विज्ञापन

विज्ञापन

Wednesday, December 30, 2020

चंबल के ‌बीहड से चल रहा देश भर में साइबर ठगी का कारोबार,साइबर सैल ने पुलिस की मदद से किया भांडा फोड 8 गिरफ्तार, 23 मोबाइल, 14 सिमकार्ड, 1 लैपटॉप बरामद

जैतपुर । खेडा राठौर में चंबल के बीहड के पास के गांव मझटीला से देश भर में साइबर ठगी का कारोबार चल रहा था। महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश, राजस्थान, बिहार, जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, दिल्ली, उत्तराखंड से लेकर यूपी के विभिन्न जिलों तक नौकरी, स्पा सर्विस, फ्रेंडशिप क्लब, वर्क फ्रॉम होम, इण्टरनेट बिल में छूट, रिवार्ड पाइण्ट को कैश कराने का खेल चलाया जा रहा था। खेडा राठौर, बाह, पिनाहट पुलिस की मदद से साइबर सैल ने ठगी के कारोबार का भांडाफोड करते हुए 8 शातिरों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। उनके पास से 23 मोबाइल, 14 सिम कार्ड, 1 लैपटॉप बरामद किया है। सोशल साइट्स, अखबारों, जस्ट डाइल आदि पर विज्ञापन के जरिए मैनेजर, सुपरवाइजर, सिक्योरिटी गार्ड, लाइनमैन, स्पा सर्विस, वर्क फ्रॉम होम, पार्ट टाइम जॉब, इण्टरनेट के बिल में छूट देने, रिवार्ड प्वाइंट को कैस कराने का लालच देकर पेटीएम, गूगलपे, फोनपे, भारतपे, क्यूआर कोड स्कैन आदि के जरिए बेरोजगार युवकों को ठगी का शिकार बना रहे थे। साइबर सैल ने खेडा राठौर, बाह और पिनाहट पुलिस के साथ  को छापा मारकर साइबर ठगी के इस खेल का भांडाफोड कर दिया है। पुलिस ने खेडा राठौर के मझटीला गांव के मुख्य सरगना नौकरी के नाम पर ठगी करने वाले प्रेम सिंह पुत्र नंदराम, सतीश पुत्र रामरूप, दयानंद पुत्र नेतराम, गेंग के सदस्य सचिन पुत्र नेकराम, सनी पुत्र जयवीर सिंह, श्रीकिशन पुत्र किशोरीलाल, पार्ट टाइम गैंग के सरगना सुनील पुत्र रामरूप, इण्टरनेट बिल में छूट देवकिशन पुत्र किशोरीलाल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। जबकि चन्द्रपाल पुत्र श्रीकिशन, दिनेश पुत्र वेदराम, अमिताभ पुत्र ज्ञान सिंह, उमेश पुत्र रामस्वरूप मौके से भागने में कामयाब हो गये। मामले में खेडा राठौर थाने में केस दर्ज किया गया है। पूरे ऑपरेशन को अंजाम देने वाली टीम में साइबर सैल प्रभारी सुल्तान सिंह, एसओ खेडा राठौर प्रेम सिंह, एसओ पिनाहट अमित कुमार, एसआई अरुण भाटी,  विजय तोमर, बबलू कुमार, इंतजार सिंह, जितेन्द्र कुमार, संजेश, हितेश, विकास, विपिन, सुमित, प्रवेश, अमन, कुल्दीप, दुर्गेश आदि शामिल रहे।


No comments:

Post a Comment