विज्ञापन

विज्ञापन

Monday, January 18, 2021

जनता से ज्यादा सरकारी संस्थाओं के करोड़ो का बिजली बकाया, नही हो पा रही वसूली


संवाददाता सुनील कुमार अमेठी : जनता के अलावा अमेठी के 20 सरकारी दफ्तरों पर बिजली बिल के 13.52 करोड़ बकाया। क्षेत्र के 20 सरकारी विभागों पर 13.52 करोड़ रुपये का विद्युत बिल बकाया है। इसमें जल निगम पर सर्वाधिक 10.06 करोड़ तो प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों पर 1.97 करोड़ रुपये की देनदारी है। पावर कॉरपोरेशन की ओर से प्रतिमाह विद्युत बिल भेजने के बावजूद भुगतान नहीं हो रहा है।


विद्युत वितरण खंड द्वितीय क्षेत्र में जिला विद्यालय निरीक्षक के पांच कनेक्शन पर 54,418 रुपये, कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय के चार कनेक्शन पर तीन लाख 45 हजार, जिला समाज कल्याण अधिकारी कार्यालय पर 36,480 रुपये, फायर स्टेशन पर चार लाख 57 हजार रुपये बकाया है।

फल संरक्षण अधिकारी कार्यालय पर 26,579 रुपये, उप क्रीड़ा अधिकारी कार्यालय पर 41,576 रुपये, सरकारी अस्पतालों पर 39 लाख 18 हजार रुपये, तहसीलदार दफ्तर पर दो लाख 32 हजार रुपये, लोक निर्माण विभाग के दो कनेक्शन पर 46,524 रुपये, जल निगम के अधिशाषी अभियंता के आठ कनेक्शन के सापेक्ष सर्वाधिक 10 करोड़ छह लाख 77 हजार रुपये, सीडीओ के चार कनेक्शन के सापेक्ष 46,874 रुपये, जिला वन अधिकारी के दो कनेक्शन के सापेक्ष 72,300 रुपये, एसपी के पांच कनेक्शन पर 28 लाख 69 हजार रुपये, पशुधन अधिकारी के एक कनेक्शन पर दो लाख दो हजार रुपये, बीएसए पर 74 कनेक्शन के सापेक्ष एक करोड़ 49 लाख 35 हजार रुपये, प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालय के 74 कनेक्शन पर 48 लाख 19 हजार रुपये (चार अप्रैल 2018 से स्कूलों का बिजली बिल जमा करने के लिए शासन ने पंचायतीराज विभाग को आदेश दिया था) का बिल बकाया है।

ग्रामीण पेयजल के तीन कनेक्शन पर 56 लाख 74 हजार रुपये, सब रजिस्ट्रार कार्यालय पर दो लाख 33 हजार रुपये, जिला कृषि अधिकारी पर पांच लाख 16 हजार रुपये, प्रभारी अधिकारी राजकीय पौधशाला पर 29,130 रुपये बिल के बकाया हैं। 

अधिशासी अभियंता छैल बिहारी ने बताया कि प्रतिमाह सभी कार्यालयों को बकाया भुगतान के लिए बिल दिया जा रहा है। बावजूद इसके बिल का भुगतान नहीं हो रहा है। भुगतान नहीं होने की दशा में कनेक्शन काटने पर बाध्य होना पड़ेगा। इस संबंध में सभी विभागाध्यक्षों को पत्र भेजा जा रहा है।

No comments:

Post a Comment