Posts

Showing posts from March, 2022

सम्पूर्ण जिले में उत्सव एवम उल्लास के साथ सौहार्दपूर्ण वातावरण मनाई जा रही है महाशिवरात्रि पर्व

(रवि कुमार भार्गव को-आर्डिनेटर अयोध्या टाइम्स बिहार) दिनांक -01/03/2022 सीतामढ़ी:-सम्पूर्ण जिले में उत्सव एवम उल्लास के साथ सौहार्दपूर्ण वातावरण मनाई जा रही है महाशिवरात्रि पर्व। डीएम-एसपी स्वयं क्षेत्र भ्रमण कर विधिव्यवस्था का ले रहे है जायजा। इस दौरान डीएम ने तीन डीजे ट्रॉली को किया जप्त। जिले को चार भागों में बांट कर अलग-अलग वरीय पदाधिकारियो को विधिव्यवस्था संधारण की जबाबदेही,सभी वरीय अधिकारी भी क्षेत्र भ्रमण कर स्थिति पर बनाये हुए है नजर। सम्पूर्ण जिले में शांतिपूर्ण एवम सौहार्दपूर्ण वातावरण में मनाई जा रही है महाशिवरात्रि पर्व। सम्पूर्ण जिले में सभी महत्वपूर्ण स्थानो पर पर्याप्त संख्या में दंडाधिकारी,पुलिस पदाधिकारी एवम पुलिस बल की तैनाती की गई है।जिले को चार भागों में बांट कर अलग-अलग वरीय पदाधिकारियो को विधिव्यवस्था संधारण की जबाबदेही सौपी गई है। इसके  अतिरिक्त तेज तर्रार अधिकारियों से युक्त क्विक रिस्पांस टीम किसी भी परिस्थिति के लिए 24 घण्टे तैयार है। जिला नियंत्रण कक्ष पूरी तरह से क्रियाशील है जो पल-पल की गतिविधियों पर नजर रख रही है। जिला पदाधिकारी सुनील कुमार यादव एवं पुलिस अ

सोमेश्वरनाथ मंदिर में महादेव पर जलाभिषेक के लिए श्रद्धालुओं की उमड़ी भीड़, हर हर महादेव के जयकारे‌। (रवि कुमार भार्गव को-आर्डिनेटर अयोध्या टाइम्स बिहार) मोतिहारी में आज शिवरात्रि की धूम मची है। बता दें कि शहर के सोमेश्वरनाथ मंदिर में महादेव पर जलाभिषेक के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ शिवनगरी अरेराज में पहुंचने लगी है। भक्तों के आने से पूरी शिवनगरी सोमेश्वर नाथ महादेव के जयकारा से गूंजने लगी है। भक्तों का जत्था बिहार व नेपाल के लगभग सभी शहरों से जल लेकर बाबा के दरबार में पहुंच रहा। वहीं हज़ारों की संख्या में श्रद्धालु भक्तों ने जलाभिषेक कर सोमेश्वर नाथ महादेव के दरबार में माथा टेका। श्रद्धालु भक्तों की सुरक्षा को लेकर मंदिर परिसर, मेला क्षेत्र सहित संवेदनशील स्थानों पर दंडाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। इसके साथ ही मंदिर परिसर में नियंत्रण कक्ष, सीसीटीवी कैमरा के साथ साथ श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए पुलिस बल को तैनात किया गया है

(रवि कुमार भार्गव को-आर्डिनेटर अयोध्या टाइम्स बिहार) मोतिहारी में आज शिवरात्रि की धूम मची है। बता दें कि शहर के सोमेश्वरनाथ मंदिर में महादेव पर जलाभिषेक के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ शिवनगरी अरेराज में पहुंचने लगी है। भक्तों के आने से पूरी शिवनगरी सोमेश्वर नाथ महादेव के जयकारा से गूंजने लगी है। भक्तों का जत्था बिहार व नेपाल के लगभग सभी शहरों से जल लेकर बाबा के दरबार में पहुंच रहा। वहीं हज़ारों की संख्या में श्रद्धालु भक्तों ने जलाभिषेक कर सोमेश्वर नाथ महादेव के दरबार में माथा टेका। श्रद्धालु भक्तों की सुरक्षा को लेकर मंदिर परिसर, मेला क्षेत्र सहित संवेदनशील स्थानों पर दंडाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। इसके साथ ही मंदिर परिसर में नियंत्रण कक्ष, सीसीटीवी कैमरा के साथ साथ श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए पुलिस बल को तैनात किया गया है।

गलतियों के लिये खेद प्रकट करता हूँ स्पीकर साहब के प्रति मेरा अगाध सम्मान है,पर ब्लैकमेलर फर्जी पत्रकार के विरुद्ध भी कार्रवाई की मांग स्पीकर साहब से करता हूँ

(रवि कुमार भार्गव को-आर्डिनेटर अयोध्या टाइम्स बिहार) विधानसभा के गलियारे में कबके बन्द हो चुके पर्यवेक्षक पत्रिका के नाम पर अटल नाम का फर्जी पत्रकार स्पीकर और सीएम का दोस्त बताने का दम्भ भरकर खूब दलाली कर रहा। कभी जनता दल की कहारी करनेवाला तबके मंत्री रमई राम का भी खूब दलाली करता था जरूरत के हिसाब से हर वो चीज मंत्री जी को मुहैया कराता था जो नैतिकता के विरुध्द है  विधानसभा सत्र के दौरान सीएम साहब के इर्द गिर्द ऐसे फेविकोल की तरह चिपक कर टो खिंचवाने के लिए खड़े हो जाता है जैसे उनके काफी निकटतम हो और उसी फ़ोटो के सहारे पटना से दिल्ली तक दलाली में मग्न है। कभी पत्रकार रहा होगा पर कुछ वर्षों से बेकार है फिर भी दलाली के बल पर विधानसभा का प्रेस सलाहकार समिति का सदस्य बना है वैसे तो सदस्य बनाना न बनाना अध्यक्ष का विशेषाधिकार है पर इस फ़र्ज़ी पत्रकार ने दलाली की हद कर दी जब उसने मुझे मोबाइल करके मुह में जबरिया उंगली करके भड़का उत्तेजित कर मुझसे आपत्तिजनक बातें स्पीकर के बारे में करवा लिया बाद में पता चला कि उसने उन बातों को रिकॉर्डिंग कर चमचई दलाली का नमूना पेश करते स्पीकर सहित सैंकड़ो लोगों को सुना

जिलाधिकारी,श्री शीर्षत कपिल अशोक के द्वारा समाहरणालय परिसर , मोतिहारी से जिले के जूनियर बालक एवं बालिका रग्बी टीम को नेशनल चैंपियनशिप में भाग लेने हेतु रवाना किया गया

(रवि कुमार भार्गव को-आर्डिनेटर अयोध्या टाइम्स बिहार) पूर्वी चंपारण:-आज जिलाधिकारी,श्री शीर्षत कपिल अशोक के द्वारा समाहरणालय परिसर , मोतिहारी से जिले के जूनियर बालक एवं बालिका रग्बी टीम को नेशनल चैंपियनशिप में भाग लेने हेतु रवाना किया गया। महाशिवरात्रि के शुभ अवसर पर सभी खिलाड़ियों को शुभकामना देते हुए उन्होंने कहा कि आपका विजय निश्चित हो । आज गांधी मैदान मोतिहारी में सब जूनियर बालक एवं बालिका रग्बी प्रशिक्षण कैम्प संपन्न हुआ । जिसमें 15-15 बालक बालिकाओं ने भाग लिया। कैम्प के समापन के बाद हैदराबाद में होने वाले सब जूनियर नैशनल के लिए बालक एवं बालिका की 12-12 सदस्य की टीम का चयन किया गया ।जो कि इस प्रकार हैं- बालिका:-आरती कुमारी, सलोनी कुमारी,पूनम कुमारी, कुमारी ज्ञान श्री,ब्यूटी कुमारी, स्मिता कुमारी,संध्या कुमारी,दिव्यांसु भारती, सलोनी कुमारी,श्रुति कुमारी, निभा कुमारी,शिवानी कुमारी। कोच:-गौतम प्रताप सिंह मैनेजर:- मधुलिका तिवारी,बालक:- रोहित कुमार, सुदामा कुमार,राहुल वर्मा, बादल कुमार,गोलू कुमार चौधरी,पंकज कुमार यादव, सुमित कुमार,सन्नी कुमार, सुजीत कुमार,शिवम कुमार, राज पाल कुमार,सन्नी

एयर मार्शल श्रीकुमार प्रभाकरण ने भारतीय वायु सेना की पश्चिमी वायु कमान का प्रभार संभाला

एयर मार्शल श्रीकुमार प्रभाकरण ने  01 मार्च 2022 को दिल्ली स्थित पश्चिम वायु कमान के वायु अफसर कमांडिंग-इन-चीफ का कार्यभार संभाला।  एयर मार्शल राष्ट्रीय रक्षा अकादमी पुणे से स्नातक हैं और उन्होने भारतीय वायुसेना मे लड़ाकू पायलट के रूप में  22 दिसंबर 1983 को कमीशन प्राप्त किया । वह डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज वेलिंगटन और नेशनल डिफेंस कॉलेज, नई दिल्ली के पूर्व छात्र हैं। एक अनुभवी मिग-21 पायलट और श्रेणी “A” योग्यता के उड़ान प्रशिक्षक, एयर मार्शल प्रभाकरण को लगभग 5000 घंटे की उड़ान का अनुभव है।  38 वर्षों से अधिक सेवाकाल में, एयर मार्शल प्रभाकरण ने महत्वपूर्ण कमान और स्टाफ नियुक्तियाँ की हैं, जिसमें दो फ्लाइंग बेस की कमांड एवम भारतीय वायु सेना की ‘सूर्यकिरण' ऐरोबाटिक टीम शामिल हैं। वह स्टाफ कॉलेज, वेलिंगटन में प्रशिक्षक और कॉलेज ऑफ एयर वारफेयर (CAW) के कमांडेंट रह चुके हैं। वह काहिरा, मिस्र में भारतीय मिशन में रक्षा अटैची, सहायक वायु सेना अध्यक्ष (आसूचना), महानिदेशक (निरीक्षण और सुरक्षा) एवम गांधीनगर स्थित दक्षिण पश्चिम वायु कमान के वरिष्ठ वायु कार्मिक अफसर के रूप में भी नियुक्त रहे है

सिरहा शिव मंदिर पर महाशिवरात्रि के अवसर पर भोलेनाथ शंकर भगवान माता पार्वती का पूजा अर्चना कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

(रवि कुमार भार्गव को-आर्डिनेटर अयोध्या टाइम्स बिहार) पूर्वी चंपारण जिले के पकरीदयाल प्रखंड अंतर्गत सिराहा पंचायत में नारायणी नदी के तट के पश्चिम स्थित शिव मंदिर में आज महाशिवरात्रि के अवसर पर पूजा करा रहे आचार्य घनश्याम झा,मंदिर निर्माण करता स्वर्गीय सूरज भगत का पोता श्री अनिरुद्ध कुमार एवं उनकी अर्धांगिनी मंजू देवी पूजा की बेदी पर बैठकर भगवान भोले शंकर और माता पार्वती का विधिवत पूजन किया। जहां पर सिरहा पंचायत के माननीय सरपंच श्री मुकेश कुमार कुशवाहा,उप मुखिया श्री मुकेश कुमार साह एवं मंदिर व्यवस्थापक अरुण कुमार कुशवाहा, और साउंड सर्विस का सहयोग करने वाले श्यामलाल कुमार उर्फ टुनटुन कुमार, पैक्स अध्यक्ष वीरेंद्र प्रसाद कुशवाहा, शामिल रहे। जहां पर ग्रामीण मुखलाल प्रसाद रामजी प्रसाद, महन्थ साह, शिवजी साह, आदि लोगों की भागीदारी रही। बताते चलें कि आज सुबह से ही पैक्स अध्यक्ष वीरेंद्र प्रसाद कुशवाहा एवं उप मुखिया मुकेश कुमार साह अनिरुद्ध प्रसाद,अरूण कुमार, विनोद पासवान,मनोज कुमार कुशवाहा,द्वारा शिवालय मंदिर के प्रांगण को लेकर नारायणी नदी के बगल में स्थापित सभी स्थानों की साफ सफाई करवाने में

कोविड-19 टीकाकरण पर अपडेट-409 वां दिन

भारत में कोविड-19   टीकाकरण कवरेज ने आज  177 . 67   करोड़ (1 , 77 , 67 , 18 , 549 )   के आंकड़े को पार कर लिया। आज शाम सात बजे तक टीके की  15   लाख से अधिक (15 , 93 , 931 )   खुराकें दी गईं। अब तक कोविड टीकाकरण के तहत पहचान की गई लाभार्थियों की विभिन्न श्रेणियों (एचसीडब्ल्यू ,  एफएलडब्ल्यू और 60   वर्ष से अधिक) को  2   करोड़  से अधिक  (2 , 00 , 84 , 507 )   एहतिहाती खुराक दी गई हैं। आज देर रात तक दिन की अंतिम रिपोर्ट तैयार होने के साथ दैनिक टीकाकरण के आंकड़ों में और बढ़ोतरी होने की उम्मीद है।  जनसंख्या के प्राथमिकता वाले समूहों के आधार पर टीके की खुराकों के कवरेज का निम्नलिखित तरीके से वर्गीकरण किया गया है:         टीके की खुराक का समग्र कवरेज स्वास्थ्यकर्मी (एचसीडब्ल्यू) पहली खुराक 10401595 दूसरी खुराक 9967653 एहतिहाती खुराक 4180854 अग्रिम मोर्चे के कार्यकर्ता (एफएलडब्ल्यू) पहली खुराक 18409542 दूसरी खुराक 17443191 एहतिहाती खुराक 6231673 15 - 18   वर्ष का आयु वर्ग पहली खुराक 54876416   दूसरी खुराक 27909986 18-44 वर्ष का आयु वर्ग पहली खुराक 551851680 दूसरी खुराक 444586761 45-59 वर्ष का

केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि 2047 के भारत के लिए युवा प्रतिभाओं का मार्गदर्शन करना भारत के लिए सबसे अच्छा निवेश है

Image
केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री  (स्वतंत्र प्रभार), पृथ्वी विज्ञान राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), प्रधानमंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत, पेंशन, परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष राज्यमंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने आज कहा कि युवा प्रतिभाओं का मार्गदर्शन करना 2047 के भारत के लिए सबसे अच्छा निवेश है। उन्होंने कहा कि पिछले 25 वर्षों से सक्रिय युवा वैज्ञानिकों को अगले 25 वर्षों के रोडमैप में महत्वपूर्ण भूमिका निभानी होगी, जब भारत अपनी स्वतंत्रता के 100 वर्ष का उत्सव मनाएगा।   डॉ . जितेंद्र सिंह हमारी वैज्ञानिक उपलब्धियों की अनिवार्यता और भव्यता का उत्सव मनाने के लिए एक अखिल भारतीय कार्यक्रम "विज्ञान सर्वत्र पूज्यते" को यादगार बनाने के लिए राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर राष्ट्रीय विज्ञान सप्ताह के समापन समारोह में बोल रहे थे।     डॉ . जितेंद्र सिंह ने कहा कि "विज्ञान सर्वत्र पूज्यते" के इस एक सप्ताह के स्मरणोत्सव की भावना विज्ञान का उत्सव मनाना और उसका पूजन करना है। उन्होंने कहा कि यह आत्मनिरीक्षण करने और यह देखने का अवसर है कि जो हमारे पास नहीं है, उसकी भरपाई कैसे करत

मूंग दाल के अखिल भारतीय औसत खुदरा मूल्य में 3.86 प्रतिशत की गिरावट दर्ज हुई

सरकार ने आवश्यक खाद्य वस्तुओं की घरेलू उपलब्धता बढ़ाने और उनकी कीमतों को स्थिर रखने के लिए कई सक्रिय एवं निवारक उपाय किए हैं। इन्हीं उपायों की वजह से मूंग दाल की कीमतों में तेज गिरावट दर्ज की गई है। उपभोक्ता कार्य विभाग  ( डीओसीए )  के आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार , 28  फरवरी  2022  को मूंग दाल का अखिल भारतीय औसत खुदरा मूल्य  102.36  रुपये प्रति किलोग्राम दर्ज किया गया ,   जोकि  28  फरवरी  2021  को  106.47  रुपये प्रति किलोग्राम था और इस प्रकार ,   3.86  प्रतिशत की गिरावट आई। मई  2021  में राज्यों / केन्द्र  -  शासित प्रदेशों को आवश्यक खाद्य वस्तुओं की कीमतों की निगरानी करने और आवश्यक वस्तु अधिनियम , 1955  के तहत मिल मालिकों ,  आयातकों और व्यापारियों द्वारा रखे गए दालों के स्टॉक का खुलासा सुनिश्चित करने संबंधी सलाह जारी की गई थी। मूंग को छोड़कर बाकी सभी दालों की स्टॉक सीमा लागू करने के निर्णय को  2  जुलाई  2021  को अधिसूचित किया गया था। उसके बाद , 19  जुलाई  2021  को एक संशोधित आदेश जारी किया गया था जिसमें चार दालों  -  अरहर ,  उड़द ,  मसूर ,  चना  –  के संबंध में  31  अक्टूबर  2021  तक

जिलाधिकारी सुनील कुमार यादव ने समस्त जिलेवासियों को महाशिवरात्रि पर्व की दी बधाई

(रवि कुमार भार्गव को-आर्डिनेटर अयोध्या टाइम्स बिहार) दिनांक -01/03/2022 सीतामढ़ी:-जिलाधिकारी सुनील कुमार यादव ने समस्त जिलेवासियों को महाशिवरात्रि पर्व की दी बधाई। जिलाधिकारी सुनील कुमार यादव ने समस्त जिलेवासियों को महाशिवरात्रि पर्व के अवसर पर उन्हें हार्दिक बधाई एवम शुभकामनाएं देते हुए कहा है कि  आपसी प्रेम, पारस्परिक सौहार्द्र एवं सामाजिक सद्भाव के साथ महाशिवरात्रि का पर्व मनाएं। यह पर्व समस्त जिलेवासियों के जीवन मे  सुख, शांति और समृद्धि लेकर आए। सजग रहे,सतर्क रहें,मास्क पहनकर ही बाहर निकले,सदैव सामाजिक दूरी का पालन करे,किसी भी प्रकार के लक्षण महसूस होने पर अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर सम्पर्क करें। हमेशा कोरोना गाइडलाइन का जरूर पालन करे। हम सब मिलकर ही कोरोना संक्रमण के चेन को रोक सकते है।

अरसीकेरे कर्नाटक का भव्य प्राचीन सहस्रकूट मंदिर

Image
  -डॉ. महेन्द्रकुमार जैन ‘मनुज’, इन्दौर कर्नाटक का अरसीकेरे एक प्रमुख जैन केंद्र था। कहा जाता है कि यहाँ होयसलाओं के दौरान कई जैन मंदिर थे। अरसीकेरे शहर न केवल राजा वीरा बल्लाला-द्वितीय द्वारा निर्मित शिवालय है, बल्कि वह जगह भी है जहां कम विख्यात सहस्रकूट जिनालय, उसी काल की एक जैन बसदी अभी भी बुलंदी पर है। माना जाता है कि बल्लाला द सेकंड के शिखर शासन के दौरान यह सहस्रकूट जिनालय 1220 ईस्वी में स्थापित हुए थे।  यह जिनालय अत्यंत नक्काशीदार है। इसमें पंक्तिबद्ध स्वतंत्र 1008 छोटीं-छोटीं जिन प्रतिमाएं हैं। इसी के कारण यह सहस्रकूट जिन बिम्ब कहलाता है। सहस्र अर्थात् हजार कूट अर्थात् मंदिर। अभिलेखों से संकेत मिलता है कि इस मंदिर का निर्माण रेचना द्वारा किया गया था। जिसे दंडनायक रेचीमय्या भी कहा जाता है। बल्लाला का एक जनरल और एक भक्त जैन थे। सहस्रकुट पुरानी और नई मूर्तियाँ- सहस्रकुटा तीर्थंकर की एक प्राचीन ग्रेनाइट मूर्ति जो होयसला काल में नक्काशी की गई थी, इस मंदिर में स्थापित है। मूर्ति एक समय के साथ क्षतिग्रस्त हो गई थी और इसलिए मंदिर के ट्रस्टियों ने श्रवणबेलगोला जैन मठ के परमपूज्य स्