विज्ञापन

विज्ञापन

Monday, January 11, 2021

हुआ क्या है

हमारे वतन  को    हुआ    क्या है ?

दमघोंटू  चुप्पियों में  छुपा  क्या है ?

जिधर देखिए   बस  लूट-खसोट

नफ़रत का   धुआं-धुआं   क्या है ?


शासन से सवाल  क्यूं नहीं पूछते
डर है, दहशत है औ क्या-क्या है ?


अपनी धनक में  जो भूले हैं देश
सत्ता का  ऐसा  भी  नशा क्या है ?


बेरुखी का नूर उनके चेहरे पर है
ऐसी जम्हूरियत का  गुमां क्या है ?


रियाया  मरती है मरे,  फर्क नहीं
फिर अमन-चैन की दुआ क्या है ?


शेर के बच्चों,दहाड़ना मत भूलो
अमां यार  ये  हुआं-हुआं क्या है ?


जो जीत न पाए  प्रजा का दिल
बता "वंदन",  ऐसा राजा क्या है ?

No comments:

Post a Comment