श्रमिक कल्याण आयोग मजदूरों के हित में --- ओमकार गुप्ता

मेरठ, 25 मई।  उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने श्रमिक कल्याण आयोग बनाने की घोषणा करके लिया अबतक का सबसे महत्वपूर्ण निर्णय। 
लोकडाऊन के बाद मजदूरों की किसी भी प्रदेश की सरकार ने कोई सुध नहीं ली।  मजदूर, जो जिस राज्य में था उस राज्य ने मजदूरों के हित में उनकी रोटी और भूख शांत करने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाये जिसका परिणाम यह हुआ कि मजदूरों के सामने उनके जीवन का संकट खडा हो गया तब मजदूरों ने हरहाल में अपने घर वापिस जाने का निर्णय लिया।
मजदूरों की इस दयनीय स्थिति को देखते हुए एन्टी करप्सन मूवमेंट भारत के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा ओमकार गुप्ता ने आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदीजी सहित अन्य प्रदेशों के मुख्यमंत्रियो की सेवा में मांग पत्र दिया था।
स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद से आज तक किसी भी प्रदेश की सरकार ने मजदूरों के हित में कोई ठोस कार्रवाई नहीं की।  एन्टी करप्सन मूवमेंट भारत द्वारा प्रस्तुत मांग पत्र पर कार्यवाही करते हुए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने श्रमिक कल्याण आयोग बनाने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया। एन्टी करप्सन मूवमेंट भारत ने योगी जी द्वारा  श्रमिकों के हित में श्रमिक कल्याण आयोग बनाने के निर्णय को सबसे महत्वपूर्ण निर्णय बताया है।


Comments

Popular posts from this blog

सकारात्मक अभिवृत्ति

तुम मेरी पहली और आखरी आशा

बस और टेंपो की जोरदार टक्कर में 16 की मौत, कई लोग घायल