GUPTA




समाजसेवियों ने सड़को व गलियों को सेनेटाइज किया व राहगीरों को फल,भोजन वितरित किया



बघौली,हरदोई।(अयोध्या टाइम्स) ग्राम प्रधान अजय प्रताप सिंह  एवं समाज सेवियो ने बघौली चौराहा के समस्त सड़कों गलियों एवं मकानों में सघन सैनिटाइज अभियान चलाया साथ ही लखनऊ दिल्ली आदि से पैदल आ रहे हमारे  क्षेत्र के एवं दूर-दराज  के रिश्तेदारों एवं  राहगीरों को भोजन पूड़ी सब्जी अचार एवं बिस्किट और फल वितरित किए जिसके कारण कई दिनों से भूखे इन यात्रियों के चेहरे पर एक खुशी नजर आई इस वितरण के दौरान मानव दूरी डेढ़ मीटर की जिस पर विशेष ध्यान दिया गया तथा समस्त दूरदराज से आए हुए व्यक्तियों महिलाओं एवं बच्चों को डिटॉल सेनीटाइजर द्वारा सैनिटाइज भी किया गया और खाने से पहले लोगों को साबुन से हाथ भी धूलाए गए। एवं समस्त समाजसेवी जैसे नितेश सक्सेना, श्यामा पाल ,पारुल कश्यप मायाराम वर्मा टीनू सिंह लोधी पिंकू सिंह लोधी आशाराम,सद्दीकआदि ने बढ़-चढ़कर सहभागिता दिखाई तथा डॉ वीरपाल सिंह द्वारा लोगों को वायरस से बचाव की सावधानियां बताई गई तथा लोगों को जागरूक भी किया और इस दौरान यात्रियों ने प्रधानमंत्री ,एंव मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा उठाए जा रहे कदमों की भूरि भूरि प्रशंसा भी की और बघौली पुलिस द्वारा किए जा रहे कार्यों की भी प्रशंसा की इसीलिए प्रधान अजय प्रताप द्वारा बघौली चौराहे को और पुलिस चौकी एवं पर्यावरण चौराहा  को बघौली पुलिस एवं जनता  की  कोरोना वायरस से सुरक्षा हेतु सघन सैनिटाइज कराया गया।और निरंतर अंतराल पर आगे भी इस महामारी से बचाव के लिये किया जाता रहेगा।


 

 



 

समाजसेवियों ने मास्क वितरित किये



हरदोई।(अयोध्या टाइम्स)क्रांतिकारी गरीब सेवा फ़ाउन्डेशन सामाजिक संस्थान   के अध्यक्ष मुकेश विक्रम सिंह ने लोगों को कोविड 19 कोरोना से बचाव एवं सावधानियों के बारे में सभी को जागरूक किया घरों से न निकलने के लोगों को प्रेरित किया साथ ही 25ता से लेकर 29ता तक कई गाँवों में निःशुल्क मास्क वितरण किया गया संस्थान के सभी पदाधिकारी दीपक सिंह गौर योगेश विक्रम सिंह प्रवेश विक्रम सिंह श्याम सिंह अमन सिंह आदि सभी क्रांतिकारी भाईयो का सहयोग रहा वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से बचाव के लिए लोगों को जागरूक किया और घर से ना निकलने सलाह दी गाँव के लोगों ने भारत बन्द का पुरज़ोर समर्थन किया आप सभी का प्यार और आशीर्वाद मिलता रहा 


 

 



 

कोविड 19  कैरोना वायरस के प्रभाव को कम करने के उद्देश्य से घरों मे रामचरित मानस के सुंदर पाठ

लखनऊ  :-अता खान अशोक सिंह की रिपोर्ट


 कोविड 19  कैरोना वायरस के प्रभाव को कम करने के उद्देश्य से  शम्भूका फाउंडेशन के आह्वाहन पर रविवार अमीना बाद आशियाना अली गंज ठाकुर गंज इंदिरा नगर समेत दर्जनों जगहों पर लोगों द्वारा अपने अपने घरों मे रामचरित मानस के सुंदर पाठ का आयोजन किया गया । 



शम्भूका फाउ़डेशन के अध्यक्ष अनुराग गोयल ने जानकारी देते हुए  बताया  कि  कोरोना वायरस के प्रभाव से पूरी दुनिया मे हाहाकार मचा हुआ है। डॉक्टर और वैज्ञानिक इस बीमारी की दवा खोजने में लगे है और साथ ही प्रभावित लोगों की देखभाल कर रहे हैं ।सरकार द्वारा प्रभावी नियंत्रण के लिए लाक डाउन लागू किया गया है । शम्भूका फाउंडेशन के आह्वाहन पर कोरोना वायरस के प्रभाव को कम करने के उद्देश्य से रविवार के दिन अलग अलग जगहों पर इंदिरा नगर अमीना बाद ठाकुर गंज आशियाना के पुराना किला अली गंज के निवासी हर्षित अधिवक्ता वंदना कुमार लिबना जैन पारूल अग्रवाल सोना आहूजा अंजलि पांडेय पद्मा धीर सुधा सिंह आराधना गुप्ता विशाल व प्रियंका समेत करीब चार दर्जन लोगों  द्वारा अपने अपने घरों में सुंदर पाठ किया गया ।   कोरोना के प्रभाव को कम करने के उद्देश्य से शम्भूका फाउंडेशन के आवाहन पर शनिवार को शाम पांच बजे सुंदरकांड का पाठ किया गया। अनुराग गोयल ने बताया कि सुंदर का़ड पाठ का काफी मह्तव है इसके सामूहिक पाठ से निश्चय ही संक्रमण जनित  कोरोना जैसी भयानक बीमारी का प्रभाव कम हो सकेगा । इस सामूहिक सुंदर कांड पाठ मे  लोगों को जोड़ने के लिए आशा वेलफेयर फाउंडेशन के उपाध्यक्ष बृजेंद्र बहादुर मौर्या द्वारा सराहनीय योगदान किया गया ।


आपदा न आये यदि लोग मानव बन कर रहें






यह समय युद्ध का नही महायुद्ध का है। कोरोना केवल एक महामारी नही, महाकाल के रूप में फैल रहा है। अमानवीय जीवन संस्कृति ने हमे इस मुकाम पर लाकर खड़ा कर दिया है। इसके लिए केवल और केवल हम दोषी हैं। जरा सोचिए, लाखो करोड़ो की लक्सरी गाड़ियां आपके किस काम की। महंगे सात और पांच सितारा होटल किस काम के। महंगे रेस्टुरेंट किस काम के। मॉल, बिग बाजार, v मार्ट, डिजाइनर सामान, परफ्यूम, साबुन, डिटेरजेंट, मिठाईयां, आइसक्रीम, यूनिसेक्स सैलून, कालीन, क्रॉकरी, अन्य लक्सरी सामान इस समय किस काम के रह गए। बड़े बड़े युद्ध पोत, विमान, टैंक, मिसाइलें, बंदूकें, बम, परमाणु बम किस काम के रह गए। दुनिया की सभी सत्ताएं चिल्ला चिल्ला कर हमसे आदमी के रूप में बदल जाने को कह रही हैं। आज केवल और केवल मानवीय पक्ष सामने करने को कहा जा रहा है। सनातन पवित्रता ही सबसे बड़े हथियार के रूप में उभरी है। पवित्रता से बड़ा कोई वैज्ञानिक साधन फिलहाल दुनिया को इस महायुद्ध से बचाव में कारगर नही दिख रहा। इसीलिए विभव स्वास्थ्य संगठन भी अब केवल भारत उर भारतीयता के भरोसे है। वह साफ साफ कह रहा है , दुनिया को भारतीय जीवन की सनातन पवित्रता को अपनाना ही होगा।

अभी तक दुनिया के लोग कर क्या रहे थे। प्रकृति से लेकर अंतरिक्ष तक को अपने अपने कब्जे में लेने की होड़ मची थी। जब हम सनातनी बार बार पृथिवी शांति, वनस्पतयः शांति, अन्तरिक्षः शांति का उद्घोष कर रहे थे तो हर सनातन मनुष्य को दुनिया पिछड़ा और अवैज्ञानिक करार देती थी और पिछले 70 वर्षों में भारत मे तैयार की गई कथित प्रगतिशीलता की जमात हमारी हंसी उड़ाने से बाज नही आती थी। हमारी उपासना, पूजा, घड़ी घंट, हवन पूजन, होम, आरती, व्रत , तीज , त्यौहार, होली, दिवाली , दशहरा , नवरात्रि आदि सभी पिछड़ेपन की श्रेणी में थे। घरों से चौके हटा कर किचन स्थापित करने की होड़ मच गई। धरती पर मकान की बजाय हवा में तैरते मचान लक्सरी सुविधाओं के साथ संभ्रांत और कुलीन मान लिए गए। गायों की जगह घरों में कुत्ते ले लिए। खेतों खलिहानों , बगीचों, जंगलों, तालाबो , पहाड़ो, नदियों, पशुओं, पक्षियों सभी को निगल कर हम खुद को सभ्य कहने लगे। 

कल्पना कीजिये कि आपके पास आज भी खेत खलिहान होते, घर मे गाय होती, पशु पक्षी होते, तालाब होते, नदियां अपने प्रवाह में होतीं, भरपूर अनाज होता, अपने खेत की सब्जियां, अपने बगीचों के फल होते, क्या तब भी आपको करोना क्राइसिस से कोई घबराहट होती? आज सब्जी , फल, अनाज आदि के लिए महानगरों में जो दरिद्रता दिख रही है वह क्यों है , अब तो इसकी समीक्षा कर लीजिए। जिस सेनिटाइजशन के लिए आपको चिंता हो रही है वह तो युगों से हमारी जीवन संस्कृति में था। घर के भीतर किसी को प्रवेश देने से पहले उसका हाथ पैर धुलवाते थे। भोजन केवल चौके में करते थे। खेती केवल अपने घर के पशुओं से प्राप्त खाद के बल पर करते थे। न डीजल जलता न पेट्रोल। न प्रदूषण होता न रासायनिक दवा की जरूरत पड़ती। शिक्षा भले कम रही हो लेकिन ज्ञान बहुत था। नैसर्गिक न्याय पर्याप्त था। नैतिकता थी। संवेदना थी। मर्यादा थी। संस्कार थे। बड़े छोटो का लिहाज था। लज्जा थी। भय था। संकोच था। प्रेम था। 

लेकिन हमें तो सब कुछ वह करना था जो पश्चिम सिखा रहा था। घर का भोजन नही भा रहा था। होटल और रेस्टुरेंट में खाना स्टेटस सिंबल बना लिया हमने। घर मे रहना अच्छा नही लगता, होटलों में रहने लगे। डिजाइनर कपड़े, डिजाइनर समान। लग्जरी गाड़ियां। अमर्यादित आचरण। पति पत्नी धर्म से इतर अन्यत्र कामुक संबंधों में डूबने की अभिलाषा। सादगी से दूरी। सूर्य की उपस्थिति में नींद और कृत्रिम प्रकाश में जागरण। कथित आधुनिकता ने आज कहां ला कर खड़ा कर दिया है आपको, इसका अंदाजा भी है?

रोटी, कपड़ा और मकान जैसी मूलभूत आवश्यकता को हमने व्यवसाय बना दिया। जन्म और मरण जैसे प्राकृतिक प्रक्रिया को भी उद्योग बना दिया। आज डॉक्टरों के लिए बहुत कुछ लिखा और कहा जा रहा है लेकिन आधुनिक चिकित्सा के अति वैज्ञानिक भगवानों से पूछिए की किसी बच्चे की पैदाइश और आदमी की मृत्यु को दुनिया का सबसे बड़ा व्यवसाय किसने बनाया है भाई? बीमारी उद्योग बन गयी और तुम खुद को भगवान बना लिए। अब इतनी ही शक्ति तुम्हारे मेडिकल साइंस में थी तो इस एक सूक्ष्म विषाणु से परेशान क्यो हो? तुम्ही ने भारतीय आयुर्वेद, प्राकृतिक औषधियों, मानवीय जीवन संस्कृति, सामाजिक सरोकारों को सर्वाधिक नुकसान पहुचाया है। गौर से अपनी कारस्तानियों की समीक्षा करो। आत्म मंथन करो आधुनिक विज्ञानियों और चिकित्साशास्त्रियों फिर तय करो कि मनुष्यता के लिए तुमने क्या किया ? किसी सामान्य मनुष्य ने दवाओं को विश्व का सबसे बड़ा कारोबार नही बनाया, मनुष्य के शरीर के एक एक अंग का व्यवसाय किसी सामान्य व्यक्ति ने नही किया, किसी सामान्य व्यक्ति ने कभी किसी को जीवन का भय दिखा कर ठगा नही, किसी के खेत, आभूषण आदि कभी किसी सामान्य व्यक्ति ने नही बिक़वाये। अभी दो वर्ष ही हुए, डेंगू और स्वाइन फ्लू का इलाज किस तरह किस कीमत पर किया गया, यह अब सभी को पता है। कोरोना कोई प्राकृतिक विषाणु नही है। चीन हो या अमेरिका , इस पचड़े में नही पड़ना लेकिन यह सत्य है कि एक जैविक हथियार के रूप में कोरोना का निर्माण किया गया। आज यह भस्मासुर बन गया और अब इससे बचाव के लिए सारी दुनिया पागल होकर रास्ता तलाश रही है। अभी तक एक ही रास्ता दिख सका है और वह है कि प्राचीन भारतीय सनातन संस्कृति का अनुसरण कीजिये। दूसरा कोई उपाय है ही नही।

विनोद कुमार मिश्र 'संपादक ' (कादम्बरी टाइम्स )व काउंसलर लखनऊ जनसंचार एवं पत्रकारिता संस्थान l