94 वें जन्मोत्सव पर अटल जी को स्मरण किया

*अटल जी विनम्रता, लोकप्रियता,मिलनसारिता की प्रतिमूर्ति थे -राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल आर्य*

गाजियाबाद,शनिवार 25 दिसम्बर 2021,केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के तत्वावधान में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी को उनके 94 वें जन्मदिन पर श्रद्धांजलि अर्पित की गई। 
उल्लेखनीय है कि 25 दिसम्बर 1924 को ग्वालियर में हुआ था।
केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल आर्य ने कहा कि श्री अटल जी भारत के सर्वाधिक लोकप्रिय,विनम्र, मिलनसार व्यक्तित्व के धनी प्रधानमंत्री रहे।वह कवि ह्रदय, पत्रकार,लेखक दयालु व भावुक थे।राष्ट्रीय मोर्चे पर कारगिल युद्ध में उनके कुशल नेतृत्व में विजय प्राप्त की व पोखरण में परमाणु परीक्षण कर भारत की शक्ति का विश्व पटल पर परिचय भी दिया। वह तीन बार प्रधानमंत्री बने।वह बहुत अच्छे वक्ता थे देर रात तक उनका भाषण सुनने के लिए लोग आतुर रहते थे।उन्होंने केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के प्रधानमंत्री निवास पर आयोजित कार्यक्रम में घोषणा की थी भारत किसी दबाव में नहीं झुकेगा व सीटीबीटी पर हस्ताक्षर नहीं होंगे।आज अटल जी के जीवन से प्रेरणा लेने का दिन है।वह भारतीय राजनीति के अजातशत्रु रहे ।
राष्ट्रीय मंत्री प्रवीण आर्य ने प.मदनमोहन मालवीय जी के जन्मदिन पर शुभकामनाएं देते हुए उनके पदचिन्हों पर चलने का आह्वान किया।
वैदिक विद्वान आचार्य सत्यवीर शर्मा,ओम सपरा वैध प्रदीप कटारिया,शैलन जगिया,देवेन्द्र भगत,आचार्य महेंद्र भाई,डॉ विपिन खेड़ा,राजेश मेहंदीरत्ता ने भी श्रद्धासुमन अर्पित किये।
गायक रविन्द्र गुप्ता,नरेंद्र आर्य सुमन,दीप्ति सपरा,रजनी गर्ग, रजनी चुघ,बिंदु मदान,सरोज शर्मा,सुदेश आर्या,प्रवीना ठक्कर आदि के मधुर भजन हुए।
भवदीय,
प्रवीण आर्य,

Comments

Popular posts from this blog

सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ की जन्म कुण्डली जानिये : पं0 सुधांशू तिवारी

राघोपुर में बिजली चोरी करते पकड़े गए 11 लोग जेई ने दर्ज कराई प्राथमिकी

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमन्त्री केशव प्रसाद मौर्य की जीवन कुण्डली : पं. सुधांशु तिवारी के साथ