विज्ञापन

विज्ञापन

Thursday, May 14, 2020

जिंदगी से जंग हार चुके युवक के लिए संजीवनी बनकर पहुँची पुलिस

बघौली /हरदोई। (अयोध्या टाइम्स)थाना क्षेत्र के अंतर्गत गोपार गांव में एक युवक ने अज्ञात कारणों के चलते आत्महत्या करने के उद्देश्य से फांसी लगा ली फांसी पर झूलते परिजनों ने देखा तो आनन-फानन में उसे उतार लिया और मृत समझकर सड़क किनारे रखकर विलाप करने लगे ।तभी उधर से गुजर रहे पुलिसकर्मियों के सूझबूझ से युवक की सांस लौट आयी। जानकारी के अनुसार गोपार गांव में सुंदर लाल के पुत्र अतुल कुमार उम्र लगभग 30 वर्ष ने अज्ञात कारणों के चलते आत्महत्या करने के उद्देश्य से फांसी लगाई तब तक फांसी पर झूलते हुए अतुल कुमार को परिजनों ने देख लिया जब तक वह फांसी काटकर उसे उतारते काफी देर हो चुकी थी सांसें थम गई थी फांसी से उतारकर मृत समझकर परिवारी जन सड़क किनारे मकान के बाहर रखकर विलाप कर रहे थे तभी अचानक उधर से गुजर रहे बघौली थाना में तैनात कांस्टेबल हरिशंकर शर्मा तथा कपिल यादव ने भीड़ देखकर बाइक रोक दी जानकारी करने पर पता चला तो हरिशंकर शर्मा तथा कपिल यादव ने मिलकर युवक के सीने को पंप करना शुरू कर दिया धीरे-धीरे सांसो का आदान-प्रदान शुरू होने लगा जिससे कांस्टेबल को उम्मीद हो गई कि शायद बच जाए लगातार हर्ट को पंप करते रहे ।  एंबुलेंस के आने पर उक्त व्यक्ति को कछौना सीएचसी पहुंचाया गया ।जहाँ युवक की हालत सही बताई गयी ।संजीवनी बनकर पहुंचे पुलिसकर्मियों व उनकी सूझबूझ से ही युवक की जान वापस आ गई थी ।शेष उपचार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कछौना में चल रहा है।फिलहाल अतुल अब खतरे से बाहर है।दोनों सिपाहियों की सूझबूझ से प्रसन्न होकर अपर पुलिस अधीक्षक ज्ञानेंद्र सिंह ने उन्हें पुरस्कृत करने की घोषणा की है।


No comments:

Post a Comment