विज्ञापन

विज्ञापन

Thursday, January 28, 2021

72 वें गणतंत्र दिवस के अवसर में राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं सोशल जस्टिस ने समाजसेवी संगठनों को सम्मानित किया

आसनसोल : आसनसोल स्थित माहिशिला कॉलोनी के बैशाखी मैरेज हॉल में मंगलवार को रास्ट्रीय मानवाधिकार एवम शोसल जस्टिस द्वारा भारत के 72 वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर पश्चिम बर्दवान जिला के विभिन्न समाजसेवी संगठनों सहित विशिष्ट व्यक्तियो को  सम्मानित किया गया । साथ ही जरूरतमंद लोगों को कम्बल एवम छात्र छात्राओं को पाठ्य सामग्री वितरण किया गया । 

कार्यक्रम का शुभारंभ नेशनल ह्यूमन राइट्स एवम शोसल जस्टिस कमीशन के रास्ट्रीय सचिव सेवक बनर्जी द्वारा 

ध्वजारोहण के बाद दीप प्रज्ज्वलित कर  किया गया । 

    समारोह के दौरान पश्चिम बर्दवान जिला के ख्यातिप्राप्त समाजसेवी संगठन कुल्टी मदद फाउंडेशन के महासचिव रवि शंकर चौबे को

समाजसेवा के क्षेत्र में विशिष्ट योगदान के लिए नेशनल ह्यूमन राइट्स एंड शोसल जस्टिस कमिशन के राष्ट्रीय सचिव सेवक बनर्जी द्वारा मानपत्र एवम मोमेंटो देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के दौरान नेशनल ह्यूमन राइट्स एंड शोसल जस्टिस के जिला एवं राज्य स्तरीय सदस्यों को नियुक्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया । इस अवसर पर स्कूली छात्र छात्राओं द्वारा देशभक्ति सांस्क़ृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया । इस अवसर पर लगभग दो सौ जरूरतमंदों महिला एवम पुरुषों को  ठंड से बचने के लिए वस्त्र वितरण किया गया । साथ ही समाज मे शिक्षा के विकाश को बढ़ावा देने  के लिए लगभग 100 स्कूली बच्चों को शैक्षणिक सामग्री,  स्कूल बैग, पुस्तक एवम खाद्य सामग्री प्रदान की गई । इस अवसर पर संस्था द्वारा समाज को जागरूक करने और असहाय लोगों के मदद करने के लिए जागरूकता कार्यक्रम आयोजित की गई । इस अवसर पर समाज के वैसे परिवार के साथ खड़े होने के साथ समाज के जरूरतमंद पुरुषों, महिलाओं और बच्चों तक राज्य मानवाधिकार और सामाजिक न्याय आयोग ने शोषित और वंचित पीड़ितों के लिए उनके साथ खड़े होने का संकल्प लिया है। इस अवसर पर

नेशनल ह्यूमन राइट्स एंड शोसल जस्टिस कमिशन के राष्ट्रीय सचिव सेवक बनर्जी, महिला सेल की इंचार्ज इंद्राणी गुप्ता, सैकत बोस एवम चैताली राय सहित क्षेत्र के गणमान्य व्यक्ति, शिक्षक, चिकित्सक, प्रशासनिक अधिकारी सहित गणमान्य व्यक्ति और सामाजिक कार्यकर्ता विशेष रूप से उपस्थित थे । कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान के साथ किया गया।

No comments:

Post a Comment