विज्ञापन

विज्ञापन

Monday, January 4, 2021

कब आओगे साहब... जिस्म से जान जुदा होगी क्या तब आओगे

लटकते तार और बाँस के सहारे मौत का निमंत्रण लेके दौड़ रही है बिजली

सबांददाता अमित पाठक पयागपुर
पयागपुर आधुनिक युग में सम्पूर्ण तंत्र बिजली के अधीनस्थ है यानी सबसे बड़ी जरूरत और जितनी अधिक जरूरत है उतनी ही उदासीनता विद्युत विभाग द्वारा बरती जा रही है । समस्या चहुँओर की है परेशान कोई एक नहीं।
जनपद के विकासखंड पयागपुर अंतर्गत परना ( दूबे पुरवा ) का प्रगाढ़ मामला विगत कई वर्षों से चर्चा में बना है लेकिन सम्बंधित अधिकारियों द्वारा मामले को कहाँ तक संज्ञान में लिया गया यह गंभीर विषय का
सोचनीय बिंदु अभी तक भविष्य के गर्त में है । मौके पर जाकर देखा गया तो दूबे पुरवा की विद्युत व्यवस्था बद से बदतर हो गयी है उस कोढ़ की तरह जिसका उपचार तो है पर करने को कोई तैयार नहीं, संबंधित अधिकारी शायद किसी बड़ी दुर्घटना की प्रतीक्षा में है । टूटे खम्भों और बाँस के सहारे दुधारू पेड़ों से होकर लोगों के घर तो बिजली के प्रकाश से रोशन हो गए लेकिन विद्युत विभाग द्वारा एक अनचाहा भय ता- उम्र के लिए बना दिया गया , खास बात तो यह है कि फूस के बने घर से मिलाकर ट्रांसफार्मर रख दिया गया जो हर पल मौत का आमंत्रण है और बाँस के सहारे मौत बन कर दौड़ रही विद्युत सप्लाई साक्षात यम का निमंत्रण है , विगत दिनों पूर्व लटकता तार गाड़ी में फंस गया और ट्रांसफार्मर गिर गया पर यहाँ तो कहावत चरितार्थ हो गयी कि जाको राखे साईयां मार सके न कोय पर कबतक । एक जिंदगी के कीमत का आंकलन कोई लगा नहीं पता यहाँ तो समूचा गाँव रोशनी की चाहत में अपना सिर ओखली में रखकर विद्युत विभाग से गुहार पर गुहार लगा रहा है कि , कब आओगे साहब.. जिस्म से जान जुदा होगी क्या तब आओगे । 
बता दे कि दूबे पुरवा में लगाई गई विद्युत प्रदर्शनी देख मानवता को तार तार कर देने वाला मंज़र आईने की तरह साफ नज़र आता है । विद्युत विभाग ने अपने इस शर्मसार कृत्य से भारत सरकार की 18 घण्टे बिजली और सौभाग्य योजना को धूमिल करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है । स्थानीय लोगों ने बताया कि अबसे पूर्व अधिशाषी अभियंता से हम सभी ने कई बार निवेदन किया था और आज भी संबंधित अधिकारियों से समस्या समाधान हेतु कह रहे है ।जब परना (दूबे पुरवा) विद्युत सब स्टेशन के संबंधित अधिकारी सहायक अभियंता रुद्र प्रताप से उक्त मामले में बात की गई तो उन्होंने मामले को तुरंत संज्ञान में लेते हुए कहा जो काम 12 वर्षों में नही हुआ वो मैं करके दिखाऊंगा । वहीं मुख्य अभियंता विद्युत देवीपाटन मंडल राजेश श्रीवास्तव ने कहा कि पेपर की कटिंग भेज दीजिये, जाँच करवाते है ।

No comments:

Post a Comment