विज्ञापन

विज्ञापन

Wednesday, February 3, 2021

अखिल भारतीय किसान महासभा द्वारा प्रतिवाद दिवस आयोजित

 राजापाकर।संवाद सूत्र । दैनिक अयोध्या टाइम्स। किसान विरोधी, देश विरोधी खाद्यान्न संकट पैदा करने वाला देश को यहां की खेती किसानी को कारपोरेट गुलामी की ओर ले जाने वाला तीनों किसान विरोधी काला कानूनों की वापसी, किसान आंदोलन पर जारी दमन को रोकने ,गिरफ्तार किसान नेताओं को रिहा करने ,किसान नेताओं पर लादे गए. फर्जी मुकदमा की वापसी के सवाल पर अखिल भारतीय किसान महासभा के देशव्यापी प्रतिवाद दिवस के अवसर पर राजापाकर थाना क्षेत्र के कल्याणपुर  हाट पर किसान महासभा के जिला अध्यक्ष सुमन कुमार, किसान नेता महताब राय ,राजेंद्र राय, रामचंद्र सहनी, कामेश्वर पासवान के नेतृत्व में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन करने के बाद सभा की गई . जिले के अक्षयवत राय नगर स्टेशन बाजार पातेपुर लालगंज सहित दर्जनों जगहों पर पुतला दहन किया गया. सभाओं को संबोधित करते हुए किसान नेताओं ने कहा की 6 फरवरी को जिले के सभी मार्गों को जाम किया जाएगा .इंटरमीडिएट परीक्षा को देखते हुए यह जाम 2:00 बजे दिन से 3:00 बजे दिन के बीच होगा. ताकि परीक्षार्थियों को दिक्कत नहीं हो .नेताओं ने कहा कि मोदी की सरकार में ऐसा बजट पेश किया है. जिसके कारण कोविड महामारी और लॉकडाउन के कारण बिगड़ी हुई अर्थव्यवस्था का भार देश की जनता पर डाल दिया गया है. लंबे समय से न्यूनतम समर्थन मूल्य ,गारंटी कानून बनाने, छोटे मझोले किसानों, माइक्रोफाइनेंस कंपनियों से ऋण लेने वाले स्वयं सहायता समूह की महिलाओं का कर्ज माफ करने की माग उठते रहा है .लेकिन बजट में इस पर ध्यान नहीं दिया गया.

No comments:

Post a Comment