Posts

Showing posts from June, 2021

मिट्टी के बर्तनों से टूटता नाता:-

हिमाचल प्रदेश मण्डी  जिला के पांगणा उप-तहसील मुख्यालय से एक किलोमीटर की दूरी पर स्थित तोगड़ा गांव देवी-देवताओं के देवगण "तोगड़ा" के कारण तोगड़ा नाम से जाना जाता है।"तोगड़ा" शब्द दिव्य शक्ति सम्पन्न देवगण के लिए व्यवहृत होता है।यह लोकोपकारी देवगण कुचाली स्वभाव का माना गया है।देवगण तोगड़ा अपने अनुयायियों की मनोकामनाएँ पूर्ण करने के लिए प्रसिद्ध है। इस गांव के पास धार,डूंघरु,कणाओग,मंशवाड़ा,फरै टल,सराई, देहरी आदि उप-गाँव हैं।तोगड़ा गांव कुम्हारों का गांव है।तोगड़ा निवासी मेहर चंद शर्मा का कहना है कि जनश्रुति है कि रियासती काल में मस्ता नामक ब्राह्मण के पुत्र घुइंया ने कुम्हारों को यहाँ लाकर बसाया था।जवाहर नामक कुम्हार ने सबसे पहले तोगड़ा में बर्तन बनाने शुरू किए।सम्पूर्ण  पांगणा के साथ लगते,नाचण,सुंदर नगर,सराज के शिकारी देवी से सटे ऊपरी क्षेत्र के गांवों में तोगड़ा के बने घड़े,घड़ोलु,पारू,ढोरणु,संजीउठि या,दीपक,सींजीए,चीड़ के पेड़ों का बिरोजा निकालने में प्रयुक्त होने वाले गमले आदि की बहुत मांग  रहती थी।आज तोगड़ा मे मिट्टी के बर्तन निर्माण से जुड़े एक मात्र कुम्हार इन्द्

भारतीय नए आईटी नियम मामला संयुक्त राष्ट्र पहुंचा - भारत का जवाब, नए नियम सोशल मीडिया प्रयोगताओं को सशक्त बनाने के अनुरूप

भारत के नए आईटी नियम मुद्दे पर यूएन एक्सपर्ट के पत्र पर भारत ने कड़ी प्रतिक्रिया दी - एड किशन भावनानी गोंदिया - भारत में पिछले कई दिनों से इलेक्ट्रॉनिक और प्रिंट मीडिया के माध्यम से टूल बॉक्स मुद्दे के बारे में बहुत लंबे समय तक टीवी चैनल और अखबारों के माध्यम से सुन और देख रहे थे। बहुत कम लोगों को समझ में आया होगा कि यह टूलबॉक्स मैटर आखिर है क्या?? दरअसल टूल बॉक्स यह 72 वें गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रीय राजधानी में किसानों की ट्रैक्टर रैली के तथाकथित हिंसक होने, ट्विटर के माध्यम से कुछ अफवाहें फैलने की बात सामने आई थी और कई ट्विटर अकाउंट पर रोक लगी और फिर देर रात तक हटा दी गई और सरकार का कहना था कि कुछ ट्विटर हैश एम प्लानिंग कमेंट जिनोमाइंड लिखने वाले अकाउंट हटाने संबंधी उसका निर्देश माने या फिर कार्रवाई के लिए तैयार रहें।...बस यही से मामला शुरू हुआ और हम बहुत दिनों से देख रहे हैं कि ट्विटर और भारत सरकार में यह मामला चल रहा है और सरकार ने सूचना प्रौद्योगिकी (मध्यवर्ती दिशानिर्देश और डिजिटल मीडिया आचार संहिता) नियम 2021 बनाया जो 26 मई 2021 से लागू हो चुका है इसके पूर्व सरकार ने सूचना प्रौद्य

बैलगाड़ी में सवार बारातियों संग पालकी से पहुंचे दूल्हा राजा

Image
देवरिया में रविवार को निकली एक बारात ने पुरानी परंपराओं की याद ताजा कर दी। इस बारात में दूल्हा पालकी से निकला तो वहीं बाराती बैलगाड़ी से रवाना हुए। इस बारत को जिसने भी देखा देखता ही रह गया। जिस चौराहे से भी यह बारात गुजरी वहां मजमा लग गया।  कुछ बुजुर्ग तो बाराती व दुल्हा दोनों की तारीफ करते नहीं थक रहे थे।  रामपुर कारखाना विकासखंड के कुशहरी गांव के रहने वाले छोटेलाल पाल धनगर पुत्र स्व जवाहर लाल की शादी जिले के रुद्रपुर क्षेत्र के पकड़ी बाजार के नजदीक बलडीहा दल गांव निवासी रामानंद पाल धनगर की पुत्री सरिता से तय थी। रविवार को बारात रवाना होनी थी। इसके लिए कुशहरी में पिछले एक सप्ताह से तैयारी चल रही थी।  छोटेलाल ने अपनी बारात पुराने रीति-रिवाज और परंपरा से निकालने की जानकारी दुल्हन पक्ष को पहले ही दे दिया था। सुबह 11 बैल गाड़ियां सज-धज कर छोटे लाल के दरवाजे पर पहुंची तो लोग देखते ही रह गए। 

भारत का अंतरराष्ट्रीय स्तर पर रुतबा बढ़ा - विवाटेक सम्मेलन पांचवे संस्करण 2021 में दुनिया के इनोवेटर्स और इन्वेस्टर्स को भारत में निवेश का आमंत्रण

अंतर्राष्ट्रीय सम्मिटों, G-7 शिखर सम्मेलन, संयुक्त राष्ट्र के मरुस्थलीकरण भूमिशरण और सूखे पर सम्मेलन तथा विवाटेक सम्मेलन में भारत का रुतबा बड़ा - एड किशन भावनानी गोंदिया - वैश्विक रूप से कोरोना महामारी ने पिछले वर्ष से लेकर अभी 2021 तक पूरे विश्व को जबरदस्त आघात पहुंचाया है। परंतु पूरा विश्व एक साथ मिलकर अपने हौसलों,जज्बों और कोरोना महामारी को हराने के संकल्प से अब कोरोना महामारी ने धीरे-धीरे कदम पीछे हटाना शुरू कर दिया है। भारत सहित वैश्विक मानवीय प्रजाति ने अपनी रणनीतिक जीत की ओर कदम बढ़ा दिए हैं शीघ्र ही कोरोना महामारी को जड़ से समाप्त करने का रणनीतिक रोडमैप का क्रियान्वयन होगा...। बात अगर हम भारत की करें तो 135 करोड़ की जनसंख्या वाला देश जिस जांबाजी और अपने बुलंद हौसलों, जज्बों के साथ इस महामारी से लड़कर स्थिति को नियंत्रण में लाया वो तारीफ ए काबिल है तथा इस महामारी को जड़ से मिटाने की जंग अभी जारी है। यह नजारा सारा विश्व देखकर भारत का लोहा मानने पर मजबूर हुआ है और हो भी क्यों ना, क्योंकि भारत की मिट्टी में जन्मा हर नागरिक अपनी भारत माता की रक्षा के लिए हर वक्त तत्पर और तैयार रहता

वैशाली के हाजीपुर में 1 करोड़ 19 लाख की दिन दहाड़े एच डी एफ सी बैंक हुई लूट

◆ बैंक खुलते ही अंदर घुस गए 5 लुटेरे, बोरे में लूट की रकम रख हुए फरार ◆ CCTV में कैद हुई पूरी वारदात बिहार(ब्यूरो चीफ अखिलेश कुमार) दैनिक अयोध्या टाइम्स। वैशाली जिले के हाजीपुर में लुटेरों ने गुरुवार को बड़ी वारदात को अंजाम दिया है। HDFC बैंक खुलते ही पाँच की संख्या में लुटेरे अंदर दाखिल हुए और बैंक में मौजूद लोगों को बंधक बनाकर 1 करोड़ 19 लाख लूट कर फरार हो गए। इससे इलाके में हड़कंप मच गया है। बताया जाता है कि लुटेरों ने बैंक कर्मियों को हथियार की नोक पर कब्जे में ले लिया। इसके बाद बैंक के कैश रूम से 1 करोड़ से ज्यादा नकदी लूट ली। सीसीटीवी फुटेज में साफ दिख रहा है कि बैंक लूट की इस बड़ी रकम को लुटेरे बोरे में रखकर कंधे पर टांग भाग निकले हैं। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबित पांच की संख्या में बैंक खुलते ही लुटरे ने प्रवेश किया और बन्दूक के नोक पर बैंक कर्मी के साथ साथ ग्राहक को भी बंधक बनाकर लूट की घटना को अंजाम दिया घटना के बाद जिले को सील कर दिया गया है और संघनन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है और सीसीटीव के फूटेज से लुटेरे की पहचान में प्रशासन जुट गए।वैशाली एसपी मनीष कुमार ने लुटरे को धर पकड़

सुहागिनों ने वट सावित्री व्रत रख,पति के दीर्घयु होने की कामना की

Image
     राजापाकर (वैशाली) संवाददाता, दैनिक अयोध्या टाइम्स  पति के दीर्घायु होने की कामना को लेकर गुरूवार को प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न गांवों कस्बों में सुहागिन महिलाओं ने वट सावित्री व्रत उमंग उल्लास व भक्त भाव के वातावरण में मनाई। आज सुबह से ही सुहागिनें सोलह श्रृंगार कर वट वृक्ष के पास पकवान व फलों के साथ  पूजा अर्चना की और भगवान की सलामती के लिए दुआ मांगी। शास्त्रों के अनुसार वट वृक्ष के मूल में में ब्रहमा, मध्य में विष्णु तथा अग्र भाग में शिव का वास माना गया है। वट वृक्ष यानी बरगद के पेड़ को देव वृक्ष माना जाता है। मान्यताओं के अनुसार जेष्ठ माह की अमावस्या के दिन वट वृक्ष में सात बार सूत बांधे जाते हैं। यह भी मान्यता है कि वट वृक्ष में माता सावित्री का भी वास होता है। प्रखंड मुख्यालय सहित नारायणपुर बेलकुंडा बिरनालखनसेन लगुरांव बिलंदपुर बाकरपुर बैकुंठपुर आदि गांवों में सुहागिनों के व्रत किए।

बस और टेंपो की जोरदार टक्कर में 16 की मौत, कई लोग घायल

Image
कानपुर नगर से कुछ दूर सचेंडी थाना क्षेत्र के रतन खेड़ा हाईवे के पास तेज से जा रही बस ने टेंपो को जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि टेंपो उछलकर हाईवे के किनारे जा गिरी। वहीं, बस भी अनियंत्रित होकर पलट गई।  गाड़ियां पलटते ही उसमें बैठी सवारियों में चीख-पुकार मचने लगी। इस भयावह दृश्य को वहां मौजूद जिस किसी शख्स ने भी देखा उसके होश ही उड़ गए। हालांकि इस दौरान कुछ लोग मदद के लिए आगे भी आए। घटना के बाद मौके पर मौजूद लोगों ने देर न करते हुए पुलिस और कंट्रोल रूम को हादसे की जानकारी दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने टेंपो के अंदर फंसे गंभीर रूप से घायलों को सबसे पहले बाहर निकाला। इसके बाद घटनास्थल पर पहुंची दर्जन भर एंबुलेंस सभी को लेकर लाला लाजपत राय एलएलआर अस्पताल रवाना हुईं। कानपुर मेडिकल कालेज के प्राचार्य डॉ. आरबी कमल ने अब तक 16 लोगों की मौत होने की पुष्टि की है। वहीं इतनी बड़ी संख्या में मृत लोगों की सूचना पाते ही आलाधिकारी भी मौके पर पहुंचे रहे हैं। 

सोनपुर सदर भाजपा पश्चिमी मंडल के महामंत्री के पिता के ईलाज के दौरान कोरोना से हुई मौत

Image
सारण (ब्यूरो चीफ संजीत कुमार) दैनिक अयोध्या टाइम्स  सोनपुर -सोनपुर प्रखंड के भाजपा के वरिष्ठ नेता चतुरपुर पंचायत के जन वितरण प्रणाली विक्रेता व सोनपुर सदर भाजपा पश्चिमी मंडल के महामंत्री रवि रंजन सिंह सोनु के पिता ठाकुर कृष्णा कुमार सिंह की सोमवार को पटना स्थित पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल मे निधन हो गया,वे रविवार् को  पटना के चंद्रालय हार्ट अस्पताल कंकङबाग भर्ती थे हार्ट अटैक के कारण फिर अस्पताल प्रबंधक द्वारा नाजुक स्थिति देखते हुए पटना मेडिकल कॉलेज स्थानांतरित कर दिया जहा कोविड की जाच की गई जहां जाचोप्रान्त पॉजिटिव पाया गया जिसके बाद सोमवार को इलाज के क्रम मे ही पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल मे उनकी निधन हो गया जिससे सोनपुर क्षेत्रवासी मे शोक की लहर फैल गई।इनका इलाज सारण के सासद राजीव प्रताप रूढी,बिहार सरकार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय के निगरानी मे चिकित्सक द्वारा की जा रही थी ।इनके निधन से सारण सांसद राजीव प्रताप रूढी ,सोनपुर के पूर्व विधायक विनय कुमार सिंह,मंडल महामंत्री उमाशंकर सिह, रामविनोद सिंह मंडल अध्यक्ष शिवबच्चन सिंह, विमल कुमार चौरसिया ,विनोद सम्राट सिंह,  राजेश कुमार ओझा प

खाकी

आश है खाकी। विश्वास है खाकी। निर्बल का बल है खाकी। जन जन की सुरक्षा है खाकी। सीमाओं की प्रहरी है खाकी। अपराधियों का भय है खाकी। सेवा है खाकी। सुरक्षा है खाकी। सहयोग है खाकी। अपराधियों पर अंकुश है खाकी। आदर्श समाज का प्रतिबिंब है खाकी। करुणा दया और न्याय है खाकी। सकारात्मक सोच है खाकी। त्याग और बलिदान है खाकी। तन का गौरव है खाकी। प्रत्येक संकट का निदान है खाकी।  दिन और रात कर्तव्य का निर्वहन है खाकी।   फिर भी बदनाम है खाकी। रचयिता- डॉ. अशोक कुमार वर्मा