विज्ञापन

विज्ञापन

Tuesday, December 29, 2020

रामनगर कोलियरी में बकाया वेतन को लेकर हुई बैठक रहा विफल

बराकर : रामनगर कोलियरी में कार्यरत आउटसोर्सिंग कंपनी और ठेका श्रमिक नेताओं के बीच मंगलवार को बकाया वेतन के भुगतान व अन्य मांगो को लेकर लगातार तीन घंटे तक बैठक चली । बैठक पूरी तरह विफल रहा । श्रमिक नेता ने कहा की भविष्य में अब तभी बैठक होगी जब तक बकाया राशि का भुगतान नहीं हो जाता। कोलियरी छोड़ने पर आउटसोर्सिंग कंपनी के मशीनों को श्रमिकों ने अपने कब्जे में ले लिया है। वही ठेका श्रमिक नेता दीनेश मंडल ने बताया कि रामनगर कोलियरी में आउटसोर्सिंग कंपनी का समझौता के तहत अगस्त 2021 तक काम करना था । कोई कंपनी बीच में काम छोड़कर जाती है तो लेबर एक्ट के अनुसार तीन महीने का एडवांस वेतन देने के अलावा अन्य सुविधा श्रमिकों को देनी पड़ती है । लेकिन कंपनी मात्र लीभ और डेढ़ महीने का वेतन देने की बात कह रही है । जबकि कंपनी पर डेढ़ माह का रनिंग वेतन बकाया होने के अलावा  डेढ़ महीने का लीभ तथा तीन महीने का वेतन बकाया है । बैठक में कंपनी अधिकारी नरेश सिंह, अजय सिंह, जय कुमार के अलावा श्रमिकों की तरफ से मलय पाल, मधु घोष, आशिस चटर्जी, इरफान, अरविंद सिंह, गुलाम अंसारी, गौतम मंडल, पवित्रो रुइदास समेत कई श्रमिक उपस्थित थे ।

No comments:

Post a Comment