विज्ञापन

विज्ञापन

Tuesday, January 12, 2021

सड़क में जगह - जगह गढ्ढे, राहगीर होते हैं परेशान

वर्ष पूर्व बने मार्ग का हाल है बेहाल, न ही सड़क हुई गड्ढा मुक्त और न ही हुआ सड़क का नवीनीकरण


प्रतापगढ़।सूबे के मुखिया ने स्पष्ट आदेश दिया था कि सूबे की सभी सड़कों को गढ्ढामुक्त कर दिया जाएगा किन्तु जनपद में कई ऐसी सड़कें हैं जो आज भी गढ्ढामुक्त नही हो सकी हैं उन्ही में से एक है घुइसरनाथ हाइवे से सटे नौबस्ता गांव को जोडने वाली सड़क जो आज भी दुर्दशा का शिकार है जिससे मार्ग से आवागमन करने वाले राहगीर अक्सर गिरकर चुटहिल होते रहते हैं। वहीं गांव के बच्चों को भी पढ़ाई के लिए यातायात के संसाधन को लिए कठिनाई का सामना करते देखा जाता है । यह सड़क सिर्फ नौबस्ता ही नही अपितु समीप के अन्य चार - पांच गांवों को जोड़ती है बावजूद इसके तीन सालों से जर्जर गढ्ढायुक्त सड़क से आवागमन करना इलाकाई लोगों की मजबूरी बन गई है। सूत्रों के मुताबिक यह सड़क जिला पंचायत द्वारा पिच कराई गई थी लेकिन बनने के बाद बड़ी मुश्किल से एक ही साल में ही इस पर जगह - जगह गढ्ढे बन गये। हल्की सी बरसात में रास्ते का तो और बुरा हाल हो जाता है। यह सड़क नौबस्ता गांव के निवासियों के लिए सुगम मार्ग हैं तो है ही साथ ही यह सड़क कमयनपुर, पद्माकरपुर, भगतपुर, सरायसेतन, मीतन का पुरवा आदि कई गांव के राहगीरों के लिए सुगम मार्ग है। स्थानीय लोगों व रहागीरों की मानें तो उन लोगों ने कई बार जिम्मेदारों से मामले को लेकर फरियाद किया बावजूद इसके आज तक इस मार्ग को न तो गढ्ढामुक्त किया गया और न ही सड़क का नवीनीकरण ही किया गया ।

No comments:

Post a Comment