रोपन छपरा से रतनपुरा परासी मार्ग पर जलजमाव आवागमन बाधित




मुकतेशवर दूबे ब्यूरो चीफ दैनिक अयोध्या टाइम्स देवरिया

जनपद देवरिया क्षेत्र लार के ग्राम सभा रतनपुरा तथा परासी चक लाल को जाने वाली रोपन छपरा मुख्य मार्ग  पर काफी जलजमाव हो गया है  जलजमाव के कारण आवागमन पूरी तरह से बाधित है। इसका मुख्य कारण यह बताया जा रहा है कि गंडक नदी के पानी का सतह  ऊपर होना तथा गढ़वा में पुलिया को बंद होना , इधर से पानी नदी के तरफ नहीं जा रही है क्योंकि नदी का पानी जो है इससे ऊपर है, लगातार बारिश से जल का स्तर बढ़ते बढ़ते पूरे रोड पर आ गया है।आपको बता दें कि यह पहली बार नहीं है यह जमाने से आ रही है, यहां के लोग शुरू से ही इस समस्याओं को झेलते आरहे हैं जब इस गांव का रोड का निर्माण शुरू हुआ  तो काफी हर्ष था   कि हमारे यहां किसी तरह रोड बन जाए लेकिन रोड बना भी तो पता नहीं  इस गांव के किसी अनुभवी  व्यक्ति से पूछा गया कि नहीं, अगर किसी से पुछा गया होता  तो सायद यह समस्या  देखने को नहीं आती। क्योंकि इस गांव के सभी लोगों को यह पता है कि कितना पानी आता है। फेलहाल लोगों का आना जाना दुश्वार है। अगर किसी की तबीयत खराब हो तो वह उसी ग्राम सभा के गौरा पांडे के रास्ते से किसी तरह निकलते है  ऐसा ही पानी का बढ़ाना रहा तो वह भी रास्ता बहुत जल्द बंद हो जाएगा।  ग्राम प्रधान सुदर्शन यादव ने कहा कि इसकी शिकायत लेखपाल से कि है तथा लेखपाल द्वारा निरीक्षण भी किया गया है ग्रामीणों का कहना है कि जब तक  इस मार्ग को और ऊंचा नहीं किया जाएगा तब तक इस प्रकार की परिस्थितियां  आती रहेंगी, इसका निजात तभी मिलेगा जब  इस मार्ग कोऔर ऊपर  किया जाएगा । भगवान ना करे इस समय किसी की तबीयत खराब हो वर्ना उसे दवा कराने ले जाने के लिए काफी समस्या खड़ी हो जाएगी और पानी के जमाव के वजह से  जान भी गवांना पड़ सकता है। वैसे  भी इस गांव  में आला अधिकारियों की नजर कम रहती है कुछ जिम्मेदार लोग कह देते हैं कि रोपन छपरा  के बाद  उधर बिहार पड़ जाता है। जबकि सत्यता यही है यूपी बिहार बॉर्डर पर यह 2 गांव स्थित है रतनपुरा और परासी चकला चकलाल जो युपी के देवरिया जनपद के  लार ब्लॉक में पड़ता है अब तो इन  गांवों का विकास और कम हो जाएगा  लोगों को यह उम्मीद थी कि खरवनिया जाने वाली वाली गंडक नदी पर पुल इसी मार्ग पर  बनेगी परंतु वह  किसी अन्य  रास्ते चला गया जिसको लेकर  ग्रामीण चिंतित हैं एक तो इस वैश्विक महामारी को लेकर  गांव के  मजदूर वर्ग के लोग गांव पर ही हैं जो लार बाजार जाकर अपना रोजी रोटी का कार्य करते हैं पानी को लेकर परेशान नजर आ रहे है।


 

 




Comments

Popular posts from this blog

सकारात्मक अभिवृत्ति

तुम मेरी पहली और आखरी आशा

बस और टेंपो की जोरदार टक्कर में 16 की मौत, कई लोग घायल