विज्ञापन

विज्ञापन

Monday, January 11, 2021

उत्तर प्रदेश चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी महासंघ ने अपनी मांगो को लेकर बीएसए आफिस के सामने धरना दिया

रायबरेली ब्यूरो ।। शिक्षा विभाग में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की समस्याओ को लेकर उत्तर प्रदेश चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी महासंघ के बैनर तले धरने का आयोजन किया गया। धरने के सम्बन्ध में महासंघ के प्रांतीय अध्यक्ष राज कुमार चौधरी ने बताया कि बेसिक शिक्षा विभाग के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों से समय से ज्यादा 14 से 18 घंटे तक काम लिया जा रहा है । कर्मचारियों को नियत काम की बजाय अन्य कामों में लगाया जाता है, कर्मचारियों से जबरन रात्रि में चौकीदारी करवाई जाती है तथा कुछ कर्मचारी जो तीन साल पहले सेवानिवृत्त हो गए है उनके समस्त देयकों का आज तक भुगतान नही हुआ है। इस सम्बन्ध में बेसिक शिक्षा अधिकारी से कई बार शिकायत की जा चुकी  है लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला, मजबूरन आज महासंघ को यहाँ धरना देना पड़ रहा है। धरना शुरू होने के बाद बेसिक शिक्षा अधिकारी की ओर से बातचीत का प्रस्ताव आया जिसमे आगामी 13 तारीख को अपराह्न 4 बजे बातचीत को बुलाया गया है। महासंघ ने बातचीत के प्रस्ताव का स्वागत किया है और कहा है कि बैठक में अपनी चार मांगो  को लेकर जाएंगे जिनमे चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी से पदनुसार काम, ड्यूटी का समय आठ घंटे निर्धारित करना, कर्मचारियों से चौकीदारी का काम न लेना तथा कर्मचारियो के समस्त देयकों का भुगतान शामिल है। यदि 13 तारीख की बातचीत में कोई हल न निकला तब 14 तारीख से धरना प्रदर्शन पुनः शुरू किया जायेगा।


No comments:

Post a Comment