विज्ञापन

विज्ञापन

Monday, June 15, 2020

वैश्विक महामारी के दौरान योद्धा स्वरूप, रानीगंज की दो महिलाएं

रानीगंज: कोरोनावायरस वैश्विक महामारी के दौर में जहां सामाजिक कार्यकर्ता, पुलिस एवं चिकित्सक जरूरतमंद लोगों की मदद कर रहे हैं, वही रानीगंज की दो महिलाएं भी लगातार जरूरतमंदों की मदद में हमेशा प्रयासरत है। करीब 3 महीने से लगातार महिलाएं भी पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर इस महामारी के दौरान लोगों की मदद करने में जुटी हुई है। रानीगंज की गृहिणी शताब्दी अधिकारी पिछले 3 महीनों से लगातार जरूरतमंद लोगों की मदद कर रही है, लोगों को भोजन उपलब्ध करवाना एवं राशन सामग्री वितरण करने के साथ ही कई सामाजिक कार्यक्रमों में योगदान दे रही है। शताब्दी अधिकारी व्यवसाय के क्षेत्र में भी अहम भूमिका निभा रही हैं। रानीगंज चेंबर ऑफ कॉमर्स बोर्ड की सदस्या भी है। ब्लड बैंक में रक्त की कमी को देखते हुए चेंबर कॉमर्स के हॉल में शताब्दी अधिकारी ने एक सप्ताह पूर्व रक्तदान शिविर का आयोजन किया था, जिसमें रानीगंज के लोगों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। दूसरी ओर लायंस क्लब की महिला विंग “गरिमा” एवं अखिल भारतीय मारवाड़ी महिला सम्मेलन की प्रमुख पदाधिकारी अनीता पोद्दार भी सामाजिक कार्यक्रमों में विशेष योगदान दे रही हैं। वैश्विक महामारी के दौरान जरूरतमंदों की मदद करना उनका मुख्य उद्देश्य बन चुका है। विभिन्न इलाके में जा-जाकर जरूरतमंदों को भोजन उपलब्ध करवाना, बीमार व्यक्ति को चिकित्सा मुहैया कराना उनका मुख्य उद्देश्य है। विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने बताया कि दोनों महिलाएं इस वैश्विक महामारी के दौरान योद्धा के रूप में कार्य कर रही हैं। हमें इन दोनों महिलाओं पर गर्व है। अनीता पोद्दार इस कठिन दौर मे खुद का सीमेंट कारखाना भी संभाल रही है एवं फैक्ट्री में काम करने वाले मजदूरों की भी मदद करने में लगी हुई है।


No comments:

Post a Comment