विज्ञापन

विज्ञापन

Friday, May 8, 2020

कोरोना के दौर में पत्रकारो की अहम भूमिका पत्रकारों को मिलना चाहिये कवर बीमा: मुफ्ती मोहम्मद अज़ीम अज़हरी

दैनिक अयोध्या टाइम्स ,मिलक -लोगों को कोरोना के  कहर से बचाने के लिए मीडिया कर्मी लोगों के बीच पहुंच कर उनके लिए दिन रात खतरे से जूझ कर सच्ची खबर कवरेज कर रहे है। स्वास्थ्य आपदा कोविड़-19 वायरस को रोकने के लिए लॉकडाउन जारी है, जिस प्रकार युद्ध में रिपोर्टिंग के दौरान मीडिया कर्मी को अपनी जान का खतरा रहता है, ठीक वैसे ही स्थिति इस महामारी में कवरेज के दौरान पैदा हो गई है।

पत्रकार डाक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ, सफाई कर्मचारी, स्वास्थ्य क्षेत्र से जुड़े अन्य कर्मचारियों के साथ मीडिया कर्मी भी डट कर इसका सामना कर रहे है.कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे के बीच मीडिया कर्मियों द्वारा की जा रही रिपोर्टिंग की तारीफ करनी चाहिये कोविड-19 से पैदा हुई परिस्थितियों के चलते आज देश और प्रदेश काफी विकट समय से गुजर रहा है। ऐसे में प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया के पत्रकार सटीक रिपोर्टिंग कर हर समाचार घर-घर तक पहुंचाने का अपना कर्तव्य बखूबी निभा रहे हैं। इसके लिए सभी मीडिया कर्मियों को कोरोना फाइटर का दर्जा मिलना चाहिये। आज कर्फ्यू और लॉकडाउन के चलते जहां समस्त नागरिक घर पर रह कर कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने में अपना योगदान दे रहें हैं। ऐसे समय में मीडिया की भूमिका और भी ज्यादा बढ़ जाती है। ऐसी परिस्थितियों में मीडिया कर्मी आम नागरिकों तक सही सूचनाएं पहुंचाने में उल्‍लेखनीय कार्य कर रहे है। जिससे सोशल मीडिया में अफवाहों पर भी रोक लगी है। इस समय में कोरोना के खिलाफ जिस प्रकार डॉक्टर व चिकित्सा कर्मी, प्रशासन, पुलिस बल व सफाई कर्मचारी अपने दायित्व का निर्वाह कर रहे हैं, उसी प्रकार मीडिया कर्मी भी कोरोना के कर्मवीरों की ही भांति कंधे से कंधा मिला कर अपना कार्य कर रहे हैं। उनके इस कार्य की जितनी प्रशंसा की जाए उतनी कम है।

पत्रकारों को कोरोना योध्दा का दर्जा मिलना चाहिये।

कोविड़-19 वायरस के खिलाफ जारी युद्ध में अपनी जान जोखिम में डालकर देश की जनता को सूचना उपलब्ध कराने वाले मीडिया कर्मियों के कोरोना वारियर्स (पत्रकार- कैमरामेन) अपनी जान की परवाह किये वगैर देश हित के लिये डटे हुये है।आज कोरोना आपदा आई है उसमें हम सबको इस तरह की चिंताओं को दूर कर देना चाहिए।कमर कस कर तैयार रहें । यह कोरोना युग पत्रकारिता के लिए ऐसी चुनौती लेकर आया है जैसी उसे पहले कभी नहीं मिली थी।

No comments:

Post a Comment