पेयजल नही तो मतदान नही, ग्रामीणों ने किया सड़क जाम

बाराबनी : बाराबनी विधानसभा क्षेत्र के मझियाड़ा गांव के निवासी वर्षों से पानी की किल्लत से जूझ,अलबत्ता बिधानसभा चुनाव को हथियार के रूप में इस्तेमाल करते हुए ग्रामीणों ने सोमवार को कल्ला-दोमोहानी मुख्य मार्ग को अवरुद्ध। स्थानीय लोगों ने सड़क पर खाली बाल्टी लेकर '' पेयजल नहीं तो वोट नहीं'' का नारा लगाते हुए विरोध प्रदर्शन किया। आन्दोलन के कारण घंटो सड़क जाम रहा, सड़क की दोनों और वाहनों की लंबी कतार लग गई, सड़क जाम के दौरान वाहन चालकों के साथ स्थानीय लोगों का नोक झोंक के साथ हाथापाई भी हो गई। ग्रामीणों ने कहा कि बीते कई वर्षों से हमारे गांव में पीने की पानी की कोई भी व्यवस्था नहीं है, गांव के लोग पेयजल के लिए दूसरे गांव जाते है। राज्य में सत्ता परिवर्तन के बाद भी अबतक पेयजल समस्या का समाधान नहीं हो सका, ग्रामीणों ने कहा कि क्षेत्र के विधायक विधान उपाध्याय को भी कई बार पेयजल समस्या को लेकर गुहार लगाई गई है, किन्तु कोई समाधान नहीं हुआ। गांव में पेयजल की एक भी नल नहीं है। सूचना पा कर पहुँचे ग्राम पंचायत सदस्य को भी ग्रामीणों के कोपभाजन का शिकार होना पड़ा, तथा जमकर विरोध किया। पंचायत सदस्य ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि आगामी तीन दिनों के भीतर पानी की समस्या दूर कर दिया जाएगा। ग्रामीणों ने कहा यदि तीन दिन के भीतर पानी की समस्या दूर नहीं हुई तो वे लोग इससे भी बड़ा आंदोलन करने को बाध्य होंगे साथ ही जबतक पेयजल उपलब्ध नही होता तब तक हमलोग मतदान नही करेंगे। सकारात्मक अस्वासन के बाद ग्रामीणों ने सड़क जाम हटा लिया।

Comments

Popular posts from this blog

सकारात्मक अभिवृत्ति

Return टिकट तो कन्फर्म है

प्रशासन की नाक के नीचे चल रही बंगाली तंबाकू की कालाबाजारी, आखिर प्रशासन मौन क्यों