जेठवारा के गालीबाज इंस्पेक्टर ने खाकी को किया शर्मशार




दैनिक अयोध्या टाइम्स संवाददाता प्रवीण कुमार यादव।।

 

प्रतापगढ़। जेठवारा।।जेठवारा के गालीबाज इंस्पेक्टर ने खाकी को किया शर्मशार।योगी की पुलिस हुई बेलगाम, प्रतापगढ़ के जेठवारा इंस्पेक्टर का शर्मनाक चेहरा हुआ उजागर। परेशानी में युवक को पुलिस को फोन कर मदद मांगना पड़ा महंगा। दर्द से कराह रही बहन की बेरहम पिटाई से आहत भाई ने जेठवारा इंस्पेक्टर को सीयूजी पर फोन कर मांगी मदद तो इंस्पेक्टर का पारा हुआ हाई। मदद के बजाय इंस्पेक्टर ने साहब ने पीड़ित की मदद के बजाय मां, बहन और बेटी को नवाजा भद्दी भद्दी गलियों से, इतना ही नही जाति सूचक गलियों से भी नवाजा। ब्राह्मण होना पीड़ित के लिए हुआ गुनाह। अपराध से जूझ रहे जिले की पुलिस का बेशर्म चेहरा हुआ उजागर, प्रतिदिन रातदिन हो रहे अपराध पर लगाम लगा पाने में असफल पुलिस पीड़ितों को ही कर रही है प्रताड़ित। ऐसे में पीड़ित किससे करें फरियाद। साल भर से एक ही थानों में जमे है थानेदार। भाजपा की सरकार में खुलेआम संविधान की धज्जियां उड़ा रहे कोतवाल जेठवारा। पीड़ित के साथ पुलिस ऐसी करेंगी बर्ताव तो कैसे बदलेगा यूपी पुलिस का चाल चरित्र और चेहरा। अब देखना यह है कि तेजतर्रार प्रतापगढ़ पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह किस प्रकार जांच करके कठोर कार्रवाई करते हैं। यह फिर स्थानांतरण करके छूमंतर। संविधान में क्या पुलिस को गाली देने का अधिकार दिया गया है नहीं दिया गया है तो जल्द से जल्द जांच करके उचित कार्यवाही करना जरूरी। कानून सबके लिए बराबर समय रहते होना चाहिए उचित कार्रवाई।।


 

 



 

Comments

Popular posts from this blog

सकारात्मक अभिवृत्ति

तुम मेरी पहली और आखरी आशा

बस और टेंपो की जोरदार टक्कर में 16 की मौत, कई लोग घायल