विज्ञापन

विज्ञापन

Saturday, January 2, 2021

नववर्ष पर अधिवक्ताओं ने की गोष्ठी, बार बेंच के मध्य विवाद खत्म

अयोध्या टाइम्स बहराइच जिला संवाददाता सूरज कुमार त्रिवेदी के साथ मनोज अवस्थी

नानपारा, बहराइच। तहसील नानपारा अंतर्गत नववर्ष 2021 के उपलक्ष्य में अधिवक्ता संघ के सदस्यों ने एक दूसरे को बधाई दी और नौ दिन से चले आ रहे बार व बेंच के मध्य विवाद को खत्म होने की घोषणा संघ के अध्यक्ष जवाहर लाल वर्मा द्वारा की गई।
नाव वर्ष के अवसर पर अधिवक्ता संघ कक्ष में अधिवक्ताओं द्वारा उत्सव मनाया गया और विचार गोष्ठी भी आयोजित की गई। अध्यक्षता वरिष्ठ कमेटी के चेयरमैन रामादल वर्मा ने की, संचालन रूप नारायण जायसवाल ने किया। इस दौरान वरिष्ठ अधिवक्ताओं में रामादल वर्मा, जगदंबा प्रसाद श्रीवास्तव, सुरेश चंद्र गुप्ता, चतुर्भुज सहाय, राम विनोद सिंह आदि का माला पहनाकर और अंग वस्त्र देते हुए स्वागत और सम्मान किया गया। उसके बाद अध्यक्ष जी ने बताया कि तहसील नानपारा में बार व बैंच के मध्य विगत नौ दिनों से चल रहे विवाद पर करीब दो घण्टे चली वार्ता में सकारात्मक परिणाम आये हैं। उपजिलाधिकारी सूरज पटेल व तहसीलदार अमर चन्द्र वर्मा के विरुद्ध की जा रही हड़ताल को वापस लिया जाता है और सोमवार से अदालती कार्य पुनः शुरू कर दिए जाएंगे।
आपको अवगत करा दें कि 23 दिसंबर को नवागत प्रशिक्षु आईएएस उपजिलाधिकारी नानपारा सूरज पटेल द्वारा तहसील अधिवक्ता एसोसिएशन नानपारा अध्यक्ष जवाहर लाल वर्मा से अशिष्ट व्यवहार एवं तहसीलदार न्यायालय पर व्याप्त अनियमितता का मामला दिन पर दिन तूल पकड़ रहा था, जिस पर वृहस्पतिवार को उपजिलाधिकारी की ओर से सकारात्मक पहल करते हुये अधिवक्ताओं को वार्ता के लिये ससम्मान आमंत्रित किया गया। अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष जवाहर लाल वर्मा एवं महासचिव निर्मल कुमार श्रीवास्तव के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल ने संबंधित विषयों पर वार्ता की। अधिवक्ताओं के प्रतिनिधि मंडल द्वारा अपनी बातें रखने पर उपजिलाधिकारी श्री पटेल ने अपने किये अशिष्ट व्यवहार के लिये खेद प्रकट किया और भविष्य में इसकी पुनरावृत्ति न होने का विश्वास दिलाया। इसके अलावा तहसीलदार न्यायालय पर व्याप्त अनियमितताओं के विषय पर भी उन्होंने बेहतर सुधार लाने का आश्वासन दिया। महासचिव निर्मल कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि करीब दो घण्टे चली वार्ता में बार व बैंच के मध्य सामंजस्य स्थापन के पूरे संकेत मिले, जिस पर अधिवक्ता संघ सदन की बैठक में कार्य बहिष्कार खत्म करने का निर्णय लिया गया है ताकि आमजन एवं वादकारियों की समस्याएं शीघ्र कम हो सकें। नववर्ष पर अयोजित गोष्ठी में रजनीकांत मिश्रा, सुंदर लाल आर्य, वेद प्रकाश त्रिपाठी, बंश गोपाल जायसवाल, ध्यान प्रकाश श्रीवास्तव, सन्दीप मिश्रा आदि अधिवक्ताओं ने अपने स्वतंत्र विचार रखते हुए काव्य रचनाएं भी प्रस्तुत कीं और एक दूसरे के लिये मंगल कामना की।

No comments:

Post a Comment