विज्ञापन

विज्ञापन

Saturday, January 16, 2021

एसएफआई डीवाईएफआई की ओर दो दिवसीय हुंकार रैली

नियामतपुर : कुल्टी को बचाने के लिए एसएफआई, डीवाईएफआई युवा संगठन की ओर से सात सूत्री मांगों को लेकर शनिवार को दो दिवसीय हुंकार रैली का आयोजन किया गया।     नियामतपुर स्थित माकपा पार्टी कार्यालय से रैली प्रारम्भ हुइ। जो लक्षिपुर होते हुए सीतारामपुर के रास्ते चलबलपुर, बोडरा, होकर ऊपर कुल्टी, रंचिग्राम, रामनगर, मंबनड़िया होकर बराकर बैगुनिया में रात्रि विश्राम ठहराव किया गया। इस दौरान प्रत्येक मोहल्लों से गुजरती रैली में नुक्कड़ सभा का भी आयोजन किया गया। रविवार को रैली सुबह बराकर से प्रारम्भ होकर कुल्टी रानितलाब, श्रीपुर मोड़ पर सभा करते हुए नियामतपुर न्यू रोड में समाप्त होगी। इस हुंकार रैली का नेतृत्व डीवाईएफआई की राज्य अध्यक्ष मीनाक्षी मुखर्जी, डीवाईएफआई के जिला उपाध्यक्ष बिनोद सिंह ने किया। हुंकार रैली में शामिल कुल्टी की जनता एवं युवाओ के प्रति सात मांगों को लेकर राज्य अध्यक्ष मीनाक्षी मुखर्जी ने पश्चिम बंगाल राज्य सरकार और केंद्रीय सरकार पर हमला करते हुए बताया कि विगत दस वर्षों के बाद भी सभी को डिजिटल रासन कार्ड क्यो नही मिला। प्रत्येक नागरिक को डिजिटल रासन कार्ड देने की मांग की। लोक डाउन में बिजली बिल में कटौती के साथ पश्चिन बंगाल में बिजली बिल सबसे अधिक क्यो। महीने के बिजली बिल को महीने में ही लेना होगा। बराकर, कुमारडीहा स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सा व्यवस्था को दुरुस्त करने के साथ इनके विकास की मांग रखी। लोक डाउन में निजी स्कूल द्वारा ली जा रही फी को माफ करना होगा। वही राज्य सरकार को स्कूल की होल्डिंग टैक्स को माफ करना शामिल था। स्थानीय युवाओ को काम चाहिए उद्योग चाहिए, स्थानीय उधोग में बेकार युवाओ को नियुक्ति करनी होगी। क्षेत्र में पुलिस द्वारा सड़क पर खड़े होकर घूसखोरी को अविलंब बन्द करना होगा। क्षेत्र में अवैध शराब गांजा, ड्राक्स काटी जैसे असामाजिक कार्य पनप रहे है। जिसपर भी अंकुश लगाना होगा

No comments:

Post a Comment