अब ना जाने क्यों ये लगता है कि सरकार और ठाकुरगंज पुलिस कोरोना को लेकर संजीदा नही बहुत बड़ी लापरवाही देखने को मिल रही




पुष्पेन्द्र सिंह संवाददाता दैनिक अयोध्या टाइम्स लखनऊ

राजधानी लखनऊ के थाना ठाकुरगंज क्षेत्र गौशाला रोड केदार विहार कालोनी गेट नंबर 1 में कोरोना पॉजिटिव मिलने से मचा हड़कंप यहां पर पुलिस प्रसाशन और सरकार की लापरवाही देखने को मिल रही है। 

जिस कोरोना वायरस को लेकर हमारी सरकार शुरुआत में काफी संजीदा दिखाई दी और जनता की जान बचाने की दुहाई देकर कई ठोस कदम उठाए लेकिन लगता है समय बीतते बीतते सरकार के हौसले कोरोना को लेकर पस्त हो रहे हैं क्योंकि कोरोना कम होने का नाम नही ले रहा और भी तेजी से बढ़ता ही जा रहा है जिसका उदाहरण आपको शहर में कई जगह दिख भी जाएगा।उत्तर प्रदेश राजधानी लखनऊ के बालागंज क्षेत्र में गौशाला रोड पर कोरोनावायरस के पेशेंट पाए गए हैं आपको बता दें कि क्षेत्रीय लोगों का कहना है यह महिला फैजाबाद से आई हुई थी गौशाला रोड पर अपने भाई के घर लक्षण देखने पर स्थानीय लोगों को शक हुआ के इन्हें को कोरोना है जिसके बाद से स्थानीय लोगों ने पुलिस में स्वास्थ्य विभाग में सूचना पहुंचाया जिसके बाद से स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंची और चेक करने लगी जिसके बाद पता चला  कोरोना पॉजिटिव महिला मिली है साथी आपको बता दें महिला के घर जो साथ में एक पुरुष थे मौके पर वह फरार हो गए घर के अन्य लोगों को क्वॉरेंटाइन किया गया। यहां  सरकार की बड़ी लापरवाही यहां पर देखने के लिए मिल रही है सवाल उठता है क्या सरकार लोगों को पहले तंग करने के लिए कोरोनावायरस पॉजिटिव के पेशेंट मिलते थे वहां बैरिकेडिंग किया जाता था कई दिन तक फोर्स लगाए जाते थे अब वह सब चीजें क्यों नहीं हो रही है जबकि पहले से ज्यादा पूर्णिया भर में पांव पसार लिया है पहले से ज्यादा हिंदुस्तान और उससे भी ज्यादा बड़ी बात यह है लखनऊ में कोरोनावायरस के पॉजिटिव पेशेंट बहुत कम मिलते थे लेकिन आज की बात की जाए हर रोज दस से पांच पेशेंट मिल रहे हैं लेकिन शासन-प्रशासन के तरफ से बड़ी लापरवाही देखने के लिए मिल रहा है आप देख सकते हैं कि किस तरह से लोग बेखौफ यहां पर घूम रहे हैं अन्य लोगों के अंदर इस बात की दहशत जरूर है बालागंज के गौशाला रोड केदार विहार कालोनी गेट नंबर 1 में  यहां पर कोरोना वायरस पॉजिटिव के पेशेंट मिलने से लोगों में हड़कंप है साथ ही यह आरोप भी लगा रहे हैं सरकार पर अब सरकार की सारी नीतियां कहां गई यहां पर क्यों नहीं बैरिकेडिंग हुआ क्यों नहीं स्वास्थ्य विभाग की टीम आई और लोगों की जांच की थाना ठाकुरगंज का यह क्षेत्र है इस क्षेत्र में एक भी पुलिसकर्मी नहीं मिले जो लोगों को जागरूक कर रहे हो क्या सरकार अमेरिका इटली जैसी स्थिति होने की इंतजार कर रही है।



 




 


Comments

Popular posts from this blog

सकारात्मक अभिवृत्ति

तुम मेरी पहली और आखरी आशा

बस और टेंपो की जोरदार टक्कर में 16 की मौत, कई लोग घायल