विज्ञापन

विज्ञापन

Wednesday, December 30, 2020

मुबारक हो सबको नववर्ष

चलिए मिलकर साथ सभी,

        शपथ आज हम खायें।
ग्लोबल वार्मिंग के खतरे को,
         दुनिया से दूर भगायें।
दुनिया से दूर भगायें, 
         तब ही बच सकता है जीवन।
पोखर में पानी करें इकट्ठा, 
        काटें न झाड़ी बन उपवन।।

खुद के बाहन से चलना छोड़ें,
         सामाजिक वाहन का करें उपयोग।
पैदल चलिए साइकिल चलाइये,
         पेट्रोल बचाकर करें धन योग।
पेट्रोल बचाकर करें धन योग,
         साथ ही स्वास्थ्य भी होगा अच्छा।
रासायनिक खादों का न करें प्रयोग, 
        उर्वर होगी धरती और बच्चा।।

देशी तरीके से खेती कीजिए, 
         कचरे से बनाइये खाद कम्पोस्ट।
रद्दी कागज से थैली बनाकर, 
        दूर भगाइये पालीथीन का घोस्ट।
दूर भगाइये पालीथीन का घोस्ट,
        तब ही साफ होगी गंगा मैया।
अपनी जीवन शैली में करें बदलाव, 
        नहीं तो पुकारोगे दैया दैया।।

साधन ऐसे जो खाते बिजली, 
        उनको कह दें आज अलविदा।
एल ई डी बल्ब लगाकर घर में,
         सी एफ एल को करें विदा।
सी एफ एल को करें विदा, 
         लिखिए कागज में दोनों ओर।
सफेद रंग से घर पुतवाइये,
          लाउडस्पीकर से न मचाएं शोर।।

तीज त्यौहार के मौकों पर, 
       करें न अतिशय आतिशबाजी।
इनके दुष्परिणाम बताकर, 
       नन्हें मुन्हों को कीजिए राजी।
नन्हें मुन्हों को कीजिए राजी,
        न फैलाइये प्रकृति में प्रदूषण।
दोनों हाथ जोड़कर अपना, 
       प्यार से जोड़िए सबसे मन।।

दया कीजिए जीवों पर, 
        त्याग दीजिए मदिरा मांस।
पीना छोडिए पेप्सी कोला,
          छोड़ दीजिए बिदेशी ड़ांस।
छोड दीजिए बिदेशी ड़ांस,
          करना शुरू कीजिए योग।
सुखमय जीवन हो जायेगा,
          दूर हो जायेंगे सब रोग।।

दुनिया का है हर धर्म बराबर, 
      जग का हर बन्दा अपना भाई।
छोटे  बड़े का भेद मिटाकर,
       पाटिए ऊँच नीच की चौड़ी खाईं।
पाटिए ऊँच नीच की चौड़ी खाईं,
      मानवता के लिए कीजिए संघर्ष।
इसी प्रण के साथ "हरी",
       मुबारक हो सबको नववर्ष।।

No comments:

Post a Comment