एमपी किसान एप से खेती-किसानी संबंधी विभिन्न जानकारियां प्राप्त कर सकते हैं किसान

शिवपुरी, 01 जनवरी 2021/ मध्यप्रदेश शासन द्वारा किसानों की सुविधा के लिये एमपी किसान एप प्रारंभ किया गया है। इसके माध्यम से किसान खेती-किसानी संबंधी विभिन्न जानकारियां प्राप्त कर सकते है। साथ ही किसानों को अन्य सुविधाएं भी इस एप के माध्यम से प्राप्त होंगी। यह एप राज्य शासन के एमपीआईटी विभाग द्वारा कृषि विभाग के लिये बनाया गया है।

    एमपी किसान एप में किसानों को अपनी फसल बेचने के लिये ई-उपार्जन संबंधी आवेदन करने की सुविधा दी गई है। साथ ही फसल गिरदावरी की सुविधा भी है। फसल गिरदावरी किसानों द्वारा उगाई गई फसलों को भू-अभिलेख में दर्ज करने की प्रक्रिया है, जो वर्ष में न्यूनतम दो बार खरीफ एवं रबी में की जाती है। बाई हुई फसल भू-अभिलेख में स्व-घोषणा के माध्यम में दर्ज की जा सकती है। कृषकों हेतु आदान उपलब्धता एवं नजदीकी वितरकों की जानकारी भी इस एप में है। साथ ही एप के माध्यम से सीमांकन एवं स्थल का नक्शा जीपीएस के माध्यम से भी स्थल को रेखांकित कर सकते हैं। यह ऐप पटवारी, राजस्व निरीक्षक, एवं राजस्व अधिकारियों के लिए बहुत ही उपयोगी है स फसल स्व-घोषणा, गिरदावरी, ई उपार्जन, एमपी किसान, खसरा बी-वन की प्रतिलिपि, सोलर पंप, बाजार भाव, मौसम संबंधी जानकारी, कृषि योजनाएं, बीज कृषि उर्वरक एवं कीटनाशक आदि को समाविष्ट किया गया है स यह एप राजस्व अधिकारियों के लिये भी उपयोगी है। इसमें विभाग के अधिकारियों के अलावा किसानों, विक्रेताओं, सोसायटी आदि को लॉगइन करने की सुविधा दी गई है।

Comments

Popular posts from this blog

सकारात्मक अभिवृत्ति

तुम मेरी पहली और आखरी आशा

बस और टेंपो की जोरदार टक्कर में 16 की मौत, कई लोग घायल