विज्ञापन

विज्ञापन

Friday, May 15, 2020

ब्लाक सिद्धौर के अलग-अलग दो गांव में तीन लोगों को रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर प्रशासन में फिर से मचा हड़कंप







*जिला संवाददाता विनय सिंह*

 सिद्धौर ब्लाक क्षेत्र के अलग-अलग दो गांव में तीन लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने पर प्रशासन में हड़कंप मच गया   प्रशासन द्वारा गांव में सैनिटाइजर का छिड़काव कराया गया तथा गांव को जाने वाले आने वाले सभी रास्तों  पर बैरियर लगाकर  आने जाने पर पाबंदी लगा दी गई उपजिला अधिकारी पर  पुलिस अधीक्षक अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी  सीएचसी अधीक्षक सिद्धौर ने गांव पहुंचकर कोरोना पार्टी व्यक्तियों के संपर्क में आए लगभग 32 लोगों को क्वॉरेंटाइन किया गया विकासखंड सिद्धौर क्षेत्र की ग्राम पंचायत सराय मांडू मजरे नसीरपुर गांव में महाराष्ट्र से 11 मई को दो सगे भाई सुनील कुमार और सुशील कुमार पुत्र गण हेमराज वापस आए थे जिन्हें ग्राम प्रधान धर्मेंद्र कुमार ने गांव के ही प्राथमिक विद्यालय में क्वारनटीन करा कर इसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग को दी थी जिस पर 12 मई को जिले से पहुंची टीम ने दोनों सगे भाई सुनील कुमार व सुशील कुमार कथा उसी विद्यालय में मुरादाबाद से वापस आए चंद्र माहौल को भी क्वॉरेंटाइन किया गया था तीनों लोगों सैंपल जांच के लिए भेजा गया था बीती रात दोनों सगे भाइयों की रिपोर्ट मैं कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि मिलते ही आनन-फानन उप जिलाधिकारी हैदर गढ़ योगेंद्र कुमार तहसीलदार हैदर गढ़ राहुल सिंह सीएचसी अधीक्षक सिद्धौर डॉ हरप्रीत सिंह सीएचसी कोठी अधीक्षक डॉक्टर जितेंद्र पाल की टीम ने पहुंचकर कोरोना संक्रमित दोनों भाइयों को इलाज के लिए एंबुलेंस से चंद्रा हॉस्पिटल पहुंचाया गया विद्यालय में एक साथ का रिंगटोन किए गए चंद्रमोहन को प्राथमिक विद्यालय सराय मांजू से निकाल के प्राथमिक विद्यालय नसीरपुर में रखा गया जांच रिपोर्ट में चंद्र मॉल की रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई इसके आलावा फायर बिग्रेड हैदर गढ़ की गाड़ी ने पहुंचकर गांव की गलियों को सेनीटाइज किया गया और  थानाध्यक्ष कोठी शैलेश यादव द्वारा गांव को जाने जाने वाले सभी रास्तों पर बैरियर लगाकर गांव के अंदर किसी भी व्यक्ति को जाने पर रोक लगा दी है इसके अलावा सिद्धौर ब्लाक की ग्राम पंचायत बुधनी निवासी रंजीत कुमार अहमदाबाद से अपनी ससुराल दुरौंधा गांव मे वापस आया था  जिसे  ग्राम प्रधान द्वारा  गांव के प्राथमिक विद्यालय में कैंटीन कराया गया था 12 मई को रंजीत का सैंपल जांच के लिए भेजा गया था जिसकी   कोरोना रिपोर्ट  पाजटिव  मिलने पर रात में ही प्रशासन की टीम ने पहुंचकर रंजीत को इलाज के लिए चंद्रा हॉस्पिटल के  भेज दिया और वही रंजीत के  में आने वाले लगभग 20 लोगों को क्वारनटीन किया गया  पूरे गांव को फायर बिग्रेड हैदर गढ़ की गाड़ी ने पहुंचकर सैनिटाइज कराया इस गांव को भी गांव को जाने वाले सभी रास्तों पर बैरियर लगाकर सील कर दिया गया गांव के किसी भी व्यक्ति को बाहर जाने और ना ही किसी को गांव के अंदर जाने पर पूरी तरह से पाबंदी लगा दी गई है 

 

उप जिलाधिकारी हैदर गढ़ योगेंद्र कुमार ने बताया सूचना मिलते ही राजस्व पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पहुंचकर गांव में अपना अपना कार्य शुरू कर दिया और दोनों गांव को हॉटस्पॉट घोषित करते हुए पूरी तरह से पाबन्दी लगा दी गयी है


 





 



 



 




 



No comments:

Post a Comment