विज्ञापन

विज्ञापन

Friday, December 25, 2020

अमेठी पहुंची सांसद स्मृति ईरानी ने कांग्रेस पर बोला हमला और कसे तंज

 अमेठी विजय कुमार सिंह

आज निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार स्मृति ईरानी तीन दिवसीय दौरे पर अमेठी पहुँची जहां पर तिलोई के सिंहपुर में किसान  गोष्ठी में शामिल हुई और किसानों को संबोधित करते हुए  गांधी परिवार पर हमला बोलते हुए कहा की वर्षों से जिस परिवार ने अमेठी की पुण्य भूमि से अपनी राजनीति को सींचा उसने अमेठी की जनता को विकास से जान बूझकर दूर रखा, विकास की दृष्टि से अमेठी की जनता का किया तिरस्कार ताकि वह सोने के महलों में रह सकें।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी एवं अमेठी सांसद आज शुक्रवार को अपने संसदीय क्षेत्र के तीन दिवसीय दौरे पर अमेठी पहुंची। उन्होंने आज पहले ही दिन कांग्रेस और गांधी परिवार पर जमकर हमला बोला। "स्मृति ने कहा कि 2014 का वह दंगल मैं आज भी भूल नहीं पाऊंगी जब गांव-गांव, पार्क-पार्क जनता से मिलने के बाद अमेठी का सच उजागर हुआ, कि वर्षों से जिस परिवार ने अमेठी की पुण्य भूमि से अपनी राजनीति को सींचा उस परिवार ने अमेठी की जनता को विकास से जानबूझकर दूर रखा।विकास की दृष्टि से अमेठी की जनता का तिरस्कार किया, ताकि वह सोने के महलों में रह सकें।


आपको बता दें पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न स्व. अटल बिहारी वाजपेई जयंती के अवसर पर आज किसान गोष्ठी का आयोजन तहसील तिलोई स्थित आरबीएस इंटर कॉलेज में किया गया। यहां मंच से स्मृति ईरानी ने आगे कहा कि यह मेरा परम सौभाग्य था कि जब मैं आपके बीच में आई तो आपने मुझे भाजपा के प्रत्याशी के रूप में नहीं, बल्कि एक बहन के रूप में स्वीकार किया और दीदी कह के बुलाया। साल 2014 में हमने एक संकल्प-एक कसम खाई थी माननीय प्रधानमंत्री स्वयं पधारे थे, और संकल्प उनका था कि भाजपा का कार्यकर्ता, भाजपा का पदाधिकारी आपकी परेशानियां बढ़ाने नहीं बल्कि विकास करने आया है। जिस विकास से अमेठी की जनता कई दशकों से दूर रही है आज हमें यह कहते हुए खुशी हो रही है कि हमारे जिलाध्यक्ष ने बताया कि सरकार भाजपा की नहीं थी तब अमेठी के नागरिक अमेठी के किसान आए कहा दीदी कम से कम एक खाद का रैक दिलवा दो। यह साधारण बात इसलिए थी क्योंकि साल 2014 का चुनाव मैंने नहीं जीता था लेकिन अमेठी की जनता यह जानती थी कि अगर काम कराना है, विकास कराना है तो भाजपा ही करा सकती है और वह भाजपा कार्यकर्ता करा सकता है। आपकी एक आवाज पर खाद की रैक अमेठी में उतरवाया गया। यह सोचकर लोग दंग थे कि ऐसी संसदीय क्षेत्र में आज तक नहीं है और अमेठी की जनता ने भी इस बात को स्वीकार किया कि जब से सांसद बने हैं तब से केवल चुनाव के दौरान आते हैं। लेकिन अमेठी की जनता को यह विश्वास था उनकी दीदी आज खाद की रैक अमेठी पहुंचाएगी।

किसानों से झूठ बोलकर वरगलाने का काम कर रहे अमेठी के पूर्व सांसद राहुल गांधी आज के समय में अगर किसानों से झूठ बोलकर वरगलाने का कोई काम कर रहा है तो वो अमेठी के पूर्व सांसद राहुल गांधी हैं, क्योंकि उस समय खाद की दुकान पर लाइन लगती थी और पुलिस से लाठीचार्ज करवाया जाता था। जब देश में सत्ता कांग्रेस पार्टी की थी तब अमेठी की जनता पर लाठी चार्ज करवाया जाता था।अमेठी के सम्राट साइकिल फैक्ट्री का सपना दिखाया था और उस जमीन को खुद हड़पा गया। जिला और तहसील की कोर्ट से आदेश निकलता है कि किसान की जमीन लौटाई जाए लेकिन राहुल गांधी आज तक टस से मस नहीं हुए। आज भी उनका खानदान सम्राट साइकिल की किसानों की जमीन हड़प कर रखा है और देश में भाषण दे रहे हैं। मैं गांधी खानदान को चुनौती देना चाहती हूं राहुल गांधी अमेठी के किसानों के बीच में बता दें उनके राज में किसानों की क्या स्थिति थी? आज अमेठी के किसानों के खातों में पैसा सीधे जा रहा है। अमेठी के हर ब्लॉक, हर न्याय पंचायत का किसान कलेक्ट्रेट में आकर अपनी समस्या को जिला कलेक्टर से बताता है उसके केंद्र को तुरंत खुलवाया जाता है। यह संभव तब हुआ जब केंद्र में मोदी और प्रदेश में योगी सरकार बनी है। आज मैं पूछना चाहती हूं राहुल गांधी से की देश भर के किसानों को वरगला रहे हैं और झूठ बोल रहे हैं।आज मैं बता सकती हूं आज अमेठी में 8 हजार से अधिक किसानों के धान की खरीद हो चुकी है और उनके खातों में पैसा पहुंच चुका है। यह मोदी सरकार ने कर दिखाया है गेहूं खरीद का पैसा अगर किसी ने भी किसानों को दिलवाया है तो मोदी और योगी सरकार ने दिलाया है। 

अमेठी के 197782 किसानों के खाते में भेजे गए 3.30 सौ करोड़ से ज्यादा रूपए आज मैं भारतीय जनता पार्टी के प्रतिनिधि आपकी सांसद आपकी दीदी होने के नाते आप से पूछना चाहती हूं जब कांग्रेस का सांसद था अमेठी में क्या किसी अमेठी के किसान को साल का 6 हजार किसान सम्मान निधि के माध्यम से उसके बैंक खाते में किसी प्रधानमंत्री ने भिजवाया? आज तक किसी किसान भाई या बहन के खाते में पैसा नहीं आया, लेकिन जब आप ने देश में मोदी को प्रधानमंत्री बनाया तब यह किसान सम्मान निधि मिलनी शुरू हुई। अमेठी में साल 2013 और 14 में कभी किसी किसान को किसान सम्मान निधि नहीं मिली और आज मैं आपकी दीदी होने के नाते इस बात पर गर्व कर सकती हूं कि 32, 7000 किसानों को 3.30 सौ करोड़ से ज्यादा का रुपया उनके बैंक खाते में जो आया है। देश में पहली बार आपकी दीदी ने जिला प्रशासन के साथ मिलकर चौपाल के माध्यम से 108 न्याय पंचायतों के माध्यम से ही चौपाल कर जनता के पास करोना के कार्यकाल में भी हम पहुंचे जो कभी किसान और गरीब तक पहुंचे नहीं वह आज दिल्ली की सड़कों पर घूम ढोंग रहे हैं। गांधी को चुनौती देती हूं कि जब वह सांसद थे सालों साल जब उनकी माता जी की सरकार थी केंद्र में तो अमेठी के किसानों को यह सुविधा मुहैया नही कराई गई और सिर्फ सपने दिखाए गए थे। कांग्रेस ने अमेठी में मेडिकल कॉलेज बनाने का सपना दिखाकर जमीन खा गए। आज मैं आभार व्यक्त करती हूं नरेंद्र मोदी जी का योगी जी का क्योंकि 40 साल की मेडिकल कॉलेज की मांग को उन्होंने पूरा किया और तिलोई में मेडिकल कालेज बनने जगह है।

No comments:

Post a Comment