विज्ञापन

विज्ञापन

Friday, January 29, 2021

डी.एम. की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई जल जीवन मिशन कार्यक्रम की समीक्षा बैठक

ब्यूरो चीफ शिवकुमार गुप्ता

बहराइच ग्रामीण क्षेत्रों में प्रत्येक व्यक्ति को उनकी मूलभूत आवश्कताओं के अनुरूप समुचित मात्रा में शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा ‘‘जल जीवन मिशन कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। जिसके अन्तर्गत ग्रामीण समुदाय हेतु नियमित रूप से पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित की जानी है। आम जन-मानस को पेयजल की उपलब्ध के दृष्टिगत यह भी सुनिश्चित किया जायेगा कि पेयजल योजनाएं अपने जीवनकाल (डिज़ाइन पीरियड) तक समुचित सेवा उपलब्ध करायें तथा पेयजल की गुणवत्ता मानक के अनुरूप हो। पेेयजल एवं स्वच्छता विभाग, जल शक्ति मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों के अनुरूप जल जीवन मिशन को क्रियान्वित करने के उद्देश्य से कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला पेयजल एवं स्वच्छता मिशन समिति की बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी शम्भु कुमार ने पाइप पेयजल योजना के कार्यो के त्वरित सम्पादन हेतु सूचीबद्ध फर्म मै. पी.एन.सी. इन्फ्राटेक लि. एण्ड एस.पी.एम.एल. जे.वी.पी.एन.सी. टाॅवर के प्रतिनिधि पंकज को निर्देश दिया कि जनपद में यशाशीघ्र कार्यालय स्थापित करते हुए पूर्व निर्मित पाइप पेयजल योजनाओं के (88नग) पुर्नगठन, गुणवत्ता प्रभावित 138 ग्रामों सहित कुल 864 ग्रामों अविलम्ब कार्य प्रारम्भ करा दें। जिलाधिकारी ने जल निगम व लघु सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि प्रत्येक सप्ताह योजना के प्रगति की समीक्षा की जाय तथा शासनादेश में दी गयी व्यवस्था के अनुसार क्रियाशील गृह जल संयोजनों की स्थापना हेतु टाइम लाइन सेट किया जाय। श्री कुमार ने यह भी निर्देश दिया परियोजना के लिए भूमि की उपलब्धता के सम्बन्ध में भी समय से कार्यवाही पूर्ण की जाय। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी कविता मीना, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ. राजेश मोहन श्रीवास्तव, अधि.अभि. जल निगम सौरभ सुमन, सहायक अभियन्ता लघु सिंचाई मंशाराम मौर्य सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी व सूचीबद्ध फर्म के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment