प्रशासनिक विफलता के कारण विद्यालय बदहाल

वैशाली। संवाद सूत्र । उत्क्रमित मध्य विद्यालय हुसैनपुर एवं राजकीयकृत उच्च विद्यालय हुसैनपुर अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है। ज्ञात हो कि बुधवार को उत्क्रमित मध्य विद्यालय हुसैनपुर के परिसर में ग्रामीणों एवं प्रधानाध्यापक के बीच बैठक होना तय हुआ था ग्रामीणों ने बताया कि पिछले 26 दिसंबर को प्रधानाध्यापक शिव शंकर प्रसाद द्वारा बताया गया कि आगामी बुधवार 30 दिसंबर को विद्यालय परिसर में ग्रामीणों के साथ एक आवश्यक बैठक की जाएगी ।जब ग्रामीण विद्यालय परिसर पहुंचे तो सिर्फ  सहायक शिक्षिका चंदा कुमारी एवं पूनम कुमारी मौजूद थी बाकी सभी सहायक शिक्षक एवं प्रभारी प्रधानाध्यापक गैरहाजिर पाए गए ।उपस्थित शिक्षकों ने पूछे जाने पर बताया की प्रभारी प्रधानाध्यापक 3 दिनों की छुट्टी में है जिसे सुन ग्रामीण आक्रोशित हो गए ग्रामीणों से पूछे जाने पर बताया गया कि उत्क्रमित मध्य विद्यालय हुसैनपुर एवं राजकीयकृत उच्च विद्यालय हुसैनपुर दोनों का प्रभार शिव शंकर प्रसाद सिंह को है प्रभारी प्रधानाध्यापक एवं एक शिक्षिका ने मिलीभगत कर लगभग 75000 रूपए  का गबन किया गया  है। पूर्व मुखिया प्रतिनिधि सुनील कुमार ने बताया कि जब इस विषय में ग्रामीणों ने प्रधानाध्यापक से पूछा तो पहले तो वह टालमटोल करने लगे फिर जब ग्रामीणों ने जीतकर पूछा तो ग्रामीणों के साथ गाली गलौज की तथा जाति सूचक गालियां दी कई ग्रामीणों ने यहां तक बताया कि प्रधानाध्यापक की मनमानी इतनी बढ़ गई है कि वह किसी भी समय विद्यालय आते हैं और किसी समय चले जाते हैं उनके आने जाने का कोई ठिकाना नहीं रहता है वही जब प्रधानाध्यापक से इस बाबत बात की जाती है तो वे डांट फटकार कर भगा देते हैं तथा कई दफा जातिसूचक गालियां भी दिए हैं जब ग्रामीणों ने खुलकर प्रधानाध्यापक का विरोध किया एवं विकास मद के रुपए के खर्च के विषय में बात किया तो प्रधानाध्यापक ने बुधवार 30 दिसंबर को बैठक का समय सुनिश्चित किया गनीमत की बात यह है कि जब आज हम लोग विद्यालय परिसर पहुंचे तो प्रधानाध्यापक नजर नहीं आए उपस्थित शिक्षिकाओं से जब पूछा गया तो पता चला कि वह 3 दिनों की छुट्टी पर है विद्यालय में सरकारी राशि का लूट खरसोद की होड़ मची हुई है ना तो विद्यालय परिसर में साफ-सफाई ही हैं भवनों में चारों तरफ जाले मकोड़े लगे हुए हैं गंदगी का अंबार पड़ा हुआ है वही राजकीयकृत उच्च विद्यालय हुसैनपुर के परिसर में ग्रामीणों द्वारा विद्यालय की भूमिका भी अतिक्रमण कर लिया गया विद्यालय परिसर में मवेशी जलावन तथा कई प्रकार के समान रखे हुए पाए गए वहीं विद्यालय का भवन जर्जर अवस्था में है जहां बच्चों को पीने के लिए शुद्ध पानी की व्यवस्था सुनिश्चित करना सरकार और विद्यालय प्रशासन की जिम्मेवारी है वही प्रधानाध्यापक ने विद्यालय परिसर में महज 40 फीट का ही चापाकल करवाया है जिसे शुद्ध पानी नहीं मिलता है यहां तक की उच्च विद्यालय में कई महीनों से कोई शिक्षक शिक्षिका भी नहीं आते हैं जिसको लेकर ग्रामीणों में क्षोभ व्याप्त है आज की बैठक में पूर्व मुखिया प्रतिनिधि सुनील कुमार देवेंद्र पासवान लक्ष्मण पासवान शंकर पासवान नरेश पासवान शत्रुघ्न पासवान वीरेंद्र राय रामेश्वर पासवान ब्रह्मदेव सिंह शिवजी पासवान रामप्रीत शाह हरीश चंद्र राय सहित पोषक क्षेत्र के दर्जनों ग्रामीण उपस्थित हुए।

Comments