पुलिस लिखी गाड़ी से लॉकडाउन की खुल के उड़ाई गई धज्जियां

पुष्पेंद्र सिंह सवांददाता दैनिक अयोध्या टाइम्स लखनऊ

 

लखनऊ लॉकडाउन 4 में आपको बता दे की मामला समय लगभग 8 बजके 30 मिनट का है, जैसा कि आप सभी देख रहे है कि सरकारी गाड़ी UP 32 BG 2791 ब्लैक अपाचे जोकि पुलिस विभाग के अभिलेखों में दर्ज है। पुलिस विभाग की गाड़ी का लॉकडाउन में हो रहा दुरुपयोग, क्या किसी बड़ी घटना के इंतजार में है लखनऊ पुलिस। आपको बता दे जिस गाड़ी की बात कर रहें है उसे दो युवक लखनऊ के हज़रतगंज थाने के अंतर्गत आने वाला क्षेत्र बालू अड्डे में बिना मास्क और बिना हेलमेट के पुलिस लिखी गाड़ी साथ में पुलिस का डंडा ऐसे लेकर भ्रमण कर रहे है मानो पुलिस विभाग के कर्मचारी हो। जहां लॉकडाउन में पुलिस प्रशासन के आला अधिकारी लॉकडाउन में सभी लखनऊ वासियों से सख्ती से लॉकडाउन का पालन कराते नजर आ रहे है, वही इन महाशय जैसे लोग पुलिस विभाग के अधिकारियों के किये कराये पे पानी फेरते नजर रह है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस विभाग की माने तो सरकारी गाड़ी जो पुलिस विभाग के अभिलेखों में दर्ज है, जिसका दुरुपयोग करना सर्वदा अपराध है, चाहे वह पुलिस कर्मी क्यो न हो, उसे इस कृत्य के लिए पुलिस विभाग के आला अधिकारी दंडित अथवा निलंबित भी कर सकते है। इस मामले में लखनऊ पुलिस सवालों के घेरे में नजर आ रही है। आखिर इन युवकों को कैसे मिली पुलिस विभाग की गाड़ी ? ये एक बड़ा सवाल है, क्या यूंही किसी को भी मिल जाती है पुलिस लिखी गाड़ी, फिर चाहे वो उसका किसी भी तरह दुरुपयोग करे। जानकारी करने पे ज्ञात हुआ की एक युवक थाना हज़रतगंज के अंतर्गत क्षेत्र में दैनिक जागरण स्थित ABC बिरयानी की दुकान पे काम करने वाला बताया जा रहा है, जबकि दूसरे का पता नही चल पाया है। आखिर कब तक होगी इन युवकों पर कार्यवाही, अब देखने वाली बात यह होगी कि जिम्मेदारों पर गाज गिरती है या नही।

 


Comments

Popular posts from this blog

सकारात्मक अभिवृत्ति

तुम मेरी पहली और आखरी आशा

बस और टेंपो की जोरदार टक्कर में 16 की मौत, कई लोग घायल