मिड- डे मील का गल्ला गोलमाल करने में लगे प्रधानाध्याक और अध्यापक

दैनिक अयोध्या टाइम्स फतेहपुर



_ :हथगांव विकासखंड क्षेत्र के शाहपुर गांव जहां प्राइमरी स्कूल में प्रधानाध्याक और अध्यापक दोनों मिडडे मिल का गल्ला बिना तौल किए वितरण किया जा रहा है अब तक खाद्यान्न वितरण में आप लोगों ने कोटेदारों पर चोरी का आरोप लगते और दोषी पाए जाते देखे होगे। ताजा मामला है_ _फतेहपुर जिले के विकास खंड हथगांव के प्राथमिक विद्यालय शाहपुर के जूनियर हाई स्कूल में प्रधानाध्यापक और अध्यापक बिना तौल के बच्चो को गेंहू चावल जग से नाप कर दे रहे थे।_

_बताया गया कि 1से 5 तक 9किलो 300ग्राम और 6से 8तक 13किलो 500ग्राम गल्ला वितरण किया गया है। लेकिन जब बच्चों के माता पिता ने तौल कराई तब किसी में 5किलो तो किसी में 6 किलो ही निकला। जब शिकायत ग्राम प्रधान तक पहुंची तो इलेक्ट्रॉनिक कांटे से तौल कराकर गल्ला वितरण किया गया।_

अभी तक आप लोगों जानते थे कोटेदार चोरी करने में एक्सपर्ट होते हैं लेकिन अब उन्हीं के साथ में शाहपुर गांव के प्राइमरी स्कूल में गांव के प्रधानाध्याक और अध्यापक दोनों मिडडे मिल का गल्ला बिना तौल बच्चों को वितरण किया जाता है और बच्चों से वजन बताया जाता है 1 से 5 तक 9किलो 3 ग्राम और 6 से 8 तक 13किलो 500 ग्राम लेकिन जब बच्चों को गल्ला वितरण किया गया प्रधानाध्याक और अध्यापक द्वारा तो बच्चों को जग से नाप कर दिया जा रहा था और बताया जा रहा था प्रति बच्चों का गल्ला 1 से 5   9 किलो 300,  6 से 8 ,13 किलो 500 जब बच्चों के माता पिता ने देखा कि गला का वजन कम है तो उन्होंने दूसरी दुकान में गला का वजन कराया जिसमें किसी को 5 किलो तो किसी को 6 किलो मिला गल्ला

          प्राइमरी स्कूल का बच्चा चाहे वो 1 से 5 तक का हो या 6 से 8 तक जब बच्चों के माता-पिता ने प्रधानाध्याक और अध्यापक से सही तोल के लिए कहा तो वह लड़ने झगड़ने लगे उन्होंने कहा कोटेदार ने आधे लोगों को गल्ला नहीं दिया वही गुस्साए हुए बच्चों के परिजनों ने ग्राम प्रधान से सिकायात की जिसमें ग्राम प्रधान मोहम्मद शमी ने तुरंत मामले को संज्ञान में लेकर इलेक्ट्रॉनिक काटा तौल करने के लिए मंगवाया फिर उसी इलेक्ट्रॉनिक काटा से तौल कराया गया जिसमें बच्चों को गल्ला तौल के बराबर दिया गया कोटेदार का तो नाम ही था कि तौल में चोरी और एक यूनिट कम देते है पर अब ग्राम शाहपुर के प्राइमरी स्कूल में प्रधानाध्याक और स्कूल के अध्यापक अपना अपना हिस्सा लगाए बहटे हुए है आप लोग कोटा में हो या स्कूल में गल्ला तौल कर लें 1 किलो 2 किलो कर के यही। उन लोगों का अच्छा खासा बचा लेते है कोटेदार गांव का गल्ला में घटतौली करने में लगा और उन्हीं की सराहना से शाहपुर के प्राइमरी स्कूल के अध्यापक बच्चों का गल्ला घपला करने में लगे हुए है।

Comments