विज्ञापन

विज्ञापन

Saturday, January 30, 2021

चेहराकला का एक परिवार निशुल्क शिक्षा प्रदान कर क्षेत्र का नाम कर रहे हैं रौशन

चेहराकलां( वैशाली)संवाद सूत्र,दैनिक अयोध्या टाइम्स। चेहरा कलां महुआ वैशाली अंतर्गत ग्राम शाहपुर खुर्द में स्थापित अब्दुल कैयूम अंसारी उर्दू लाईब्रेरी शाहपुर खुर्द के द्वारा चलाए जा रहे नि: शुल्क उर्दू एवं हिंदी भाषा की पढ़ाई करने वाले छात्र एवं छात्राओं को दिया गया अलविदाईया। सुतरों के अनुसार लाइब्रेरी द्वारा 20 वर्ष पूर्व से लाईब्रेरी के संस्थापक स्वर्गीय श्री सुफी मोहम्मद नौशेरवां आदिल के पुत्र श्री एजाज आदिल एवं इम्तियाज आदिल एवं बहु शबाना फिरदौस इस कार्य को अपना धर्म समझ कर बचों को शिक्षा दिक्षा देतें हैं ताकि समाज के बच्चे उर्दू एवं हिंदी भाषा की जानकारी प्राप्त कर जीवन के साथ समाज को उज्जवल कर सके ।इस मौके पर उपस्थित छात्र एवं छात्राओं से श्री आदिल ने बातचीत में पुछा कि शिक्षा जीवन में क्यूं आवश्यक है जहां छात्र वामिक रजा उर्फ मोहम्मद चांद, मोहम्मद रेयाज, मोहम्मद समीर, मोहम्मद नेहाल , मोहम्मद अबरेज , एवं छात्रा निकहत प्रवीण, हेना कौसर ,नुसरत जहां,रूबीना खातून,मोबशशरा खातून,नाहीद प्रवीण ने अपने उत्तर में कहा कि जिस तरह स्वच्छ जीवन के लिए स्वच्छ पर्यावरण की आवश्यकता होती है उसी तरह एक मनुष्य को सही जीवन बिताने के लिए सही शिक्षा की आवश्यकता होती है इसलिए कि शिक्षा के बिना मनुष्य का जीवन अंधकारमय है इन के अलावा फरजाना खातून,हेना प्रवीण, आफ़रीन प्रवीण,ताजमीन खातुन, जासमीन खातुन, शम्मा प्रवीण, रुखसाना खातून, सानिया मिर्जा, गज़ाला प्रवीण, यास्मीन प्रवीण,मंतशा खातून, इत्यादि ने अपने पूज्य गुरुदेव को अच्छी शिक्षा दिक्षा देने पर भगवान से लम्बी आयु प्रार्थना की ।

No comments:

Post a Comment