विज्ञापन

विज्ञापन

Wednesday, December 30, 2020

जिला बहराइच के तहसील नानपारा के ब्लाक बलहा के ग्राम पंचायत भालुहिया भारत के ग्राम हकीमरवा में लेखपाल शैलेन्द्र वर्मा द्वारा भ्रष्टाचार चरम सीमा पर

संवाददाता तिलक राम मिश्रा के साथ सूरज कुमार त्रिवेदी


आज मैं इस पत्रिका के माध्यम से आप लोगों को एक नए घूसखोर लेखपाल शैलेंद्र वर्मा के बारे में बताना चाहता हूं दोस्तों यह बात देश के रक्षक मोहम्मद असलम की है जिसमें मुद्दा मोहम्मद असलम और तमाम ग्राम वासियों के घर से रास्ते तक बीच में पड़ी ग्राम समाज की भूमि का है जिस पर दबंग भूतपूर्व प्रधान लड्डन हुसैन अपना कब्जा कर रास्ते को बंद कर देना चाहते हैं  जबकि भूतकाल में पहले से नक्शे पर दर्ज  रास्ता  गाटा संख्या 405 उसे पहले ही अपने घर में कर निर्माण कर लिया है अब बाकी पड़ी नवीन परती गाटा संख्या 407 पर भी अपना अधिक रमण करना चाहते हैं जिसकी जांच उप जिलाधिकारी नानपारा द्वारा टीम गठित कर करवाया गया जिसमें टीम के कर्मचारी कानूनगो     शिव बक्स सिंह और क्षेत्रीय लेखपाल शैलेंद्र वर्मा दूसरा वाहिद कमाल तीसरा केके श्रीवास्तव चौथा अशोक कुमार मौर्य और पांचवे  श्री  बृज बहादुर  जयसवाल जी थे जिसकी जांच आख्या टीम द्वारा हस्ताक्षरित कर वाया तहसीलदार साहब द्वारा एसडीएम नानपारा को प्रेषित की देश के रक्षक मोहम्मद असलम को जब पता चलता है कि टीम ने रास्ते पर लड्डन हुसैन आदि को किसी प्रकार कोई भी निर्माण ना करने को बोला है ग्राम समाज वाली भूमिका समस्त ग्रामवासी अपने रास्ते के रूप में इस्तेमाल करते आ रहे हैं और वह भविष्य में करते रहेंगे इस पर कोई अपना अधिकार नहीं दिखाएगा तो देश के रक्षक मोहम्मद असलम एसडीएम नानपारा से मिलते हैं और कहते है श्रीमान जी से इस रास्ते को धारा २५ के तहेत पक्का करवा दे बड़ी महान कृपा होगी
एसडीएम नानपारा द्वारा तहसीलदार नानपारा को आदेशित किया जाता है कि आप इनका धारा २५ सूखा अधिकार k तहेत आप इनका रास्ता पक्का करवा दे देश के रक्षक मोहम्मद असलम द्वारा वकील से मुकदमा तैयार कर तहसीलदार साहब को देकर मुकदमा पंजीकृत करवा कर नोटिस भेज दी जाती है और रक्षक अपने देश की रक्षा के लिए देश कि सरहद पर पहुंच जाते है और यहां दो माह उपरांत जब आदेश का समय आता है तो उस समय छेत्रिए लेखपाल शैलेंद्र वर्मा भूत पूर्व प्रधान लड्डन हुसैन से मिलकर तहसीलदार नानपारा को एक दूसरी आख्या प्रेषित करते है जिसमे लिखा होता है कि ग्राम समाज की भूमि पर लड्डन हुसैन का कब्जा है वहां कोई रास्ता नहीं है जिससे ये साबित होता है कि एसडीएम नानपारा के द्वारा कि गई गठित टीम जिसमे भ्रष्ट लेखपाल शैलेंद्र वर्मा खुद मौजूद था उनकी ये टीम नकारा है लेखपाल शैलेंद्र ठीक है या फिर एसडीएम नानपारा के आदेश तहसील नानपारा में नहीं चलते या फिर गुंडा गरदी और दबंगई योगी और मोदी सरकार में भी चलेगी 
पूरा गांव हकीम पुरवा इस बात से परेशान है नियाय कि गुहार लगाकर एसडीएम नानपारा के आदेशों को इंतजार कर रहा है 
उम्मीद है एसडीएम नानपारा ग्राम वासियों को नीयाय दिलाएंगे

No comments:

Post a Comment