विज्ञापन

विज्ञापन

Sunday, December 27, 2020

अतिक्रमण होने के चलते लगता है जाम, सो रहा प्रशासन

करोड़ों की लागत से बनी इंटर लॉकिंग को भी नहीं छोड़ा अतिक्रमणकारियों ने।



मौदहा। हमीरपुर। प्रशासन की लापरवाही के चलते अतिक्रमणकारी अतिक्रमण करने से बाज नहीं आ रहे हैं, नगर पालिका ने उसके क्षेत्र में आने वाली सीमा बड़े चौराहा से कपसा रोड, मालिकुआँ चौराहा से स्टेशन तक मुख्य सड़क के दोनों तरफ इंटर लॉकिंग का कार्य करा नगर को सुंदर बनाने का कार्य किया था, जिस पर नगर पालिका ने छह करोड़ रुपये खर्च किये थे। परंतु अतिक्रमण कारियों को सुंदरता कहां रास आती है वह तो अब इंटर लॉकिंग के ऊपर भी अतिक्रमण करने में लगे हुए हैं। जिस पर नगर प्रशासन कोई ध्यान नहीं दे रहा है। लॉक डाउन के दौरान इंटर लॉकिंग से अतिक्रमण हटाने के लिए एनाउंसमेंट करवा खाना पूर्ति कर दी गयी थी। अतिक्रमण कारियों के खिलाफ कोई कार्यवाही न होने से इनके हौसले बुलंद हैं। और आम जनमानस को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। आये दिन जाम लगते हैं और लोगों को घंटो इस समस्या से जूझना पड़ता है।
          बताते चलें कि कस्बा मौदहा में नगर पालिका ने अपनी सीमा क्षेत्र में नगर को सुंदर व स्वच्छ बनाने के लिए मुख्य सड़क के दोनों ओर इंटर लॉकिंग का कार्य कराया था, जिससे नगर में अतिक्रमण व सफाई की व्यवस्था अच्छी तरह से हो सके। जिसके लिए नगर पालिका ने एनोउंसमेन्ट भी करवाया था कि लोग इंटर लॉकिंग न करें। परंतु यहां के दुकानदार व अन्य बिना दंड के सुधरने वाले नहीं हैं। जगह जगह अतिक्रमण होने से आवागमन भी बाधित होता है, वहीं अतिक्रमण के कारण सड़कों पर ही लोग अपनी गाड़ियां पार्क कर देते हैं, जिससे जाम की स्थिति बनी रहती है, इन्हें अतिक्रमण करने से कोई परहेज नहीं है। वहीं दुकानदार पूरी इंटर लॉकिंग पर अतिक्रमण कर सड़क तक कब्ज़ा जमा लेते हैं, इन्हें पब्लिक की समस्या से कोई लेना देना नहीं है, जाम लगे या किसी की गाड़ी छूटे इन्हें तो बस कब्ज़ा करने से मतलब है। चाहे कोई बीमार सड़क पर ही दम तोड़ दे, ये अपनी दुकान तो सड़क तक ही लगाएंगे। मालिकुआँ चौराहा से स्टेशन तक की हालत तो और भी खराब है लोगों को प्रतिदिन घंटो जाम से गुजरना पड़ता है, दुकान के अंदर का पूरा समान फुटपाथ पर लगा देते हैं। दुकान के बाद पंद्रह बीस फिट तक बाहर कब्ज़ा रहता है। वहीं स्थानीय प्रशासन भी हाथ मे हाथ रखे बैठे है, इनके ऊपर कोई कार्यवाही न करना प्रशासन की मिली भगत दर्शाता है, जब कि समय समय पर समाचारों व सोशल मीडिया के माध्यम से इस बात को उठाया जाता है। 
           इस संबंध में व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष फरीद उर्फ बबलू का कहना है कि जल्द से जल्द इस अतिक्रमण की समस्या से निजात मिलना चाहिए, अतिक्रमण के कारण आम जनमानस को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। नगर प्रशासन को इन अतिक्रमण कारियों पर कड़ी कार्यवाही करनी चाहिए।

No comments:

Post a Comment