विज्ञापन

विज्ञापन

Monday, June 8, 2020

श्रमिकों के लिए मनरेगा बना सहारा




प्रतापगढ़ 

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जनपद में श्रमिकों के लिए मनरेगा इस वक्त सहारा बना हुआ है। जहां मजदूर अपनी रोजी रोटी चलाने के लिए महाराष्ट्र, गुजरात दिल्ली चंडीगढ़ जैसे दूसरे राज्यों में जाते थे।वही कोरोना वैश्विक महामारी के चलते जहां पूरा देश लाॅकडाउन हुआ तो मजदूरों पर संकट आ पड़ा। सरकार लगातार श्रमिकों के लिए ट्रेन बस चलवा कर उनको उनके घर तक पहुंचा रही है तो वही सरकार मनरेगा के तहत मजदूरों को रोजगार दे रही है पत्रकार की टीम ने जब प्रतापगढ़ के लक्ष्मणपुर विकासखंड के कटैया गांव पहुंचकर रियलिटी चेक किया कि मनरेगा का कार्य चल रहा है या नहीं। रियलिटी चेक मे ये पता चला कि कटैया नेवादा गांव में काफी मजदूर काम कर रहे हैं।वही मजदूरों से जब बात की गई तो मजदूरों ने दिल खोलकर सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और क्षेत्रीय विधायक डॉ आर के वर्मा और गांव के प्रधान प्रतिनिधि समाजसेवी तूफान सिंह की तारीफो के पुल बांध दिए। मजदूरों ने कहा मुझे समय से पैसा मिल जाता है जिससे हमारे घर का खर्च चलता है तो वही मजदूरों ने ये भी बताया कि प्रधान प्रतिनिधि समाजसेवी तूफान सिंह हम लोगों को नि शुल्क लगातार राशन भी दिलवा रहे हैं।वही समाजसेवी तूफान सिंह ने बात चीत के दौरान बताया कि कोरोना मे गरीब लोगों को मास्क साबुन सेनेटाइजर समेत खाद्य सामग्री भी दिया और तूफान ने कहा कटैया ग्राम सभा के गरीबो को किसी प्रकार की समस्या नही आयेगी।मै गरीबों की सेवा के लिए हमेशा तत्पर रहूंगा। कटैया ग्राम सभा एक ऐसी ग्राम सभा है जो कि इस ग्राम सभा की प्रतापगढ़ के कई जिलाधिकारी कमीशनर प्रयागराज भी तारीफ कर चुके हैं। तूफान सिंह के नेतृत्व में कटैया ग्राम सभा विकास की ऊंचाई पर है।


 

 



 

No comments:

Post a Comment