विज्ञापन

विज्ञापन

Sunday, February 28, 2021

आदि विम्ब महोत्सव में आदिवासी गीत नृत्य की थीम


सहरसा (बिहार)ब्यूरो चीफ,दैनिक अयोध्या टाइम्स

रविवार को कला ग्राम,मत्स्यगंधा झील (उत्तर)में कला संस्कृति एवं युवा विभाग, बिहार के सहयोग से तथा स्थानीय  बटोरी संस्था  सहरसा के द्वारा "आदि विम्ब महोत्सव "का आयोजन हुआ। इस महोत्सव का उद्घाटन डा0आलोक रंजन, काबीना मंत्री, कला संस्कृति एवं युवा विभाग, बिहार के हाथों दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस अवसर पर देश के विभिन्न भागों के कलाकार आदिम नृत्य गीत कला का प्रदर्शन किया। इस दो दिवसीय महोत्सव में प्रयाग, इलाहाबाद से अतुल द्विवेदी, कार्यक्रम पदाधिकारी,सोमनाथ यादव,पूर्व अध्यक्ष राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग, छत्तीसगढ, आसाम के हेमंत रांभा, झारखंड के जीत राय हांसदा को आदिवासी कलामित्र सम्मान स्मृति चिन्ह एवं अंग वस्त्र माननीय मंत्री द्वारा किया गया। पूरे महोत्सव के कलारूपों की परिकल्पना फीजी के सांस्कृतिक राजदूत डा ओम प्रकाश भारती ने की है।डा भारती पूर्वोत्तर क्षेत्रीय सांस्कृतिक केन्द्र कोलकता के निदेशक रहते हुए आदिवासी संस्कृति संरक्षण के लिए काफी कार्य कर चुके हैं।

कलाकारों की अलग अलग टीम प्रस्तुतियों से प्रभावित होकर मंत्री डा0आलोक रंजन ने अपने संबोधन में कहा-मैं ऐसी छुपी हुई वनवासी सांस्कृतिक विरासत को संरक्षित करने में जो भी मदद होगी कला संस्कृति विभाग, बिहार से देने का विश्वास दिलाता हूँ। 

इस महोत्सव में राजनीतिक कार्यकर्ताओं के साथ विभिन्न विधा के कलाकार व साहित्यकार  भी उपस्थित हुए जिसमें रंगकर्मी बिहार राज्य इप्टा के उपाध्यक्ष राजन कुमार, सुधांशु कुमार, कथाकार कवि मुक्तेश्वर मुकेश, विनय कसोधन, इप्टा तथा रंग संयोजक हरिशंकर गुप्ता, बेगूसराय मुख्य हैं।01मार्च को परिचर्चा में कला मर्मज्ञ हिस्सा लेंगे।

No comments:

Post a Comment