Posts

Showing posts from April, 2022

सुल्तानपुर की धरोहर है देववृक्ष परिजात : डा.आर.ए.वर्मा

Image
दैनिक अयोध्या टाइम्स सुल्तानपुर ब्यूरो चीफ घनश्याम वर्मा भारतीय जनता पार्टी द्वारा मनाया जा रहे समाजिक न्याय पखवाड़े के अंतर्गत विश्व धरोहर दिवस के उपलक्ष्य में स्थानीय निकाय प्रकोष्ठ के जिला संयोजक अनिल कुमार बरनवाल के संयोजन में नगर पालिका परिषद सुल्तानपुर अंतर्गत परिजात वृक्ष परिसर एवं नगर पंचायत दोस्तपुर, कोइरीपुर व नगर पंचायत लंभुआ में मंदिरों व सार्वजनिक स्थलों पर स्वच्छता अभियान सफाई कर्मियों को सम्मानित किया गया।भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ.आर.ए. वर्मा की अगुवाई में  विश्व धरोहर दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में भाजपाइयों ने  परिजात वृक्ष परिसर में स्वच्छता अभियान चलाकर परिसर को लकदक किया।इस दौरान संगठन जिलाध्यक्ष डॉ.आर. ए.वर्मा ने कहा पारिजात वृक्ष जिले की एक धरोहर है।इसे देववृक्ष भी कहा जाता है। उन्होंने कहा ऐसी धार्मिक मान्यता है कि यह वृक्ष मनोवांछित कामनाओं को पूरा करने वाला है।उन्होंने आगे कहा सामाजिक न्याय पखवाड़े के तहत भाजपा कार्यकर्ता गरीबों, वंचितों, दलितों,शोषितों एवं पिछड़े समाज के अंतिम पायदान पर बैठे व्यक्तियों तक पहुंचेंगे।पार्टी प्रवक्ता विजय सिंह रघुवंशी ने उक्त

दहेज में मिली दूल्हे की साइकिल चोरी

सुरेंद्र मौर्य मिल्कीपुर-अयोध्या। कुमारगंज थाना क्षेत्र के सराय धनेठी गांव में दहेज में दूल्हे को मिली साइकिल चोरों द्वारा पार किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। ग्रामीणों द्वारा साइकिल चोर को रंगे हाथ पकड़ कर पुलिस के सुपुर्द किए जाने के बावजूद भी कुमारगंज पुलिस आरोपी चोरों पर मेहरबान हो गई है। एक साइकिल चोर पुलिस हिरासत में लेने के बावजूद भी पुलिस ने चोरी के बरामद माल साइकिल को बिना कोई कार्यवाही किए पीड़ित के सुपुर्द कर दिया है। पुलिस ने प्रकरण में प्रभावी कार्रवाई के बजाय गिरफ्तार युवक का मात्र शांतिभंग में चालान कर प्रकरण को ठंडे बस्ते में डाल दिया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक कुमारगंज थाना क्षेत्र के सराय धनेठी गांव निवासी तेज प्रताप पासी के भांजी की शादी थी। जिसमें दहेज में देने के लिए तेज प्रताप 48 सौ रुपए की हीरो साइकिल खरीद कर लाया था और कलेवा के दौरान दूल्हे के सुपुर्द भी कर दिया था। विदाई से पूर्व दहेज का सारा सामान दरवाजे पर जगह कम होने के चलते बगल में रख दिया गया था। आरोप है कि इसी बीच गोयड़ी पूरे शुक्ल निवासी रोहित चौहान पुत्र रामकेवल तथा बाबूराम पुत्र रामकिशन मौके पर प

मिड- डे मील का गल्ला गोलमाल करने में लगे प्रधानाध्याक और अध्यापक

Image
दैनिक अयोध्या टाइम्स फतेहपुर _ :हथगांव विकासखंड क्षेत्र के शाहपुर गांव जहां प्राइमरी स्कूल में प्रधानाध्याक और अध्यापक दोनों मिडडे मिल का गल्ला बिना तौल किए वितरण किया जा रहा है अब तक खाद्यान्न वितरण में आप लोगों ने कोटेदारों पर चोरी का आरोप लगते और दोषी पाए जाते देखे होगे। ताजा मामला है_ _फतेहपुर जिले के विकास खंड हथगांव के प्राथमिक विद्यालय शाहपुर के जूनियर हाई स्कूल में प्रधानाध्यापक और अध्यापक बिना तौल के बच्चो को गेंहू चावल जग से नाप कर दे रहे थे।_ _बताया गया कि 1से 5 तक 9किलो 300ग्राम और 6से 8तक 13किलो 500ग्राम गल्ला वितरण किया गया है। लेकिन जब बच्चों के माता पिता ने तौल कराई तब किसी में 5किलो तो किसी में 6 किलो ही निकला। जब शिकायत ग्राम प्रधान तक पहुंची तो इलेक्ट्रॉनिक कांटे से तौल कराकर गल्ला वितरण किया गया।_ अभी तक आप लोगों जानते थे कोटेदार चोरी करने में एक्सपर्ट होते हैं लेकिन अब उन्हीं के साथ में शाहपुर गांव के प्राइमरी स्कूल में गांव के प्रधानाध्याक और अध्यापक दोनों मिडडे मिल का गल्ला बिना तौल बच्चों को वितरण किया जाता है और बच्चों से वजन बताया जाता है 1 से 5 तक 9किलो 3 ग्र

विलुप्त होती कुएं की पूजा

Image
दैनिक अयोध्या टाइम्स फतेहपुर 18 अप्रैल ।फ़तेहपुर में कुएं का खोता अस्तित्व व जल संरक्षण को लेकर होता कूप विवाह का आयोजन,कई गांव के लोग होते शामिल,वर्षों से चल रही परंपरा यूपी के फतेहपुर जिले में कुएं के खो रहे अस्तित्व एवं जल संरक्षण व जल स्रोतों को संरक्षित करने के लिए वर्षों से कूप विवाह की अनूठी प्रथा चलाई जा रही है इस प्रथा में कुओ का विधि विधान से मंत्रोच्चारण के साथ विवाह किया जाता है।इस परंपरा का असर भी देखने को मिला कि तालाब व कुएं में पानी कभी नही सूखता है। फतेहपुर जिले के जहानाबाद स्थित गढ़वा गांव में कूप विवाह की प्रथा सदियों से चली आ रही है जिसके माध्यम से लोगों को जल संरक्षण व जल की महत्ता के साथ कुएं के खो रहे अस्तित्व को बचाने के बारे में बताया जाता है कार्यक्रम के संबंध में जानकारी देते हुए कार्यक्रम संयोजक रामस्वरूप दिवाकर ने बताया कि जल संरक्षण व जल स्रोतों के संरक्षण के लिए हमारे गांव में सदियों से कूप विवाह की प्रथा चली आ रही है जिसमें पूरे विधि विधान के साथ कूप विवाह किया जाता है जिसमें सारी रस्में रिवाज के साथ विवाह संपन्न किया जाता है साथ ही लोगों को जल संरक्षण के